Connect with us

प्रादेशिक

सीएम योगी की बात को यूपी पुलिस ने किया नजरअंदाज, पत्रकार पर जानलेवा हमला करने वाले को छोड़ा

Published

on

पत्रकार

चंदौली। नेशनल वॉइस के पत्रकार सूरज सिंह पर सोमवार को हुए जानलेवा हमले से पूरे पत्रकार समाज में गहरी नाराजगी है। सूरज पर यह हमला कोतवाली से महज कुछ कदम की दूरी पर हुआ। राकेश पांडेय नाम के शख्स ने दिनदहाड़े पत्रकार पर गोली चला दी गनिमत यह रही कि निशान चूक गया और पत्रकार की जान बाल-बाल बच गई।

पत्रकार

निशाना चूक जाने के बाद हमलावर पत्रकार की चेन झपटकर मौके से फरार हो गया। दिनदहाड़े हुए पत्रकार पर जानलेवा हमले ने पुलिस प्रशासन की कलई खोलकर रख दी है। हाल ही में सीएम योगी ने पत्रकारों को लेकर कहा था कि जो भी पत्रकारों के खिलाफ दुरव्यवहार करेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अगर पुलिस भी पत्रकारों से किसी भी प्रकार का दुरव्यवहार करती है तो उसके खिलाफ भी सख्त कदम उठाया जाएगा। लेकिन सीएम योगी की इस बात का चंदौली पुलिस पर कोई असर होता नहीं दिख रहा है।

पत्रकार

प्रतीकात्मक तस्वीर

जानलेवा हमले के बाद पीड़ित पत्रकार ने कोतवाली में आईपीसी की धारा 307, 392 और 504 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था जिसके बाद राकेश पांडेय को गिरफ्तार कर लिया गया। लेकिन सीएम योगी की बात को नजरअंदाज करते हुए आरोपी को FIR की धाराओं में कोर्ट में पेश ना करके साधारण धारा 151 में उपजिलाधिकारी कोर्ट में पेश किया। जहां से आरोपी को आसानी से जमानत मिल गई।

पुलिस के इस रवैया के कारण पूरे पत्रकार समाज में आक्रोश है। जिले के तमाम पत्रकार संगठनों ने पुलिस के इस रवैये की कड़े शब्दों में निंदा की है साथ ही पुलिस प्रशासन को 24 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया है और कहा है कि 24 घंटे के भीतर FIR की धाराओं के तहत आरोपी राकेश पांडेय की गिरफ्तारी की जाए अन्यथा पत्रकार चंदौली से लेकर लखनऊ तक सड़क पर उतरकर आंदोलन करने को बाध्य होंगे और इस सब की जिम्मेदारी चंदौली पुलिस प्रशासन की होगी।

प्रादेशिक

लखनऊ की दिव्यांशी ने CBSE की 12वीं की परीक्षा में रचा इतिहास, हासिल किए 600 में 600 अंक

Published

on

लखनऊ। लखनऊ के नवयुग रेडियंस कॉलेज की छात्रा दिव्यांशी जैन ने 12वीं की परीक्षा में 100% अंक हासिल कर इतिहास रच दिया है। दिव्यांशी ने 600 में 600 अंक हासिल किए हैं। दिव्यांशी जैन हिस्ट्री, ज्योग्राफी, इकोनॉमिक्स, इंश्योरेंस, संस्कृत और इंग्लिश विषयों से 12वीं की पढ़ाई कर रही थीं। इस साल की परीक्षा में उनके सभी विषयों में 100 फीसदी मार्क्स आए हैं।

दिव्यांशी ने कहा कि उसने कभी कोचिंग नही ली और सिर्फ स्कूल में पढ़ाए गए पाठ को रटने के बजाय समझ कर कंठस्थ करने का प्रयास किया। उसने शॉर्ट नोट्स बनाए, लेकिन कभी गाइड का सहारा नहीं लिया, बल्कि एनसीईआरटी की किताबो से ही पढ़ा। दिव्यांशी के पिता राजेश जैन स्टेशनरी का व्यवसाय करते हैं। वहीं मां सीमा जैन गृहणी हैं। उनकी बड़ी बहन श्रेयांशी जैन स्नातक में पढ़ती हैं। उनके पिता राजेश प्रकाश जैन ने कहा कि हमें बेटी पर गर्व है। उसने अपनी मेहनत से हमारा सपना पूरा कर दिया है।

दिव्यांशी को यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने बधाई दी है। ट्विटर पर अखिलेश ने लिखा है कि ‘सीबीएसई बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में शत प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली लखनऊ की छात्रा दिव्यांशी जैन को बहुत-बहुत बधाई एवं उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं।’

यह है दिव्यांशी की रिपोर्ट कार्ड
अंग्रेजी 100
संस्कृत 100
भूगोल 100
अर्थशास्त्र 100
इंश्योरेंस 100
इतिहास 100

#lucknow #divynashijain #12th result #cbse

Continue Reading

Trending