Connect with us

नेशनल

भव्य कुंभः आलीशान बंगले से भी ज्यादा लग्जरी हैं श्रद्धालुओं के लिए बने टेंट, कीमत वेज थाल जितनी!

Published

on

लखनऊ। 14 जनवरी से कुंभ का महापर्व उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शुरू होने जा रहा है। कुंभ को सफल बनाने के लिए प्रदेश की योगी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रही है इस बात को ध्यान में रखते हुए मेले से पहले प्रयागराज को टेंट सिटी में बदल दिया गया है।

कुंभ 2019 को लेकर चल रही इस जबरदस्त तैयारी को देखकर यह कहा जा सकता है कि इस बार पर्यटकों को बिल्कुल अनोखा अनुभव मिलने वाला है। कुंभ मेले में श्रद्धालुओं के ठहरने की व्यवस्था के लिए 50 करोड़ की लागत से टेंट सिटी बनाई गई है जिसमें लोगों को वर्ल्ड क्लास सुविधाएं मिलेंगी।

कुंभ में इस बार विदेशी पर्यटकों को ध्यान में रखकर उनके लिए कई लग्जरी टेंट बनाए गए हैं। इनमें किसी लग्जरी होटल जैसी सुख सुविधाएं मिलेंगी। सभी लग्जरी टेंटो में टॉयलेट, टीवी, वाई-फाई जैसी सारी आधुनिक सुविधाएं मौजूद हैं।

कुंभ मेले की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, 4 टेंट सिटी बसाई गई हैं जिनके नाम कल्प वृक्ष, कुंभ कैनवास, वैदिक टेंट सिटी, इन्द्रप्रस्थम सिटी हैं।

 

टेंट सिटी में 600 रुपए से लेकर 40,000 रुपए तक के टेंट उपलब्ध हैं। टेंट सिटी में डॉरमेटरी के साथ-साथ लग्जीरियस विला भी बनाए गए हैं जिनकी कीमत भी ज्यादा है।

अरैल में इंद्रप्रस्थ द्वारा बनाए जा रहे इस टेंट सिटी में फाइव स्टार होटल की तरह की सुविधाएं मिलेंगी। इन टेंट में एक रात बिताने के लिए आपको मोटी रकम खर्च करनी पड़ेगी।

टेंट सिटी के लग्जरी विला में एक रात बिताने के लिए आपको 32-40 हजार रुपए तक खर्च करने होंगे।

इन टेंट की कीमत ज्यादा है लेकिन सुविधाएं भी कुछ कम नहीं हैं। महाराजा टेंट की थीम पर इन सभी टेंट के कमरों में आरामदायक बेड, बैठने के लिए कुर्सी और सोफा, साफ सुथरा बड़ा बाथरूम और गर्म पानी के लिए बाथरूम में गीजर भी मुहैया कराया जाएगा।

 

 

नेशनल

चैनल पर डिबेट के दौरान बार-बार सीने पर हाथ रख रहे थे राजीव त्यागी, पत्नी को हो गया था शक

Published

on

नई दिल्ली। कांग्रेस के तेजतर्रार प्रवक्ता राजीव त्यागी का बुधवार को अचानक दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। बुधवार को ही शाम पांच बजे वो अपने घर से ही आजतक के कार्यक्रम में एक डिबेट में शामिल हुए थे। जानकारी के मुताबिक, जिस वक्त राजीव डिबेट में होते थे, उस वक्त उनके कमरे में कोई भी नहीं जाता था।

बुधवार को जब वह डिबेट में चर्चा कर रहे थे, उसी वक्त पड़ोस के कमरे में उनकी पत्नी संगीता और बेटा धनंजय भी टीवी पर उन्हें देख रहे थे। टीवी पर उन्हें बार-बार पानी पीते और सीने पर हाथ लगाते देख उन्हें कुछ शक हुआ। इसके बाद डिबेट खत्म होने के चंद सेकंड बाद ही जब वो राजीव के कमरे में गईं तो उन्होंने कहा कि मुझे कुछ असहज महसूस हो रहा है। इसके बाद वो कुर्सी से जमीन पर गिर पड़े। उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

डॉक्टर ने कहा कि ‘उन्हें शाम को करीब साढ़े छह बजे हॉस्पिटल लाया गया। उनका ब्लड प्रेशर और पल्स नहीं था। हमनें उन्हें तुरंत सीपीआर दिया। वेंटिलेटर पर रखा गया। 45 मिनट तक उन्हें सीपीआर दिया गया। मगर उन्हें बचाया नहीं जा सका। राजीव त्यागी के अचेत होने के बाद उन्हें यशोदा हॉस्पिटल में ही भर्ती कराया गया था।

#rajivtyagi #aajtak #debate #death

Continue Reading

Trending