Connect with us

नेशनल

मुझे सत्ता का लोभ नहीं : नीतीश

Published

on

 

पटना| बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को अपनी ‘संपर्क यात्रा’ की शुरुआत बेतिया से की। इस दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर हमला बोला। उन्होंने भाजपा को समाज में नफरत फैलाने वाली पार्टी बताया। संपर्क यात्रा के पहले दिन पश्चिम चंपारण के बेतिया में जद (यू) कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “मुझे सत्ता का लोभ नहीं है, अगर होता तो मैं मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं देता। मुझ पर कोई दबाव नहीं था। नैतिक दायित्व समझते हुए मैंने स्वेच्छा से पद छोड़ा।”

नीतीश ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने लोगों को बरगला कर वोट पा लिया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने विदेशों में जमा कालाधन 100 दिनों में वापस लाने का वादा किया था, लेकिन सर्वोच्च न्यायालय की फटकार के बाद कालाधन मालिकों की सिर्फ सूची सौंपी गई।  बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर भी नीतीश ने मोदी पर हमला बोला।

उन्होंने चंपारण की धरती को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में गांधी ने यहीं से किसानों के संघर्ष को मुखर किया था। इस धरती को कोई नहीं भुला सकता।
नीतीश ने कहा, “मैं किसी भी नए काम की शुरुआत यहीं से करता हूं। मैंने जितनी भी यात्राएं की हैं, उसकी शुरुआत यहीं से की है।” नीतीश की सभा में कालेधन पर बाबा रामदेव और नरेंद्र मोदी के भाषणों की ऑडियो रिकार्डिग भी लोगों को सुनाई गई।

Dialogue writing tipsdialogue writing tips by do homework for pay ali hale some writers love dialogue

नेशनल

निगमबोध घाट पर पंचतत्व में विलीन हुए अरुण जेटली

Published

on

नई दिल्ली। पूर्व वित्तमंत्री  अरुण जेटली रविवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। निगमबोध घाट पर दोपहर तीन बजे उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया गया है।

अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को एम्स में 66 वर्ष की आयु में निधन हो गया। 9 अगस्त को जेटली को एम्स में भर्ती कराया गया था। उनके निधन से राजनीतिक जमात में शोक की लहर है।

आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर उनके बेटे रोहन ने उन्हें मुखाग्नि दी है। इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता निगमबोध घाट पर मौजूद हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending