Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

DRDO के कर्मचारी ने लीक की ब्रह्मोस की खुफिया जानकारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Published

on

सुरक्षा एजेंसियों ने सोमवार को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) के कर्मचारी निशांत अग्रवाल को दुश्मन देश को सीक्रेट जानकारी देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उसे नागपुर स्थित ब्रह्मोस ऐरोस्पेस सेंटर से ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।

निशांत अग्रवाल पर आरोप है कि उसने खुफिया जानकारी को पाकिस्तान के साथ-साथ अमेरिका को भी शेयर किया है। एक टीम ने उन्हें रविवार रात ट्रैक किया और सोमवार को छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम सुबह 5:30 बजे इमारत में पहुंची और शाम 5 बजे तक वहां रुकी।

निशांत नागपुर में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) में 4 साल से काम कर रहा था। आरोपी के पास भारत की अति महत्वपूर्ण ‘ब्रह्मोस’ मिसाइल से जुड़ी सीक्रेट जानकारियों की पहुंच थी।

ऐसी खबर है कि इस इंजीनियर से पहले एटीएस ने कानपुर से एक महिला को भी गिरफ्तार किया. हालांकि, इस महिला के पास कुछ नहीं मिला था। कानपुर की महिला का आरोपी इंजीनियर से कोई कनेक्शन है या नहीं, इस बारे में पता लगाया जा रहा है।

यूपी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया, ‘उसके निजी कंप्यूटर में कई संदिग्ध चीजें मिली हैं। हमें उसके खिलाफ सबूत मिला है कि वह फेसबुक पर पाकिस्तान से जुड़ी कुछ आईडी के संपर्क में है।’

Image CopyRight : Google

अन्तर्राष्ट्रीय

विदेश जाकर इलाज करा सकेंगे नवाज शरीफ, लाहौर हाई कोर्ट ने दी इजाजत

Published

on

नई दिल्ली। लंबे समय से बीमार पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अब विदेश जाकर इलाज करा सकेंगे। लाहौर हाई कोर्ट ने उन्हें उपचार के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश यात्रा की अनुमति दे दी है और कहा कि यह अवधि चिकित्सा रिपोटरें के आधार पर बढ़ाई जा सकती है।

डॉन न्यूज के अनुसार, मौजूदा सरकार को झटका देते हुए जिसने शरीफ की यात्रा के लिए क्षतिपूर्ति बांड भरने की शर्त रखी थी, शनिवार को अदालत ने उनका नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) से हटाने का आदेश दिया।

दो न्यायाधीशों की पीठ ने सुबह 11 बजे याचिका पर सुनवाई शुरू की और आखिरकार शाम 6 बजे के करीब फैसला सुनाया।अदालत के आदेश में कहा गया, “शरीफ को चार सप्ताह के लिए अंतरिम व्यवस्था के रूप में विदेश यात्रा करने की एक बार की अनुमति दी गई है और डॉक्टरों द्वारा यह प्रमाणित करने पर उनके स्वास्थ्य में सुधार हुआ है और वह पाकिस्तान आने के लिए फिट हैं, वह लौट आएंगे।”

पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने इस फैसले को स्वीकार किया और एक वचन पत्र पर हस्ताक्षर किए जिसमें कहा गया कि वह चार सप्ताह के भीतर या डॉक्टरों द्वारा शरीफ का स्वास्थ्य ठीक होना और उनके पाकिस्तान लौटने के लिए फिट होना प्रमाणित किए जाने पर अपने भाई की वापसी सुनिश्चित करेंगे।

शहबाज शरीफ ने कहा कि एक एयर एम्बुलेंस नवाज शरीफ को ले जाएगी। नवाज के सोमवार को लंदन जाने की संभावना है।

फैसले पर जवाब देते हुए, सत्तारूढ़ पीटीआई के सीनेटर फैसल जावेद ने कहा कि यह फैसला किया जाएगा कि लिखित आदेश उपलब्ध होने के बाद अदालत के फैसले पर अपील किया जाए या नहीं।

सूचना मामलों में प्रधानमंत्री की विशेष सहायक फिरदौस आशिक एवान ने जियो न्यूज से कहा कि सरकार ने हमेशा अदालती फैसलों का सम्मान किया है। हालांकि, उन्होंने जावेद के इस रुख को दोहराया कि अपील पर फैसला लेना बाकी है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending