Connect with us

नेशनल

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद केजरीवाल ने एलजी को लिखी चिट्ठी, मिला हैरान कर देने वाला जवाब

Published

on

केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उप राज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखकर सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पूरी तरह लागू करवाने की अपील की।

केजरीवाल

उन्होंने कहा कि इस आदेश में तीन मामलों को छोड़कर बाकी सभी में दिल्ली सरकार की वरीयता स्थापित की गई है। बैजल ने इस पर पलटवार करते हुए कहा कि मामला शीर्ष अदालत की एक नियमित पीठ के समक्ष लंबित है, इसलिए समय से पहले निष्कर्ष नहीं निकालें।

केजरीवाल ने बैजल द्वारा सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को चयनात्मक रूप से स्वीकार किए जाने पर सवाल पूछा और किसी भी भ्रम की स्थिति में उन्हें तत्काल सर्वोच्च न्यायालय जाने की सलाह दी।

केजरीवाल

केजरीवाल ने 9 जुलाई को लिखे पत्र में कहा, मैं आपको फिर से सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को पूर्णत: लागू करवाने का आग्रह करता हूं। गृह मंत्रालय के पास सर्वोच्च न्यायालय के फैसले की व्याख्या करने का अधिकार नहीं है। अगर आपको कोई भी भ्रम है, आप स्पष्टीकरण के लिए सर्वोच्च न्यायालय का रुख करें और कृपया न्यायालय के फैसले का उल्लंघन न करें।

केजरीवाल

केजरीवाल ने यह भी लिखा कि उप राज्यपाल फाइल और आदेश के एक भाग को मानने के लिए तैयार हैं, लेकिन उस भाग को लागू नहीं कर रहे हैं जिसमें कहा गया है, ‘केंद्र सरकार की कार्यकारी शक्तियां केवल तीन विषयों तक ही सीमित हैं।’

उन्होंने लिखा, आप फैसले को अपनी पसंद-नापसंद के हिसाब से स्वीकार कैसे कर सकते हैं? या तो आप एक पक्ष लें कि सभी मामले अब एक नियमित खंडपीठ के समक्ष रखे जाएंगे और इसलिए आप आदेश के किसी भी भाग को लागू नहीं करेंगे या नहीं तो आपको पूरे आदेश को स्वीकार करना चाहिए और लागू करना चाहिए। आप यह कैसे कह सकते हैं कि आप आदेश के इस खास भाग को स्वीकार करेंगे और किसी अन्य भाग को स्वीकार नहीं करेंगे।

बैजल ने इसके जवाब में एक बयान जारी कर कहा, जब याचिका नियमित पीठ के पास अभी भी लंबित है, तो इस संबंध में पहले ही निष्कर्ष निकाल लेना जल्दबाजी होगी।

उन्होंने कहा, पूरे फैसले और इसके कार्यान्वयन का अभी भी अध्ययन किया जा रहा है। इस पर ध्यान दिया जा सकता है कि अंतिम पैरा में, अदालत ने संदर्भ का जवाब देते हुए इस मामले को उचित नियमित पीठ को भेजने के आदेश दिए थे।

इसलिए, यह मामला तब पूरी तरह स्पष्ट होगा, जब नियमित पीठ में लंबित सुनवाई पूरी हो जाएगी। बैजल ने यह भी कहा कि केजरीवाल का पत्र यहां पहुंचने से पहले ही सोशल और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रकाशित हो चुका था।

नेशनल

ईशा अंबानी की शाही शादी में ऐसे हैं इंतजाम, जानकर उड़ जाएंगे होश!

Published

on

नई दिल्ली। भारत के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी की लाडली बेटी ईशा अंबानी 12 दिसंबर को आनंद पीरामल के साथ शादी के बंधन में बंध जाएंगी।

यह शाही शादी मुंबई में होगी लेकिन उससे पहले राजस्थान में दोनों की प्री वेडिंग सेरेमनी चल रही है। इस समारोह में देश विदेश से कई वीवीआईपी मेहमान शिरकत करने पहुंच रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिकन राजनेता हिलेरी क्लिंटन इस इवेंट में शिरकत करने पहले ही पहुंच चुकी हैं।  इस शादी में शरीक हो रहे इंटरनेशनल मेहमानों में अमेरिकन सिंगर बेयॉन्स का भी नाम शामिल है।

पिंकविला की एक खास रिपोर्ट के मुताबिक बेयॉन्स रविवार दोपहर तक भारत लैंड कर जाएंगी। ईशा और आनंद अंबानी के प्री-वेडिंग इवेंट का हिस्सा बनने के बाद बेयॉन्स सोमवार को यहां से रवाना हो जाएंगी। वह यहां पर एक खास परफॉर्मेंस देंगी और खबर के मुताबिक उनकी खास डांस टीम में तकरीबन 60 डांसर शामिल होंगे।

इस इवेंट में बॉलीवुड के भी कई सितारे नजर आएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुपरस्टार शाहरुख खान, सलमान खान, आमिर खान, जॉन अब्राहम, प्रियंका चोपड़ा, निक जोनस, विद्या बालन, करिश्मा कपूर, अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, जया बच्चन, जैकलीन फर्नांडिस और जाह्नवी कपूर समेत तमाम फिल्मी सितारे इस कार्यक्रम में शरीक होने के लिए पहुंच चुके हैं।

उदयपुर के महाराणा प्रताप एयरपोर्ट पर काफी चहल-पहल दिख रही है क्योंकि अंबानी ने सभी मेहमानों के लिए चार्टेड फ्लाइट्स बुक करवाई हैं। शहर के सभी 5 स्टार होटल पूरी तरह बुक हैं क्योंकि वे अंबानी और पीरामल को सेवाएं दे रहे हैं। इतना ही नहीं तकरीबन 1000 लग्जरी गाड़ियां बुक कराई गई हैं जो उदयपुर एयरपोर्ट से मेहमानों को लाने ले जाने का काम करेंगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending