Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

आतंक के खिलाफ पहली बार एक साथ आए भारत-पाक सैनिक, मिलकर करेंगे सैन्य अभ्यास

Published

on

नई दिल्ली। आतंकवाद और चरमपंथ के खिलाफ पहली बार भारत और पाकिस्तान के सैनिक एक साथ आए हैं। दोनों देशों की सेनाएं पहली बार एक साथ सैन्य अभ्यास कर रही हैं। दोनों देशों के सैनिक रूस के शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के बड़े आतंकरोधी अभ्यास में पहली बार हिस्सा ले रहे हैं। भारत पिछले साल जून में एससीओ का पूर्ण सदस्य बन गया था। जिसके बाद अब वह पहली बार इस अभ्यास में हिस्सा ले रहा है।

प्रतीकात्मक

आपको बता दें कि एससीओ द्वारा हर दूसरे साल एससीओ सदस्य देशों के लिए शांति मिशन अभ्यास आयोजित किया जाता है। दोनों देशों की सेनाओं का ये साझा अभ्यास रूस के चेबारकुल में 22 से 29 अगस्त के दौरान सेंट्रल मिलिट्री कमीशन द्वारा आयोजित किया जा रहा है।

शांति मिशन 2018 के अभ्यास में हिस्सा लेने के लिए भारतीय सैनिक रूस पहुंच चुके हैं। भारतीय वायुसेना ने ट्वीट कर बताया कि, “नई जगह, नए वातावरण में, अलग-अलग भाषाओं के लोग। लेकिन एक दूसरे को समझने में कुछ ही क्षण लगे।”

कई विशेषज्ञों का कहना है कि इस साझा अभ्यास से लंबे समय से सैन्य प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान के बीच विश्वास बढ़ सकता है।

अन्तर्राष्ट्रीय

म्यांमार में बड़ी प्राकृतिक आपदा, बारिश के बाद खदान धंसने से 113 मजदूरों की मौत

Published

on

यंगून| म्यांमार के कचिन राज्य में गुरुवार को एक हरिताश्म खनन क्षेत्र में भूस्खलन की चपेट में आने के बाद करीब 113 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य लोगों के लापता होने की सूचना है। लोगों ने बताया कि भारी बारिश के बाद कीचड़ का एक बड़ा सैलाब लहर की तरह आया जिसके नीचे पत्थर इकट्ठा कर रहे लोग दब गए| म्यांमार में दुनिया में सबसे अधिक जेड पत्थर या हरिताश्म यानी हरे रंग के कीमती रत्न पाए जाते हैं|

सूचना मंत्रालय के एक स्थानीय अधिकारी टार लिन माउंग ने कहा कि अभी तक हमने 100 से अधिक शव बरामद किए हैं। अभी और शव कीचड़ में फंसे हुए हैं। मृतकों की संख्या बढ़ने वाली है। इस इलाके में पिछले एक हफ्ते से भारी बारिश हो रही है जिससे बचाव कार्य में भी परेशानी पैदा हो रही है।

बता दें कि जेड की इन खदानों में पहले भी भूस्खलन से कई लोगों की मौत हो चुकी है। हादसे के प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि उन्होंने लोगों को मलबे के एक ढेर पर देखा जो ढहने के कगार पर था। थोड़ी ही देर बाद पहाड़ी से पूरा मलबा भरभराकर नीचे आ गिरा। जिसकी चपेट में आने से सैकड़ों लोग मारे गए।

#myanmar #death #mine

Continue Reading

Trending