Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

मिस्र में यूट्यूब पर एक माह का बैन

Published

on

मिस्र की शीर्ष प्रशासनिक अदालत ने शनिवार को यूट्यूब पर एक महीने का प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए हैं। यूट्यूब पर प्रतिबंध लगाने का मुकदमा दायर करने वाले वकील ने कहा कि अदालत ने यह फैसला पैगंबर मोहम्मद की ईशनिंदा करने वाले वीडियो को यूट्यूब पर प्रचारित करने की वजह से लिया है।

सिन्हुआ के मुताबिक, वकील मोहम्मद हमाद सलेम ने कहा, “यह फैसला अंतिम और लागू करने योग्य है और इसके खिलाफ अपील भी नहीं की जा सकती।”

एक निचली प्रशासनिक अदालत ने पहले राष्ट्रीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (एनटीआरए) को ऐसा करने के आदेश दिए थे लेकिन बाद में एनटीआरए ने इस फैसले के खिलाफ अपील करते हुए कहा था कि इसे लागू करना मुश्किल है।

शीर्ष प्रशासनिक अदालत ने शनिवार को एनटीआरए की अपील खारिज करते यूट्यूब पर अस्थाई प्रतिबंध जारी रखने को अंतिम फैसला बताया और कहा कि इसके खिलाफ अपील नहीं की जा सकती।

अमेरिकी इंटरनेट दिग्गज गूगल की कंपनी यू-ट्यूब ने मिस्र, लीबिया, इंडोनेशिया और सऊदी अरब समेत कई देशों में इस फिल्म को ब्लॉक कर दिया था।(इनपुट आईएएनएस)

अन्तर्राष्ट्रीय

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने CAA-NRC को लेकर दिया ये बयान

Published

on

नई दिल्ली। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर बड़ा बयान दिया है।

शेख हसीना ने गल्फ न्यूज को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा कि यह भारत का आंतरिक मामला बताया है। इंटरव्यू में शेख हसीना ने सीएए पर कहा कि हम यह नहीं समझते कि (भारत सरकार) ने ऐसा क्यों किया। यह जरूरी नहीं था।

हसीना का यह बयान बांग्लादेश के विदेश मंत्री ए.के. अब्दुल मोमन बयान के बाद आया है। मोमन ने कहा था कि सीएए और एनआरसी भारत के आंतरिक मुद्दे हैं, लेकिन चिंता व्यक्त की कि देश में किसी भी अनिश्चितता से उसके पड़ोसियों को प्रभावित होने की संभावना होती है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending