Connect with us

नेशनल

मुसलमानों ने पेश की मिसाल, इस मस्जिद में केवल नमाज नहीं वेद और बाइबल भी पढ़ी जाती है

Published

on

नई दिल्ली। भारत में लगातार बढ़ती चली जा रही मॉब लिंचिंग देश के लिए एक बेहद गंभीर समस्या है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसे जानकर आपको यकीन हो जाएगा कि आज भी देश में गंगा-जमुनी तहजीब लोगों के दिलों में बसती है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

हम बात कर रहे हैं असम की एक जामा मस्जिद की जहां नमाज ही नहीं बल्कि दूसरे धर्मों का भी बराबर सम्मान दिया जाता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक असम की इस मस्जिद में बाकी धर्मों और उनकी किताबों को बराबर सम्मान दिया गया है।

इस मस्जिद की खासियत जानकर हर कोई सोशल मीडिया पर इसकी तारीफ कर रहा है। यह जामा मस्जिद असम के काचर जिले में है। मस्जिद के सेकेंड फ्लोर पर कई अलमारियां है जिसमें कई घर्मों के किताब एक साथ रखी गईं हैं।

यहां की लाइब्रेरी में कुरान, इस्लाम धर्म से जुड़ी किताबों के आलावा ईसाई दर्शन, वेद, उपनिषद, रामकृष्ण परमहंस और विवेकानंद की बायोग्राफी और  रविंद्रनाथ टैगोर व सरत चंद्र चट्टोपाध्‍याय के उपन्‍यास भी मौजूद हैं।

नेशनल

मोदी सरकार के फैसले पर भड़के बीजेपी सांसद, बोले-कोर्ट जाऊंगा

Published

on

नई दिल्ली। एअर इंडिया को बेचने की तैयारियों के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सोमवार को प्रारंभिक जानकारी वाला मेमोरंडम जारी करने के बाद स्वामी सरकार के खिलाफ खड़े हो गए।

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट के जरिए फैसले का विरोध करते हुए कहा कि यह सौदा पूरी तरह से देश विरोधी है और मुझे कोर्ट जाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। हम परिवार की बेशकीमती चीज को नहीं बेच सकते।

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एअर इंडिया को बेचने के फैसले पर नाराजगी जाहिर की है।

इससे पहले भी वह सरकार की इस पहल पर सवाल खड़े कर चुके हैं। माना जा रहा है कि केंद्र के इस फैसले को लेकर राजनीतिक और कानूनी अड़चन पैदा हो सकती है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending