Connect with us

आध्यात्म

जन्माष्टमी के रंग में रंगेगा जगद्गुरु कृपालु परिषत का प्रेम मंदिर

Published

on

वृंदावन। रविवार जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर जगद्गुरु कृपालु परिषत का वृंदावन स्थित प्रेम मंदिर कृष्ण भक्ति के रंग में रंगेगा। शाम से लेकर रात कृष्ण जन्म तक सारे पूजन काम विधि विधान से होंगे। पूजन कार्यों में श्रद्धालु बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेंगे। देश के दूर दराज़ इलाकों में बैठे लोग जो इस भव्यता का हिस्सा नहीं बन पाएंगे उन्हें हम प्रेम मंदिर के सभी कार्यक्रमों का समय और झलकियां दिखाएंगे। देखिए एक नज़र प्रेम मंदिर की कृष्ण जन्माष्टमी को।

प्रेम मंदिर में शाम से ही संकीर्तन शुरू हो जाएंगे जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहेंगे। रात 8 बजे कृष्ण रासलीला का आयोजन किया जाएगा। मध्य रात्रि श्रीकृष्ण के जन्म लेते ही भगवान का अभिषेक किया जाएगा। अभिषेक के बाद रात्रि 12:45 से 1:00 बजे तक भगवान को भोग लगाया जाएगा। इन सब के बाद रात्रि 1:00 बजे भगवान श्रीकृष्ण की आरती का आयोजन किया जाएगा।

प्रेम मंदिर प्रांगण के बाहर श्रीकृष्ण की जीवन लीलाओं पर आधारित कई सुंदर झांकियों का आयोजन किया जाएगा। जिनमें निम्न दृश्यों को प्रदर्शित किया जाएगा-

1. पूतना वध

2. दो दृश्य :

पहला– माखन चोरी करके श्रीकृष्ण का अपने सखाओं के साथ बैठकर उसे खाना

दूसरा– यशोदा मइया और सखियों का माखन चोर कान्हा को छड़ी लेकर दौड़ाना

3. नवजात कृष्ण को लेकर वासुदेव का यमुना नदी को पार करके नंदबाबा के घर जाना

प्रेम मंदिर का भीतरी वातावरण भी श्रीकृष्ण की मनमोहक लीलाओं से सजेगा। जिनमें श्रृद्धालुओं को कुछ सुंदर दृश्य देखने को मिलेंगे। जैसे-

1. यशोदा मइया का भगवान श्रीकृष्ण को सुलाना

2. राधा रानी की सेवा करते हुए श्रीकृष्ण, उनके सखाओं और गोपियों के साथ अन्य दृश्य

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर पूरा प्रेम मंदिर परिसर श्रीकृष्णमय हो जाएगा। इस मौके पर भारी संख्या में श्रृद्धालु मौजूद रहेंगे और कृष्णजन्मोत्सव पर विविध रंगों के आयोजनों में हिस्सा लेंगे।

आध्यात्म

आने वाली है 19 फरवरी की काली, सिर्फ दो राशियों पर बरसेगी कृप्या, बाकी राशियों के लिए खतरा…

Published

on

19 फरवरी को पूर्णिमा की रात आने वाली है। इस दिन बहुत सी राशियों के लिए अच्छी खबर आने वाली है तो वहीं कुछ के लिए खराब भी रहेगा। ऐसे लोग जिनको काम करने का पूरा फल नहीं मिलता वो भी अपनी राशि के बारे में जान ले कि कहीं उनकी राशि खराब तो नहीं चल रही।

चलिए जानते हैं कि कौनसी हैं वो राशि जिनके लिए अच्छा साबित होगा पूर्णिमा का दिन-

कुंभ राशि-
कई सुनहरे अवसर आपके काम आएंगे। वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा जीवनसाथी का प्यार और सहयोग मिलेगा। युवाओं को अपना अस्तित्व बनाए रखने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ेगा। स्वास्थ्य में हल्की गिरावट को अनदेखा ना करें। वर्ना बाद मैं बड़ी परेशानी हो सकती है जिससे आर्थिक और शारीरिक नुकसान झेलना पड़ेगा।

सिंह राशि-
समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। परिवार में सुख-समृद्धि रुपया पैसा लगातार बना रहेगा। कोशिश करें कि आपके द्वारा किए गए कार्य गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए लाभदायक सिद्ध हो आप की परिवारिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending