Connect with us

नेशनल

चुनाव के पहले BJP को बड़ा झटका, ये बड़ा नेता जा सकता हैं कांग्रेस में

Published

on

विधानसभा चुनावों को लेकर चुनावी राज्यों में सरगर्मियां काफी बढ़ गई हैं। चुनाव नजदीक आते ही राजनेताओं की गतिविधियों में भी इजाफा होने लगा है। चुनाव के मद्देनजर ही राजनेताओं का दौरा शुरु हो गया हैं। ऐसी खबरें आ रही हैं कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह कांग्रेस से जुड़ सकते हैं।

आपको बता दें, मानवेंद्र सिंह ने 22 सितंबर को बाड़मेर के पचपदरा में स्वाभिमान रैली कर बीजेपी छोड़ने का ऐलान किया था। साथ में मानवेंद्र ने कांग्रेस में जाने की बात तो कही है लेकिन दिल्ली या जयपुर में कांग्रेस में शामिल होंगे इस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा।

यह कयास लगाया जा रहा हैं कि राहुल गांधी की किसी बड़ी रैली में पहुंचकर मानवेंद्र अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस में शामिल होंगें। मानवेंद्र अगर कांग्रेस में शामिल होते हैं तो पश्चिमी राजस्थान की राजनीति में बड़ा बदलाव आएगा। इस इलाके में राजपूत परंपरागत रूप से बीजेपी के वोटर रहे हैं, ऐसे में राजपूत वोटर बड़ी संख्या में भाजपा से टूटकर कांग्रेस से जुड़ सकते हैं।

आपको बता दें, जसवंत सिंह बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से रहे हैं और बाड़मेर लोकसभा सीट से चुनाव जीतते रहे हैं। लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने उन्हें टिकट नहीं दिया था तो वे निर्दलीय चुनाव लड़े थे और हार गए थे। इस चुनाव में मोदी लहर के बावजूद वह 4 लाख से ज्यादा वोट पाने में कामयाब रहे थे।

जानकारों का मानना है कि मानवेंद्र सिंह का कांग्रेस में जाना लगभग तय है। 13 अक्टूबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। कहा जा रहा है कि मानवेंद्र सिंह विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे बल्कि बाड़मेर से लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

नेशनल

BIG BREAKING: लोकसभा चुनाव से पहले सलमान खुर्शीद ने कही ऐसी बात, सुनकर चौंक सकते हैं कई कांग्रेसी!

Published

on

सलमान खुर्शीद

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अब बहुत कम समय ही बचा है ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस चुनाव के मद्देनजर जोर शोर से तैयारियों में लग गई है।

लेकिन इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और यूपीए सरकार में विदेश मंत्री रहे सलमान खुर्शीद ने चौंकाने वाली बात कही है। खुर्शीद का मानना है कि अगले लोकसभा चुनाव में अकेले दम पर उनकी पार्टी का सत्ता में आना बेहद कठिन है। विपक्षी पार्टियों का गठबंधन कांग्रेस को रोकने के लिए नहीं बल्कि भाजपा को रोकने के लिए बनना चाहिए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए अन्य दलों को भी बलिदान और समझौते करने होंगे। कांग्रेस के सभी नेता अच्छी तरह से समझ गए हैं कि देश की सत्ता को बदलने के लिए गठबंधन बहुत जरूरी है।’

खुर्शीद ने आगे कहा, ‘गठबंधन के लिए जो भी बलिदान, समझौते या बातचीत जरूरी होगा, उसके लिए कांग्रेस तैयार है। यह तभी संभव है जब दूसरे दल भी इस तरह का सामंजस्य दिखाना होगा।’

उन्होंने कहा, ‘आज की स्थिति देखते हुए यह कठिन है। अगर हम अकेले दम पर सरकार बनाने का सोचते हैं, तो उसके लिए हमें पांच साल तक काम करना होगा क्योंकि पिछले तीन साल से कांग्रेस गठबंधन के लिए काम कर रही है। कांग्रेस अब अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोच सकती। इसके लिए हमें पांच साल तक लड़ना पड़ेगा।’

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending