Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री के दौरे अभी ख़त्म नहीं हुए हैं, पहली बार इस देश में जाएंगे नरेंद्र मोदी

Published

on

नई दिल्ली। भले ही आपको लगता हो कि लोकसभा चुनाव को जुमा-जुमा एक साल बचा है तो हमारे आपके प्रधानमंत्री पूरा समय देश में ही रहेंगे। लेकिन नहीं प्रधानमंत्री के विदेशी दौरे अभी ख़त्म नहीं हुए हैं। पीएम मोदी अगले ही सप्ताह 23 से 27 जुलाई तक रवांडा, युगांडा और दक्षिण अफ्रीका की यात्रा पर जाएंगे। विदेश मंत्रालय ने आज जानकारी दी कि प्रधानमंत्री तीनों देशों की यात्रा के दौरान ब्रिक्स सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे।

विदेश मंत्रालय के आर्थिक संबंध के सचिव टी. एस. तिरूमूर्ति ने संवाददाताओं को बताया कि प्रधानमंत्री पहले दो दिन रंवाडा की यात्रा पर रहेंगे। ऐसा पहली बार होगा कि भारत का कोई प्रधानमंत्री रवांडा की यात्रा पर गया हो। उन्होंने कहा, इस यात्रा के दौरान संभवत: भारत रक्षा सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर करेगा। तिरूमूर्ति ने बताया कि प्रधानमंत्री 24-25 जुलाई को युगांडा में रहेंगे। यात्रा के दौरान मोदी शिष्टमंडल स्तरीय वार्ता करने के अलावा युगांडा की संसद को भी संबोधित करेंगे।

यात्रा के अंतिम चरण में प्रधानमंत्री दक्षिण अफ्रीका जाएंगे। वहां वह ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। सम्मेलन में अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा सहित तमाम वैश्विक मुद्दों पर चर्चा होनी है। ब्रिक्स में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय

26/11 मुंबई हमलाः आतंकियों की जानकारी देने वाले को अमेरिका ने किया 35 करोड़ देने का ऐलान!

Published

on

By

नई दिल्ली। 26 नवंबर ये वो तारीख है जब समुद्र के रास्ते पाकिस्तान से आंतकी मुंबई में घुस आए और सैकड़ो बेगुनाहों की जान ले ली। इस आतंकी हमले को देश आज तक नहीं भुला पाया है।

हमले के बाद सेना के जवानों और पुलिस अफसरों ने अपनी जान की बाजी लगाकर कई लोगों को आतंकियों के चंगुल से छुड़ाया और आतंकियों को मार गिराया।

इन आतंकियों में से एक आतंकी अजमल कसाब जिंदा पकड़ा गया जिसे बाद में कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई। इस हमले में भारतीय ही नहीं बल्कि विदेशी नागरिकों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

इनमें से 6 नागिरक अमेरिकी थे। अमेरिका आज भी इस हमले को नहीं भूला है। अमेरिका पहले भी मुंबई आतंकी हमले से जुड़े लोगों की जानकारी देने वालों को 35 करोड़ रुपए देने का एलान कर चुका है।

अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने  पहले ये एलान किया था कि जो भी व्यक्ति हमले की योजना बनाने या इसमें मदद करने वाले की जानकारी देगा उसे अमेरिकी सरकार द्वारा इनाम दिया जाएगा।

Continue Reading

Trending