Connect with us

नेशनल

अमिताभ बच्चन ने कुछ इस तरह दी अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि

Published

on

राजधानी दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत कई दिनों से नाजुक बनी हुई थी। कल शाम 5 बजे के करीब यह समाचार आया कि अटल अब नहीं रहे। काफी लोगों को एक धक्का लगा है कि अब अटल हमारे बीच नहीं रहे।

अटल के निधन के बाद से ही बॉलीवुड सेलेब्स सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इस कड़ी में महानायक अमिताभ बच्चन ने भी उन्हें सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि दी। आपको बता दें कि अमिताभ बच्चन 1984 में इलाहाबाद से सांसद रहे थे। हालांकि, 1987 में बोफोर्स घोटाले नाम आने के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। तब अटल जी ने उन्हें एक खास सलाह दी थी।

साभार – इंटरनेट

अमिताभ बच्चन ने श्रद्धांजलि देते हुए महानायक अमिताभ बच्चन ने लिखा- अटल बिहारी वाजपेयी (1924-2018) भावपूर्ण श्रधांजलि  ; एक महान नेता , प्रख्यात कवि ,अद्भुत वक्ता व प्रवक्ता  मिलनसार व्यक्तित्व । बाबूजी के प्रशंसक और बाबूजी उनके…

बोफोर्स घोटाला –

1987 में बोफोर्स घोटाले के चलते राजीव गांधी सरकार की फजीहत हुई थी। इलाहबाद से तत्कालीन सांसद और बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन भी आरोपों से घिर गए। अमिताभ ने एक स्वीडिश अखबार पर इस घोटाले में उनका नाम घसीटने के लिए लंदन की कोर्ट में केस कर दिया। अमिताभ इस को केस जीत भी गए। अखबार को माफी मांगनी पड़ी लेकिन इसके बाद भी कई साल तक बोफोर्स घोटाले से अमिताभ का नाम जुड़ता रहा।

साल 1987 में बोफोर्स घोटाले के बाद अमिताभ बच्चन के इस्तीफा देने के बाद जब अटल जी से पूछा कि क्या आप समझते हैं कि बोफोर्स कांड में उनका भी कोई हाथ है।

इसके जवाब में अटल जी ने कहा- इस घोटाले में उनके भाई का नाम भी है। ऐसे में उन्हें जवाब देना होगा कि उनके भाई अपना कारोबार छोड़कर अचानक स्विटजरलैंड क्यों चले गए। उनके बच्चे महंगे स्कूलों में पढ़ रहे हैं, उनकी फीस कहां से दी जा रही है। लेकिन, अभी तक कोई उत्तर नहीं दिया गया। शायद पीएम को बचाने के लिए उन्हें इस्तीफा देना पड़ा हो।

 

नेशनल

पूछताछ के बाद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को ईडी ने किया गिरफ्तार

Published

on

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बुधवार को पी चिदंबरम से पूछताछ करने पहुंची प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 30 मिनट तक केस से जुड़े सवाल पूछे और बाद में उन्हें औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया।

आपको बता दें कि मंगलवार को राउज एवेंयू कोर्ट ने ईडी को पूछताछ करने के लिए 30 मिनट की अनुमति दी थी। अब चिदंबरम को हिरासत में लेने के लिए ईडी कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी।

इससे पहले तिहाड़ जेल में चिदंबरम से ईडी के तीन अफसरों ने पूछताछ की थी। ईडी की पूछताछ के दौरान पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी और बेटे कार्ति भी मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending