Connect with us

प्रादेशिक

तेलंगाना में दूसरी बार मुख्‍यमंत्री बने चंद्रशेखर राव, ‘राजयोग मुहूर्त’ में ली शपथ

Published

on

तेलंगाना में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद पार्टी तेलंगाना राष्ट्रीय समिति(टीआरएस) के मुखिया के चंद्रशेखर राव दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। तेलंगाना राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में पार्टी नेताओं की मौजूदगी में उन्होंने शपथ ली।

गुरुवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेता के. चंद्रशेखर राव ने राज्य के लक्ष्मीनरसिम्हा मंदिर के पुरोहितों द्वारा निर्धारित ‘राजयोग मुहूर्त’ में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

IMAGE COPYRIGHT: GOOGLE

बता दें, सात दिसम्बर को 119 सदस्यीय सीटों वाली विधानसभा चुनाव में राव की अगुवाई वाली टीआरएस ने 88 सीटों पर जीत हासिल की है।

प्रादेशिक

कुलदीप सेंगर की विधानसभा सदस्यता खत्म, अधिसूचना जारी

Published

on

लखनऊ। उन्नाव से विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की विधानसभा सदस्यता समाप्त कर दी गई है। इस बारे में उत्तर प्रदेश विधानसभा सचिवालय ने अधिसूचना जारी कर दी है।

विधानसभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे की ओर से जारी की गई अधिसूचना में सेंगर की सदस्यता उस दिन से ही समाप्त की गई थी, जिस दिन उसे सजा सुनाई गई थी।

अधिसूचना के मुताबिक 20 दिसंबर 2019 से उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधानसभा सीट को रिक्त घोषित किया गया है। सेंगर उन्नाव दुष्कर्म मामले में आजीवन करावास की सजा भुगत रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दुष्कर्म का आरोप लगने पर सेंगर को पार्टी से बाहर कर दिया था। इससे बांगरमऊ विधानसभा सीट रिक्त हो गई है। इस सीट पर उपचुनाव होगा।

लेकिन, इसकी तिथि का ऐलान अभी होना बाकी है। कुलदीप सिंह सेंगर की विधानसभा सदस्यता 20 दिसंबर 2019 से ही खत्म मानी जाएगी। इसी दिन सेंगर को सजा सुनाई गई थी।

गौरतलब हो कि कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप है कि 2017 में उसने एक नाबालिग युवती को अगवा कर दुष्कर्म किया। सेंगर पर आरोप लगाने वाली महिला की कार को जुलाई में एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी, जिसमें वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई थी।

दुर्घटना में महिला की दो रिश्तेदार मारी गईं और उसके परिवार ने इसमें षड्यंत्र होने के आरोप लगाए थे। फिलहाल, सेंगर तिहाड़ जेल में बंद है।

सामूहिक दुष्कर्म के दो साल पुराने मामले में दोषी कुलदीप सिंह सेंगर (53) को दिल्ली की एक कोर्ट ने 20 दिसंबर को उम्रकैद की सजा सुनाई। कोर्ट ने कहा कि उसे मृत्यु तक जेल में रखा जाए। सेंगर पर 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending