Connect with us

प्रादेशिक

अब पत्रकारों को धमकाने वाले जाएंगे जेल, लगेगा 50 हजार का जुर्माना!

Published

on

लखनऊ। रोज पढ़े जाने वाले समाचार पत्रों और टीवी पर दिखने वाली न्यूज के पीछे कई पत्रकारों की कड़ी मेहनत होती जिसे वह कई दफा अपनी जान जोखिम में डाल कर हासिल करता है। कई बार न्यूज कवर करते समय पत्रकारों को डराया धमकाया जाता है। लेकिन अब पत्रकारों को इस तरह की धमकियां देने वालों की खैर नहीं। अगर अब किसी ने पत्रकारों से अभद्रता की तो उसे जेल जाना पड़ सकता है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और पीएम नरेंद्र मोदी ने घोषणा कर दी है कि जो पत्रकारों से अभद्रतापूर्वक व्यवहार करेगा या धमकाने की कोशिश करेगा उस पर 50 हजार रु तक का जुर्माना लगाया जा सकता है साथ ही उसे तीन साल तक की जेल भी हो सकती है।

योगी ने कहा कि धमकी के आरोप में गिरफ्तार लोगों को आसानी से जमानत नहीं मिलेगी इसलिए पत्रकारों से किसी भी प्रकार की अभद्रता न करें और पत्रकारों को सम्मान दे। चाहे वो सरकारी नुमाइंदा क्यो न हो।

सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि अगर किसी पत्रकार को किसी भी तरह की परेशानी होती है तो उनसे तुरंत संपर्क करे। धमकाने वाले व्यक्ति को 24 घंटे के अंदर जेल भेजा जाएगा। सीएम योगी ने सख्त लहजे में कहा पत्रकारों से मान सम्मान से बात करिए वर्ना आपको महंगा पड़ सकता हैं।

प्रादेशिक

लखनऊः पान मसाला कारोबारी पर दिनदहाड़े हमला, नौकर की गोली मारकर हत्या

Published

on

लखनऊ। लखनऊ मे एक बार फिर पुलिस को चुनौती देते हुए बेखौफ बदमाशों चौक स्थित पान मसाला एजेंसी पर दिनदहाड़े लूट के बाद नौकर की हत्या कर फरार हो गए।

बाइक सवार बदमाशों ने दुकान पर काम कर रहे नौकर को गोली मारकर पैसों भरा बैग छीन लिया। घायल कर्मचारी को आनन फानन ट्रॉमा सेंटर पहुंचाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने इलाके की नाकेबंदी कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

चौक थाना क्षेत्र के नादान महल रोड पर राम निवास सुनील कुमार की पान मसाले की एजेंसी पर दिन दहाड़े गोली चल गई। दोपहर दो बजे के करीब दुकान पर कर्मचारी सुभाष बैठा हुआ था।

अचानक ही वहां दो बाइक सेे चार बदमाश आ गए और सुभाष से पैसों भरा बैग छीनने लगे। सुभाष ने विरोध किया तो बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी और बैग लेकर मौके से फरार हो गए। घटना के बाद व्यापारियों में आक्रोश है।

घटना के बारे मौके पर तमाम आला अधिकारी। पहुंच गए और उन्होंने मामले की छानबीन शुरू की। लेकिन हत्यारों का कोई सुराग पुलिस को नहीं लगा। पुलिस कमिश्नर लखनऊ सुजीत पांडे ने बताया कि बाइक सवार चार बदमाश आए थे।

जिन्होंने हत्या के और लूट की घटना को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस सीसीटीवी की मदद से अपराधियों की तलाश कर रही है वह इलाके में नाकाबंदी कर दी गई है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending