Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

पी5+1 को दिखाना होगा लचीला रुख : ईरान

Published

on

तेहरान,ईरान,राष्ट्रपति-हसन-रूहानी,परमाणु,अमेरिका,फ्रांस,ब्रिटेन,रूस,चीन,फेडेरिका-मोगेरिनी

तेहरान | ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि तेहरान ने परमाणु वार्ता पर आवश्यक लचीलापन दिखाया है और उन्होंने पी5+1 समूह से आखिरी कदम उठाने की मांग की।

प्रेस टीवी के मुताबिक, रूहानी ने शनिवार को जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान कहा, “हम महत्वपूर्ण दिनों के करीब आ गए हैं। ईरान ने वार्ता के दौरान आवश्यक लचीलापन दिखाया है और यह दूसरे पक्ष की बारी है कि वह अंतिम कदम के लिए आगे बढ़े।” रूहानी ने कहा कि ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध हटाना तेहरान तथा पी+1 समूह (अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन, रूस, चीन और जर्मनी) के बीच होने वाले समझौते का मूल्य तत्व होगा। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि इस समझौते का उद्देश्य दो पक्षों के बीच भरोसा बहाली और विश्वास पैदा करना भी होगा। उन्होंने रूहानी ने कहा कि ईरान ने हमेशा ऐसे संधि की मांग की है जो सभी पक्षों के हितों का ख्याल रखेगा।

वहीं, मर्केल ने कहा कि जर्मनी प्रगतिशील बातचीत चाहता और उनका देश वार्ता को रचनात्मक तरीके से समर्थन देगा। जर्मनी की चांसलर ने कहा कि बर्लिन ईरान-विरोधी प्रतिबंधों को हटाने में यकीन रखता है और इसने व्यापक समझौते के लिए कोई कसर नहीं छोड़ा। इधर, यूरोपीय संघ की विदेश नीति मामले की प्रमुख फेडेरिका मोगेरिनी ने शनिवार को कहा कि पी5+1 समूह कभी भी समझौते के करीब नहीं रहे हैं।

 

अन्तर्राष्ट्रीय

चीन का रवैया देख भारत सरकार ने लिया बड़ा फैसला, उठाएगी ये कदम

Published

on

By

पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी चाईना के लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर अपनी पुराना रवैया जारी रखा है। चीन ने कई इलाकों (गोगरा पोस्‍ट, हॉट स्प्रिंग्‍स) के साथ ही पैंगोंग त्‍सो पर भी पीएलए जवानों की तैनाती की हुई है।

चीन की इस हरकत को देखते हुए मोदी सरकार ने अब चीन को जवाब देने का फैसला किया है। भारत अब कई नए तरीकों पर विचार कर रहा है।

तोंद ने बचा ली इस शख्स की जान, जानिए आखिर क्या है पूरा मामला

केंद्र सरकार आने वाले समय में अब कुछ नए तरीके अपनाने की तैयारी कर रही है,इससे भारतीय जवान भी अपनी पुरानी लोकेशंस पर लौट सकते हैं। चीन और भारत के बीच इस तनातनी की स्थिति में भारत सरकार कोई बड़ा कदम भी उठा सकती है।

#china #india #lac #pmmodi #indochinatension

Continue Reading

Trending