Connect with us

नेशनल

मिशन 2019 : वाराणसी से मोदी के खिलाफ यह नेता लड़ सकता है चुनाव, नाम जानकर हो जाएंगे हैरान

Published

on

अपने देश में राजनीति आजकल टॉप ट्रेंडिंग टॉपिक है। आगामी लोकसभा चुनाव 2019 के लिए तमाम सर्वे सामने आ रहे हैं। 2019 में ऊंट किस करवट बैठेगा यह जानने के लिए हर कोई बेचैन है। आगामी लोकसभा चुनाव में मोदी मैजिक चलेगा या महागठबंधन भारी पड़ेगा यह जानना हर कोई चाहता है।

लोकसभा चुनाव 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने के लिए विपक्ष सारी तैयारियां कर रहा है। विपक्ष के सामने यह सबसे बड़ी चुनौती है कि नरेंद्र मोदी के खिलाफ या उनके विरुद्ध वाराणसी से आखिर कौन चुनाव लड़ेगा।

सूत्रों के अनुसार वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरुद्ध सपा प्रमुख अखिलेश यादव चुनाव लड़ सकते हैं। दोस्तों सूत्रों की मानें तो विपक्ष के इस फैसले से बीजेपी की बेचैनी बढ़ गयी है।

आपको बता दें कि सोशल मीडिया की खबरों के अनुसार अगर अखिलेश यादव वाराणसी सीट से चुनाव लड़ते हैं तो यह बीजेपी के लिए बहुत बड़ा झटका हो सकता है।

कही ना कहीं अखिलेश यादव के वाराणसी से लड़ने पर पिछड़ा वर्ग बीजेपी से दूर हो सकता है। हालांकि इसकी कोई आधिकारिक घोषणा नही हुई है, अभी सूत्रों के माध्यम से यह जानकारी मिल रही है।

नेशनल

बीजेपी अध्यक्ष ने गिरिराज सिंह को किया तलब, देवबंद पर दिया था विवादित बयान

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिह को तलब किया है। जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह के विवादित बयानों को लेकर उनसे सवाल पूछा है।

सूत्रों के मुताबिक जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को बेवजह बयानबाजी से बचने को कहा है। उन्होंने गिरिराज के बयानों पर आपत्ति जताई है। हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को लेकर विवादित बयान दिया था।

शुक्रवार को गिरिराज सिंह ने बेगूसराय के मुस्लिम बहुत इलाके में खुली जीप में सवारी की थी और भीड़ के साथ चलते हुए “भारतवंशी तेरा मेरा रिश्ता क्या, जय श्री राम जय श्री राम” का नारा लगाया था. अपने भाषण में गिरिराज सिंह ने नरेंद्र मोदी को भगवान का अवतार बताया था। उन्होंने भारत माता पर उंगली उठाने वालों की आंखें निकाल लेने की बात कही थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending