Connect with us

नेशनल

एक भारतीय चित्रकार जिसकी पेंटिंग काली करोड़ों रुपए में बिकी

Published

on

अगर किसी चित्रकार की पेंटिंग करोड़ों रुपए में बिके तो हैरान हो जाएंगे। लेकिन ऐसा हुआ है। इसके साथ ही उस चित्रकार के नाम एक नया रिकार्ड दर्ज हो गया। अब तो चित्रकार का नाम और धन जानने की जिज्ञासा बहुत बढ़ गई होगी।

पेंटिंग ‘काली’ मानवीय मन की दुविधा, अच्छाई और बुराई की लड़ाई, सृजन और विनाश को लेकर अंतर्द्वद को दर्शाती है। यह पेंटिंग जाने-माने दिवंगत चित्रकार तैयब मेहता की है।

एक ऑनलाइन नीलामी में इस भारतीय चित्रकार तैयब मेहता की पेंटिंग ‘काली’ रिकॉर्ड 26.4 करोड़ रुपए में बिकी। इतनी महंगी पेंटिंग बिकने के बाद उनके नाम एक नया रिकॉर्ड दर्ज हो गया। यह ऑनलाइन नीलामी सैफ्रोनर्ट कंपनी ने की।

सैफ्रोनर्ट ने बयान में कहा, आधुनिकतावादी तैयब मेहता ने आज सैफ्रोनर्ट के समर ऑनलाइन नीलामी में 26.4 करोड़ रुपए में काली (1989) की बिक्री के साथ एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है।

ऐसा नहीं है कि तैयब मेहता कि सिर्फ यह ही पेंटिंग इतनी महंगी बिकी है। तैयब मेहता का पिछला रिकॉर्ड मशहूर नीलामी घराने क्रिस्टी के साथ था। मई 2017 में उनकी पेंटिंग वुमन ऑफ रिक्शा (1994) क्रिस्टी की नीलामी में 22.99 करोड़ में बिकी थी। सैफ्रोनर्ट ने काली के खरीदार के नाम का खुलासा नहीं किया और कहा कि ऐसा करना कंपनी के नियम के खिलाफ है।

सैफ्रोनर्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी व सह-संस्थापक दिनेश वजिरानी ने बिक्री की घोषणा के बाद आईएएनएस को बताया, तैयब मेहता की काली ने आधुनिक भारतीय कला बिक्री में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है और भारतीय कला के लिए ऑनलाइन नीलामी के आगे का रास्ता प्रशस्त किया है।

तैयब मेहता महान चित्रकार मक़बूल फ़िदा हुसैन और सैयद हैदर रज़ा के समकालीन थे। तैयब मेहता मुंबई के जेजे स्कूल ऑफ आर्ट के छात्र थे। तैयब शांतिनिकेतन में रहते हुए दुर्गा और काली से बेहद प्रभावित हुए थे। जीवन का अधिकांश समय मुंबई में बिताने वाले तैयब मेहता (84 वर्ष) का दो जुलाई 2009 को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। साल 2007 में वह पद्म भूषण से नवाजे गए थे। गुजरात में जन्मे तैयब देश में प्रगतिशील कला आंदोलन में सक्रिय कलाकारों में थे। (इनपुट आईएएनएस)

नेशनल

बीजेपी अध्यक्ष ने गिरिराज सिंह को किया तलब, देवबंद पर दिया था विवादित बयान

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिह को तलब किया है। जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह के विवादित बयानों को लेकर उनसे सवाल पूछा है।

सूत्रों के मुताबिक जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को बेवजह बयानबाजी से बचने को कहा है। उन्होंने गिरिराज के बयानों पर आपत्ति जताई है। हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को लेकर विवादित बयान दिया था।

शुक्रवार को गिरिराज सिंह ने बेगूसराय के मुस्लिम बहुत इलाके में खुली जीप में सवारी की थी और भीड़ के साथ चलते हुए “भारतवंशी तेरा मेरा रिश्ता क्या, जय श्री राम जय श्री राम” का नारा लगाया था. अपने भाषण में गिरिराज सिंह ने नरेंद्र मोदी को भगवान का अवतार बताया था। उन्होंने भारत माता पर उंगली उठाने वालों की आंखें निकाल लेने की बात कही थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending