Connect with us

नेशनल

आखिर क्यों मशहूर लेखक ने मोदी से कहा- मुझे शर्म आती है कि आप हमारे प्रधानमंत्री हैं!

Published

on

फेक न्यूज ये एक ऐसा शब्द है, जिसको आप बहुत ही अच्छी तरह से जानते होंगे। किसी भी राजनेता या अभिनेता के बारे में झूठ फैलने का काम ये करता है। रोजाना ऐसे मामले सामने आते हैं जब किसी फेक तस्वीर, खबर या वीडियो से लोगों को बदनाम करने की साजिश की जाती है और उन्हें सोशल मीडिया पर खुलेआम मारने की धमकी तक दी जाती है। और तो और इसका प्रभाव किस कदर बढ़ गया है। किस हद तक इसने लोगों के मन में जहर बो दिया है। अब ये किसी को बताने की जरूरत नहीं है।

साभार – INTERNET

बीते दिनों देश की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तक को जान से मारने की खुलेआम सोशल मीडिया पर धमकी दे चुके हैं। सबसे शर्मनाक बात ये है कि ऐसे कई लोगों को हमारे देश के पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई सरकारी मंत्री और बड़े नेता फॉलो करते हैं।

साभार – INTERNET

हाल में ही कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी से जुड़ा है। @GirishK1605 नामक ट्विटर हैंडल से प्रियंका चतुर्वेदी की बेटी के बलात्कार की धमकी दी गई है। ‘जय श्री राम’ के नाम से ट्विटर प्रयोग करने वाले इस ट्विटर यूजर ने साथ में एक फोटो भी शेयर की है जिसमें प्रियंका के हवाले से एक फेक बयान शेयर किया हुआ है। इस बयान में दावा किया गया है कि प्रियंका ने मंदसौर में रेप का समर्थन करते हुए कहा है कि मंदसौर में बलात्कार ही तो हुआ है, मुस्लिमों का हक है।

साभार – INTERNET

बता दें कि प्रियंका का यह बयान फेक है। जिसके आधार पर @GirishK1605 ने प्रियंका की बेटी का बलात्कार करने की धमकी दी है। प्रियंका ने मुंबई पुलिस को ट्वीट करते हुए इस ट्विटर यूजर के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की है। प्रियंका ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘भगवान राम के नाम से ट्विटर हैंडल चलाकर, पहले तो मेरा गलत बयान लगाते हो, फिर मेरी बेटी के बारे में अभद्र टिप्पणी करते हो। कुछ शर्म हो तो चुल्लू भर पानी में डूब मरो वरना भगवान राम ही इसका सबक सिखाएंगे तुम जैसे नीच सोच वाले इंसान को।

साभार – INTERNET

मामले में ताजा अपडेट ये है कि खुद को फंसता देख @GirishK1605 ने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर दिया है। इस मामले में किसी भी राजनेता ने कोई भी बयान नहीं दिया है। जबकि वहीं प्रियंका के समर्थन में आने वाले बॉलीवुड लेखक-निर्देशक अविनाश दास ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री मोदी @GirishK1605 नामक इस ट्विटर यूजर को फॉलो करते हैं। अविनाश ने ट्वीट करते हुए कहा है, ‘माननीय नरेंद्र मोदी जी, अगर आप इस जैसों को फॉलो करते हैं, तो मुझे शर्म आती है कि आप हमारे प्रधानमंत्री हैं!’

 

नेशनल

दिल्ली हिंसा: पुलिस को फटकार लगाने वाले जज का हुआ तबादला, कांग्रेस ने उठाए सवाल

Published

on

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा पर केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस को फटकार वाले जज एस मुरलीधर का तबादला दिल्ली हाई कोर्ट से पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में कर दिया गया है। सुप्रीम कॉलिजियम ने बीती 12 फरवरी को जस्टिस मुरलीधर के तबादले को लेकर सुझाव दिया था जिसके बाद बुधवार को इससे संबंधित नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे के साथ विचार-विमर्श करने के बाद फैसला लिया है।

वहीँ, जज के तबादले को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस फैसले को दुखद बताया। इसबीच उनके भाई तथा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने न्यायमूर्ति लोया के याद करते हुए केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया, जिनकी मौत पर राजनीतिक विवाद हुआ था। प्रियंका ने ट्वीट किया, “वर्तमान स्थिति को देखते हुए न्यायमूर्ति मुरलीधर का आधी रात को ट्रांसफर चौंकाने वाली घटना नहीं है, लेकिन यह दुखद और शर्मनाक है।”

स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए उन्होंने आरोप लगाया, “लाखों भारतीय नागरिकों को ईमानदार न्यायपालिका पर विश्वास है, लेकिन न्याय को विफल करने और उनके विश्वास को तोड़ने का सरकार का प्रयास दुस्साहस भरा है।” इसी दौरान उनका साथ देते हुए राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर दिया, “बहादुर जज लोया की याद आई, जिनका ट्रांसफर नहीं हुआ था।” न्यायाधीश बी.एच. लोया सोहराबुद्दीन मामले की सुनवाई कर रहे थे, जब दिसंबर 2014 में उनकी नागपुर में संदिग्ध मौत हो गई थी। कानून एवं न्याय मंत्रालय ने बुधवार को दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति एस. मुरलीधर का स्थानांतरण (ट्रांसफर) पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट कर दिया था।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending