Connect with us

नेशनल

संवेदनहीन होते हैं चोर, अटल अस्थि विसर्जन यात्रा में चोरी हुए मुख्यमंत्री और परिजनों के जूते

Published

on

देहरादून। अटल जी के अस्थि कलश विसर्जन कार्यक्रम में अव्यवस्था और भीड़ इस कदर अनुशासनहीन दिखाई दी कि अटल जी के परिजनों के साथ मुख्यमंत्री, सांसद एवं अन्य कई लोगों के जूते ही गायब हो गए। अधिकारियों ने जूते ढूंढ़ने का भरसक प्रयास किया लेकिन कई लोगों को नंगे पैर ही अपनी गाड़ी तक जाना पड़ा।

फोटो साभार- ANI

अटल जी के जाने से पूरा देश दुःखी है। 16 अगस्त को देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का देहावसान हो गया था। 19 अगस्त को उनकी अस्थियों को गंगा में प्रवाहित करने के लिए हरिद्वार में एक 2 से 3 किलोमीटर लंबी अस्थि कलश यात्रा निकाली गई।

इस यात्रा में अटल जी के परिजनों के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, गृहमंत्री राजनाथ सिंह समेत भारी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता मौजूद रहे।

लेकिन अस्थियों के विसर्जन के बाद जब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत अपने जूते पहनने के लिए जूता स्टाल पर पहुंचे तो उनके जूते गायब थे। त्रिवेंद्र के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद रमेश पोखरियाल निशंक को भी उनके जूते नहीं मिले। अटल के परिजनों के भी जूते गायब मिले।

जब इस बात की सूचना अधिकारियों को मिली तो उनके होश उड़ गए उन्होंने स्टाल के आस-पास करीब 10 मिनट जूते ढूंढ़े लेकिन आखिर में सभी को गाड़ी तक पैदल चलकर जाना पड़ा। भीड़ में मौजूद कईयों ने मोबाइल चोरी की बात भी कही है।

नेशनल

बीजेपी अध्यक्ष ने गिरिराज सिंह को किया तलब, देवबंद पर दिया था विवादित बयान

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिह को तलब किया है। जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह के विवादित बयानों को लेकर उनसे सवाल पूछा है।

सूत्रों के मुताबिक जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को बेवजह बयानबाजी से बचने को कहा है। उन्होंने गिरिराज के बयानों पर आपत्ति जताई है। हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को लेकर विवादित बयान दिया था।

शुक्रवार को गिरिराज सिंह ने बेगूसराय के मुस्लिम बहुत इलाके में खुली जीप में सवारी की थी और भीड़ के साथ चलते हुए “भारतवंशी तेरा मेरा रिश्ता क्या, जय श्री राम जय श्री राम” का नारा लगाया था. अपने भाषण में गिरिराज सिंह ने नरेंद्र मोदी को भगवान का अवतार बताया था। उन्होंने भारत माता पर उंगली उठाने वालों की आंखें निकाल लेने की बात कही थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending