Connect with us

प्रादेशिक

कश्मीर पर मंडराया बाढ़ का खतरा, जायजा लेने पहुंचे सईद

Published

on

Srinagar_flood

जम्मू। जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद रविवार को श्रीनगर के लिए रवाना हुए। वह कश्मीर घाटी में लगातार बारिश के कारण बने बाढ़ जैसे हालात का स्वयं जायजा लेने पहुंचे। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद से सईद का कश्मीर घाटी का यह पहला दौरा है। उन्होंने एक मार्च 2015 को पद की शपथ ली थी।

उप-मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने रविवार को विधानसभा में बताया कि कश्मीर घाटी में लगातार बारिश के कारण बाढ़ की आशंका के मद्देनजर सईद श्रीनगर के दौरे पर गए हैं। सिंह ने विधानसभा में बताया कि भारी बारिश के कारण उत्पन्न स्थिति के प्रति प्रशासन सचेत है और स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी ऐहतियाती उपाय किए जा रहे हैं, इसीलिए लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने रविवार की सुबह 11 बजे जानकारी दी कि दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले में संगम में झेलम नदी का जलस्तर 12 फीट दर्ज किया गया, जबकि खतरे का स्तर 18 फीट है।

श्रीनगर शहर में राम मुंशीबाग इलाके में जलस्तर 12.6 फीट दर्ज किया गया, जबकि खतरे का जलस्तर 16 फीट होता है। वहीं बांदीपुरा जिले के अशाम में जलस्तर 8.50 फीट दर्ज किया गया जबकि खतरे का स्तर 30 फीट होता है। उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि जलस्तर के बारे में नियंत्रण कक्ष को लगातार जानकारी दी जा रही है, घबराने की जरूरत नहीं है।

प्रादेशिक

यौन शोषण केस में पूर्व गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। यौन शोषण के आरोपी पूर्व गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को शुक्रवार को स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने गिरफ्तार कर लिया।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गठित एसआईटी टीम ने चिन्मयानंद को शाहजहांपुर से गिरफ्तार किया। जानकारी के मुताबिक अब उनका मेडिकल टेस्ट करवाने के लिए जिला अस्पताल ले जाया जा रहा है।

जिला अस्पताल में भारी फोर्स तैनात है। एसआईटी की टीम भी जिला अस्पताल में मौजूद है। आपको बता दें कि लॉ की एक छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाया था जिसके बाद वह विवादों में आ गए थे।

सोशल मीडिया पर चिन्मयानंद का एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें वह एक लड़की से मसाज कराते नजर आ रहे हैं। शाहजहांपुर जिला अस्पताल में मेडिकल करवाने के बाद चिन्मयानंद को आज ही अदालत में पेश किया जाएगा।

गिरफ्तारी के बाद स्वामी चिन्मयानंद की वकील पूजा सिंह ने बताया कि उनके मुवक्किल को उनके घर से ही गिरफ्तार किया गया है। दुषकर्म के आरोपों के सिलसिले में पिछले शुक्रवार को SIT की टीम ने करीब 7 घंटे तक स्वामी चिन्मयानंद से पूछताछ की थी। स्वामी चिन्मयानंद से पुलिस लाइन में स्थित एसआईटी के दफ्तर में पूछताछ की गई थी।

स्वामी चिन्मयानंद से सारे सवाल छात्रा और उसके आरोपों के बारे में ही पूछे गए। चिन्मयानंद से पूछा गया कि आखिरकार उनसे जुड़े वीडियो का सच क्या है? वह छात्रा को कैसे जानते हैं?

छात्रा की ओर से लगाए गए दुष्कर्म के आरोपों के बारे में उनका क्या कहना है? एसआईटी ने कॉलेज के हॉस्टल के कमरे में मिले साक्ष्यों के आधार पर भी स्वामी चिन्मयानंद से पूछताछ की।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending