Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

इंटरनेशनल मैगजीन ने उठाए गंभीर सवाल, झूठा है प्रियंका-निक का रिश्ता?

Published

on

इन दिनों बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड के गलियारे तक बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और अमेरिकी सिंगर निक जोनस की शादी और रिसेप्शन सुर्खियों में हैं। दोनों एक साथ बेहद खूबसूरत कपल लगा रहे हैं।

हाल में ही प्रियंका की हिन्दू वेडिंग की कुछ नई फोटोज़ सामने आई हैं। लेकिन न्‍यूयॉर्क कि एक मैगजीन ने प्रियंका के बारे में ऐसी बात लिख दी कि बॉलीवुड के कई स्टार्स भड़क गए हैं।

आपको बता दें, न्‍यूयॉर्क की एक मैगजीन ने प्रियंका को ‘ग्लोबल स्कैम आर्टिस्ट’ बताया है। विदेशी मैगजीन में प्रियंका के बारे में ऐसी बातें लिखी कि बॉलीवुड के कई स्टार्स भड़क गए हैं। हालांकि, विवाद बढ़ता देख मैगजीन ने खबर को लेकर माफी मांगी और आर्टिकल को अपनी वेबसाइट से हटा लिया।

इस आर्टिकल पर एक्ट्रेसस सोनम कपूर ने अपनी नाराजगी जाहिर की है। उन्‍होंने इस आर्टिकल को घटिया और महिला विरोधी बताया है।उन्होंने लिखा, ‘ऐसा आर्टिकल एक महिला ने ही लिखा है, सबसे दुख की बात तो ये है। शर्म आती है।’

स्वरा भास्कर ने भी आर्टिकल के खिलाफ सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने अपना गुस्सा जाहिर किया है।

दरअसल, ‘द कट’ नाम की इंटरनेशनल मैगजीन ने प्रियंका और निक के रिश्ते पर एक आर्टिकल लिखा। इस लेख का टाइटल था ‘क्‍या प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस का प्‍यार सच्चा है?’

इस आर्टिकल में प्रियंका चोपड़ा से निक जोनस की शादी को एक ‘धोखा’ बताया गया। इस आर्टिकल में प्रियंका और निक के रिलेशन को झूठा बताया। उन्होंने निक को सलाह देते हुए कहा- निक अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं तो जल्द से जल्द बच निकलिए।

इस आर्टिकल को मारिया स्मिथ नाम की एक पत्रकार ने लिखा। अब आर्टिकल को लेकर उनकी आलोचना की जा रही है। उन्होंने प्रियंका और निक के रिश्ते पर सवाल उठाए हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय

15 साल में छोड़ा था लड़की ने घर, बनी ISIS दुल्हन, अब दिया आतंकवादियों के बच्चे को जन्म

Published

on

ISIS

आपने शादी से जुड़े बहुत से मामले सुने होंगे लेकिन आज हम आपको एक ऐसा मामला बताने जा रहै हैं जिससे आप हैरान रह जाएंगे। इंग्लैंड की एक महिला ने ISIS जॉइन कर लिया था। अब उसी 19 साल की महिला ने अपने एक बच्चे को जन्म दिया है। अब वह अपने देश इंग्लैंड़ वापस आना चाहती है।
इस महिला का नाम शमीमा बेगम है जिसने सीरिया के रिफ्यूजी कैंप में बच्चे को जन्म दिया है। महिला को ISIS में शामिल होने का कोई अफसोस भी नहीं है। उसने बताया की इस फैसले ने उसे और मजबूद बनाया है। ऐसे में अब उसे अपने देश वापस लौटने की इजाजत मिलनी चाहिए या नहीं इस पर बड़ी बहस चल रही है।

शमीमा के वकील का कहना है कि शमीमा के साथ नाजी अपराधियों के भी बुरा व्यावहार किया जा रहा है। वकील ने कहा कि जब वह स्कूल में पढ़ने वाली 15 साल की लड़की थी, तभी चली गई। वह एक पीड़ित थी। वहीं, शमीमा ने एक इंटरव्यू में ये स्वीकार किया है कि ब्रिटेन में उसका पुनर्वास काफी मुश्किल भरा होगा।

उसके वकील ने बताया कि दूसरे विश्व युद्ध के बाद खूनी अपराधियों को भी मौका मिला था तो इसे भी मिलना चाहिए। शमीमा का परिवार चाहता है कि अगर उसे देश वापस आने की अनुमति मिलती है और जेल की सजा दी जाती है तो वे उसके बच्चे को पालने के लिए तैयार होंगे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending