Connect with us

मनोरंजन

हीरा व्यापारी की हत्या में आया गोपी बहू का नाम, पुलिस ने की दो घंटे तक पूछताछ!

Published

on

मुंबई। मुंबई में हीरा व्यापारी राजेश्वर उडानी हत्याकांड में नया मोड़ आ गया है। पुलिस ने व्यापारी के हत्या के मामले में शनिवार को एक निलंबित पुलिस सहित 2 लोगों को गिरफ्तार किया है।

चौंकाने वाली बात यह है कि इस हत्याकांड में टीवी की मशहूर एक्ट्रेस गोपी बहू देवोलीना भट्टाचार्य भी शक के घेरे में हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने अभी तक उन्हें क्लिन चिट नहीं दी है।

पुलिस को हीरा व्यापारी के फोन रिकॉर्ड्स में एक्ट्रेस का नंबर भी मिला था जिसके बाद उनसे 2 घंटे तक पूछताछ हुई। सूत्रों के मुताबिक इस हाई प्रोफाइल हत्या में 5 लाख में 2 कॉन्ट्रैक्ट किलर और मॉडल का भी इस्तेमाल किया गया।

इसमें मॉडल के शरारती वीडियो शूट करने की बात कही गई, जिसमें मॉडल को हीरा कारोबारी का गला दबाना था, लेकिन शूटिंग के वक्त कॉन्ट्रैक्ट किलर्स ने हीरा कारोबारी की गला दबाकर हत्या कर दी।

उपनगरीय घाटकोपर में महालक्ष्मी सोसाइटी में रहने वाले हीरा कारोबारी राजेश्वर उडानी 28 नवंबर को लापता हो गए थे। उनका क्षत-विक्षत शव रायगढ़ जिले के पनवेल में शुक्रवार को बरामद किया गया था।

पुलिस ने गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान सचिन पवार और दिनेश पवार के रूप में की है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन्हें पूछताछ के बाद हिरासत में लिया गया था। अधिकारी ने बताया कि मामले के सिलसिले में एक टीवी अभिनेता समेत कई अन्य लोगों से अब भी पूछताछ की जा रही है।

 

मनोरंजन

गुजराती फिल्मों के सुपरस्टार नरेश कनोडिया का कोरोना से निधन

Published

on

नई दिल्ली। गुजराती फिल्म स्टार और भाजपा के पूर्व विधायक नरेश कनोडिया का मंगलवार सुबह कोरोनो से निधन हो गया। वो 77 वर्ष के थे। बीते कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण के बाद उनका अहमदाबाद के यूएन मेहता इंस्टीट्यूट में इलाज चल रहा था। उनके निधन से गुजराती फिल्म इंडस्ट्री में शोक में डूबा हुआ है। नरेश कनोडिया के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके शोक जताया है।

पीएम मोदी ने लिखा, महेश कनोडिया जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। वे एक बहुमुखी प्रतिभासंपन्न गायक थे, जिन्हें लोगों का भरपूर प्यार मिला। एक राजनेता के रूप में भी वे गरीबों और पिछड़ों के सशक्तिकरण के लिए समर्पित रहे। हितु कनोडिया जी से मैंने बात की और उनके परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की।

नरेश कनोडिया का जन्म 20 अगस्त, 1943 को महेसाणा जिले के बेचाराजी तहसील के कानोडा गांव में हुआ था। उनके बड़े भाई महेश कनोडिया का 25 अक्टूबर को गांधीनगर में 80 वर्ष की आयु में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था। महेश कनोडिया भाजपा के पूर्व सांसद थे जबकि नरेश पूर्व विधायक थे।

Continue Reading

Trending