Connect with us

प्रादेशिक

मप्र में रेत माफिया का सफाया होना चाहिए : झा

Published

on

मध्य प्रदेश, पुलिस, भारतीय जनता पार्टी, प्रभात झा, सीबीआई,

भोपाल| मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में रेत के अवैध परिवहन कर रहे डंपर को रोकने की कोशिश में पुलिस जवान धर्मेद्र सिंह चौहान की मौत को दुखद करार देते हुए भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि राज्य से रेत माफियाओं का सफाया होना चाहिए। राजधानी भोपाल प्रवास पर आए झा ने सोमवार को  चर्चा करते हुए कहा कि धर्मेद्र की मौत पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता, उसकी मौत हत्या है या गैर इरादतन हत्या या हादसा यह तो जांच पूरी होने पर ही पता चल सकेगा।

झा ने तीन वर्ष पूर्व भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी नरेंद्र कुमार की हुई मौत का हवाला देते हुए कहा कि जांच में यह बात सामने आई थी की उनकी गैर इरादतन हत्या हुई थी। इस मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने भी जांच की, तब हमारी सरकार नहीं थी और उसने भी पाया कि नरेंद्र कुमार की गैर इरादतन हत्या है। उन्होंने कहा कि राज्य से रेत माफिया का सफाया होना चाहिए। राज्य सरकार इन मामलों को लेकर गंभीर है और वह इस पर आवश्यक कार्यवाही भी कर रही है।

प्रादेशिक

बैंक में नौकरी नहीं लगी तो घर पर ही खोल लिया खुद का एसबीआई बैंक

Published

on

चेन्नई। तमिलनाडु से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। यहां एक युवक की बैंक में नौकरी नहीं लगी तो उसने खुद का ही बैंक खोल लिया। उसने अपने घर के ऊपरी फ्लोर पर एसबीआई की नकली शाखा खोल ली थी लेकिन एक शख्स को संदेह हुआ तो उसने पुलिस को इस बात की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया है। फर्जी शाखा खोलने का मास्टर माइंड एसबीआई की एक पूर्व कर्मचारी का बेटा है। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कुडलोर जिले के पनरुति में कमल बाबू नाम के एक 19 साल के लड़के पर एसबीआई की फर्जी शाखा खोलने का आरोप है। पुलिस के मुताबिक 19 वर्षीय युवक ने तमिलनाडु के पन्रुती में भारतीय स्टेट बैंक की एक शाखा खोलने की कोशिश की। इसके बाद उसे जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार युवक सेवानिवृत्त एसबीआई कर्मचारी का पुत्र है।

उसने सार्वजनिक क्षेत्र के इस बैंक की फर्जी मुहर और चालान तैयार किये थे। साथ ही उसने यहां से करीब 25 किलोमीटर दूर पनरुती स्थित अपने आवास की ऊपरी मंजिल पर बैंक शाखा चलाने के लिए नकदी गिनने वाली मशीन आदि भी एकत्रित कर ली थी। हालांकि उसने कोई बोर्ड नहीं लगाया था।

एसबीआई पनरुती शाखा के प्रबंधक ने इस संबंध में पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराकर कार्रवाई का अनुरोध किया था। एक उपभोक्ता ने शाखा प्रबंधक को बताया था कि यह व्यक्ति एसबीआई की एक शाखा खोल रहा है और उसके पास चालान भी है। पूछताछ के बाद व्यक्ति को जालसाजी और जाली मुहर रखने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया।

#tamilnadu #fakebank #sbi

Continue Reading

Trending