Connect with us

प्रादेशिक

लुटेरों ने मस्जिद जैसी पाक जगह को भी नहीं छोड़ा, कर डाली शर्मनाक हरकत

Published

on

मस्जिद

रायपुर। छत्तीसगढ़ के तखतपुर में मस्जिद में नमाज अदा करते वक्त एक व्यवसायी के चार लाख रुपये चोर ने उड़ा दिए। व्यवसायी का नोटों से भरा बैग चला गया, और उसे इस बात की भनक तक नहीं लगी। नमाज अदा करने के बाद बैग चोरी का पता चला तो मस्जिद में हड़कंप मच गया।

हालांकि चोरी की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी, और पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है और चोर की तलाश कर रही है।पुलिस के अनुसार, बिलासपुर जिले के तखतपुर में अंसारी खाद भंडार के संचालक मुकीम अंसारी रोजाना की तरह दुकान बंद कर मंगलवार रात लगभग साढ़े आठ बजे मंडी चौक स्थित मस्जिद में नमाज अदा कर रहे थे।

नमाज अदा करते वक्त उसने चार लाख रुपये से भरा बैग पास में ही रखा था। इस बीच एक शख्स बैग को पार करने की नियत से मस्जिद में घुसा, जिसके बाद एक बार पीछे मुड़ जाता है और दूसरी बार वह सीधे नमाज अदा कर रहे व्यापारी के पैसों से भरे बैग को लेकर मस्जिद से बाहर निकलता है।

दो अज्ञात युवक पहले से ही बाइक स्टार्ट कर इंतजार कर रहे होते हैं और युवक के बाहर निकलते ही तीनों बाइक से फरार हो गए। पुलिस ने कहा कि सीसीटीवी फूटेज को जारी कर दिया गया है और आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई है। पुलिस को उम्मीद है कि जल्द ही चोर गिरफ्त में होगा।

प्रादेशिक

बसपा के 6 विधायकों ने दिया मायावती को झटका, कांग्रेस में हुए शामिल

Published

on

नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती को बड़ा झटका लगा है। यह झटका राजस्थान में उनके 6 विधायकों ने दिया है। सोमवार को राजस्थान में बसपा के टिकट से चुनाव जीतने वाले विधायकों ने कांग्रेस का दामन थाम लिया।

विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के बाद अब राजस्थान में सरकार और भी ज्यादा मजबूत स्थिति में आ गई है। इससे पहले बसपा के ये 6 विधायक कांग्रेस को बाहर से समर्थन दे रहे थे।

बसपा विधायकों ने सोमवार देर रात कांग्रेस की सदस्यता ली। रात 10:30 बजे सभी विधायक विधानसभा पहुंचे और कांग्रेस में शामिल हुए।

इन विधायकों में राजेन्द्र गुढा (विधायक, उदयपुरवाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (विधायक, नदबई), वाजिब अली (विधायक, नगर), लाखन सिंह मीणा (विधायक, करोली), संदीप यादव (विधायक, तिजारा) और बसपा विधायक दीपचंद खेरिया शामिल हैं।

विधायक जोगेंद्र सिंह अवाना ने कहा कि सभी छह विधायकों ने जरुरी कागजात सब्मिट कर दिए हैं। ढेर सारी चुनौतियां थीं। एक तरफ हम राज्य में कांग्रेस सरकार का समर्थन कर रहे हैं और दूसरी तरफ हम उनके खिलाफ संसद चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में हमने हमारे निर्वाचन क्षेत्रों के विकास और राज्य के लोगों के कल्याण को देखते हुए यह कदम उठाया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending