Connect with us

प्रादेशिक

उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन का हुआ भव्य आयोजन, देखें तस्वीरें

Published

on

उतर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सीएमएस ऑडिटोरियम में उत्तर प्रदेश का पहला आंचलिक पत्रकार सम्मेलन आयोजित किया गया । यह कार्यक्रम 30 मई यानि कि हिंदी पत्रकारिता दिवस पर शुरू हुआ है।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक शामिल हुए। मुख्य अतिथि के साथ बाकी गणमान्य लोगों ने कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्वलन के साथ की।

उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन का हुआ भव्य आयोजन।

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में उत्तर प्रदेश के लगभग 800 पत्रकार शामिल हो रहे हैं। पत्रकारों के अला वा इसकार्यक्रम में कई अन्य दिग्गज भी शिरकत कर रहे हैं। पत्रकार सम्मलेन का मुख्य उद्देश्य क्षेत्रीय पत्रकारिता के समक्ष बदले समय में आ रही चुनौतियां और उनसे निपटने पर विचार-विमर्श करना है।

आइए देखते हैं उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन की कुछ झलकियां …

उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में शामिल होने वाले लोगों के लिए बनाया गया खास हस्ताक्षर बोर्ड।

 

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में उत्तर प्रदेश के लगभग 800 पत्रकार शामिल हो रहे हैं।

 

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में पत्रकारों को संबोधित करते उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाइक।

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाइक ने कहा, ” पत्रकारिता अपने दम पर भारत का चौथा स्तंभ बनी है। चार दिसंबर 1826 को भारत का पहला अखबार उदंत मार्तंड शुरू किया गया। वह अखबार अधिक समय तक नहीं चल पाया, लेकिन उसकी शुरूआत ही एक बड़ी बात थी। लोकमान्य तिलक ने हिंदी पत्रकारिता को एक नया मोड़ दिया। चौथा स्तंभ मजबूत रहना चाहिए और इसे आगे चमकते रहना चाहिए।”

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन की शुरूआत करते हुए पत्रकारिता जगत की चर्चा करते हुए नेशनल मीडिया क्लब के संस्थापक रमेश अवस्थी।

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में नेशनल मीडिया क्लब के संस्थापक रमेश अवस्थी ने आज के युग में हिंदी पत्रकारिता की अहमियत के बारे में अपनी बात रखी। उन्होंने सम्मेलन में आए पत्रकारों को बधाई दी और पत्रकारिता को सफलतापूर्वक आगे बढ़ाने की बात कही।

उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन के मीडिया पार्टनर बना आज की खबर , लाइव उत्तर प्रदेश और लाइव उत्तराखंड न्यूज़ नेटवर्क ।

 

पत्रकार सम्मेलन में लोगों को संबोधित करते सीएमएस स्कूल के संस्थापक डॉ. जगदीश गांधी।

इस मौके पर सीएमएस स्कूल के संस्थापक डॉ. जगदीश गांधी ने बताया, ” आज के समय में पत्रकारों की महत्वपूर्ण भूमिका है। पत्रकार ही वोट डालने के लिए सभी को जागरूक करते हैं और भ्रष्टाचार खत्म करने के प्रति हमें जागरूक करते हैं। मैं रमेश अवस्थी को इस पहल की शुरूवात के लिए बधाई देता हूं।”

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते यूपी कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक।

इस आयोजन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा, ” मैं रमेश अवस्थी जी के इस आयोजन और स्वछता अभियान के लिए बधाई देता हूं और नेशनल मीडिया कल्ब NMC के उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूं।एनएमसी को आगे बढ़ने में सरकार का पूरा सहयोग है और रहेगा। ”

पत्रकारों की समस्या को लेकर सभी पत्रकारों ने राज्यपाल रामनाइक को एक ज्ञापन सौंपा। राज्यपाल को ज्ञापन देते वरिष्ठ पत्रकार ।

 

सम्मेलन में भारत सरकार की राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने रखी अपनी बात, दी पत्रकारों को बधाई।

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा, ” मैं पौराणिक क्षेत्र को पत्रकारिता से जोड़ना चाहती हूँ। आंचलिक पत्रकारों के माध्यम से ही हमें छोटी से छोटी खबरें मिल पाती हैं। आंचलिक पत्रकार प्राथमिक सूचना का स्रोत होता है। स्वछता अभियान सबका है, पत्रकारों ने ही इसे सफल बनाया है। मैं मीडिया और रमेश जी का बहुत बहुत अभिनंदन करती हूं। आने वाले समय में गांव के पत्रकारों को भी प्रोत्साहन देना चाहिए।”

समारोह में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने सभी पत्रकारों को हिंदी पत्रकारिता दिवस की बधाई दी।

उत्तर प्रदेश के पहले आंचलिक पत्रकार सम्मेलन में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा, ” पत्रकारिता जगत में इस तरह के समागम ज़्यादा देखने को नहीं मिलते हैं। आज यहां पर दूर-दूर से गांव-देहात के पत्रकार शामिल होने आए हैं। सभी को दिल से बधाई।” उन्होंने मज़ाकिए लहजे में आगे कहा कि आज अगर नारद जी होते, तो वो पत्रकारों के काफी मददगार साबित हो सकते थे।”

पत्रकारों की परेशानियों को लेकर यूपी के कैबिनेट मंत्री राजेश अग्रवाल ने रखी अपनी बात।

” हमारे पास पत्रकारों की समस्या को लेकर कई शिकायतें आई हैं, प्रदेश सरकार इन शिकायतों पर जल्द ही कार्रवाई करेगी। आज गांव के पत्रकार  बंध कर रह जाते हैं, उन्हें आगे लाने के लिए नेशनल मीडिया क्लब अच्छा काम कर सकता है। इस आयोजन के लिए क्लब को हार्दिक बधाई।” यूपी के कैबिनेट मंत्री राजेश अग्रवाल ने समारोह में लोगों को संबोधित करते हुए कहा।

 

समारोह में पत्रकारों के लिए विशेष सरकारी निदर्शिनी लांच की गई ।

आंचलिक पत्रकार सम्मेलन के मौके पर पत्रकारों के लिए खासतौर पर सरकारी निदर्शिनी को लांच किया गया। निदर्शिनी में सरकारी विभागों के ज़रूरी मोबाइल नंबर मौजूद हैं। इनकी मदद से पत्रकारों को न्यूज़ रिपोर्ट बनाने में मदद मिलेगी।

 

समारोह में शामिल हुए स्वास्थ्य मंत्री, उत्तर प्रदेश सिद्धार्थ नाथ सिंह।

कार्यक्रम में आए पत्रकारों को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री, उत्तर प्रदेश सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा,”  आज पहली बार पत्रकारों की अंदर की बात जानने का मौका मिला। पहले की पत्रकारिता और आज की पत्रकारिता में बहुत अंतर है। आज ज़िलों और ब्लॉक में रह कर काम करने वाले पत्रकारों की पत्रकारिता में अहम भूमिका है। मैं पत्रकारों के हित के लिए राज्य सरकार से उनके लिए पैरवी करूंगा।”

 

प्रदेश भर से आए पत्रकारों का हुआ स्वागत।

प्रादेशिक

यूपी बोर्ड के स्टूडेंट्स का जल्द खत्म होगा इंतजार, इतने दिनों के बाद आ सकता है रिजल्ट

Published

on

लखनऊ। यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स का इंतजार जल्द खत्म होने जा रहा है। दरअसल, बोर्ड ने रिजल्ट जारी करने को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैँ।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की कक्षाओं की बोर्ड परिक्षाओं के परिणामों की घोषणा जून माह के अंत तक की जा सकती है। हालांकि माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से कोई भी आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं करायी गयी है।

बता दें कि यूपी बोर्ड के 90 फीसदी से अधिक कॉपियों का मूल्यांकन पूरा होने के साथ ही बच्चों को मिले अंक विषयवार अंकपत्र पर चढ़ाए जाने लगे हैं। जिस तेजी से मूल्यांकन हुआ है, अब परिणाम जून अंत तक आने की पूरी संभावना बन गई है।

इसी के साथ परीक्षा में सम्मिलित 50 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार भी पूरा हो जाएगा। मूल्यांकन और परिणाम तैयार करने की शासनस्तर पर लगातार समीक्षा भी हो रही है।

23 मई तक कुल 3.10 उत्तरपुस्तिकाओं में से सवा दो करोड़ से अधिक का मूल्यांकन हो चुका था। अब तक 90 प्रतिशत से अधिक कॉपियां जांची जा चुकी है और इस हफ्ते सभी 281 केंद्रों पर मूल्यांकन पूरा हो जाएगा।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending