Connect with us

मनोरंजन

अगर शाहरुख न होते तो सीरिया में न बच पाती इस शख्स की जान!

Published

on

सीरिया

मुंबई। हेडलाइन पढ़कर जरुर आपको हैरानी हो रही होगी लेकिन सच तो यही है कि बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान ने सीरिया में एक शख्स की जान बचा ली। आइए आपको तफसील से बताते हैं कि कैसे शाहरुख ने सीरिया में रह रहे कार्तिकेय की जान बचाई।

सीरिया

पिछले 7 साल से जंग की वजह से सीरिया ने बहुत कुछ खोया है। वह बाकी देशों की तुलना में काफी पिछड़ गया है। लेकिन यह देश पहले की तरह एक बार फिर अपने पैरों पर खड़ा हो रहा है। यहां के हालात अब तेजी से सुधर रहे हैं। इसी वजह से एक बड़े इलाके में मॉनिटरिंग चल रही है। इसी से जुड़ी कुछ यादें कार्तिकेय शर्मा नाम के एक शख्स ने साझा की हैं।

एक अखबार में उन्होंने लिखा कि सेना के चेकपॉइंट्स पर मौजूद जवान किसी लोकल शख्स या सीरिया सरकार के परिचय से प्रभावित हो जाते थे। हालांकि उस दिन मेरे पास दोनों नहीं थे लेकिन मुझे बॉलीवुड ने बचा लिया।

कार्तिकेय ने लिखा कि उनकी कार हर चेकपोस्ट पर रुकती थी और उन्हें हर बार अपने बारे में बताना पड़ता था। जब वह ये बताते कि वह भारतीय हैं तो चीजें अचानक उनके पक्ष में हो जाया करती थीं। कार्तिकेय ने बताया कि 100 में से 90 प्रतिशत ऐसा होता था कि भारतीय बताने पर जवान मुझसे कहता कि शाहरुख खान को मेरा सलाम कहना, उससे कहना कि हम उसे प्यार करते हैं।

कार्तिकेय ने बताया कि कुछ ने तो कटरीना कैफ, करिश्मा कपूर और अमिताभ बच्चन तक का नाम लिया। कुछ ने उनसे अमिताभ बच्चन के बेटे और ऐश्वर्या के साथ उनकी ट्यूनिंग के बारे में पूछा। उन्हें बॉलीवुड मैगजीन्स पढ़-पढ़ कर बॉलीवुड की खूब जानकारी थी जिसका उन्होंने यहां पर इस्तेमाल किया। इस तरह कार्तिकेय को सीरिया में आराम से सफर करने में बॉलीवुड सितारों की मदद मिल गई।

मनोरंजन

पुलवामा हमले पर विक्की कौशल ने दिया बड़ा बयान, कह दी ये बड़ी बात

Published

on

मुंबई। 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफीले पर हुए आतंकी हमले पर उरी फिल्म के अभिनेता विक्की कौशल ने दुखद बताया है। आपको बता दें कि इस हमले में 40 सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे।

विक्की ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा, “यह मानव जीवन का बहुत बड़ा नुकसान है। अगर हम किसी भी तरीके से शहीदों के परिवारों का समर्थन कर सकते हैं, तो एक समाज को तौर पर यह हमारी तरफ से बहुत बड़ा योगदान होगा। पूरी घटना को भूलना या माफ नहीं करना चाहिए।”

अभिनेता ने सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन (सिंटा) और 48 आवर फिल्म प्रोजेक्ट द्वारा आयोजित एक्ट फेस्ट के अंतिम दिन यह टिप्पणी की।

अभिनेत्री कुबरा सैत ने भी हमले की निंदा की और लोगों से मानवता के प्रति दयालु होने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, “फिल्म बिरादरी एकजुट होकर कह रही है, जो हुआ गलत हुआ। यह बेहद दिल दुखाने और चौंकाने वाला मामला है।”

उन्होंने कहा, “मैं किसी भी तरह से आतंकवाद का समर्थन नहीं करूंगी, खासकर जब आतंकवाद आस्था का मुखौटा पहने हुए है। मैं ऐसी नहीं हूं जो इससे सहमत हो। समय की मांग है कि हम सभी को एक-दूसरे के प्रति प्यार और सम्मान बनाए रखना चाहिए।”

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending