Connect with us

नेशनल

देखिए इस कांग्रेस समर्थक का टैलेंट, सीधे राहुल के गले में फेंका फूलों का हार

Published

on

कुछ लोगों का टेलेंट ऐसी जगह सामने आ जाता है कि लोग हैरान होकर वाह! वाह ! कर उठते हैं। ऐसा ही हुआ कर्नाटक के तुमकुर में आयोजित राहुल गांधी के एक रोड़ शो में।

राहुल बुधवार को एक वैन के ऊपर कांग्रेसी नेताओं के साथ खड़े होकर जनता का हाथ हिलाकर अभिवादन कर रहे थे। पब्लिक भी बहुत खुश थी और राहुल के समर्थन में जमकर नारे लगा रही थी। बीच-बीच में लोग राहुल के ऊपर फूल और मालाएं भी फेंक रहे थे। ऐसे में एक शख्स ने सड़क के इस पार से निशाना लगाकर ऐसे माला फेंकी कि सीधे राहुल के गले में जा गिरी। इस गजब के थ्रो से राहुल भी हैरान रह गए और पब्लिक भी। यह पूरा मामला महज कुछ सेकेंडों में निपट गया, वो तो भला हो उस शख्स का जो बस ऐसे ही विडियो बना रहा था और यह आश्चर्यचकित करने वाली घटना कैमरे में कैद हो गई। 11 सेकंड का यह विडियो फौरन सोशल मीडिया पर अपलोड होकर वायरल होने लगा। विडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि राहुल हैरान होकर उस शख्स की ओर देख रहे हैं।

ट्विटर पर इस कांग्रेसी समर्थक की खूब चर्चा हुई हालांकि कुछ लोगों ने कहा कि यह सुरक्षा के लिहाज से एक बड़ी चूक है। बहरहाल, अगर यह गुमनाम शख्स बास्केटबॉल में अपनी किस्मत आजमाता है तो भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में ढेर सारे मेडल ला सकता है।

नेशनल

स्वतंत्रता दिवस के बारे में वो रोचक तथ्य, जिसके बारे में नहीं जानते होंगे आप

Published

on

लखनऊ। राष्ट्रीय पर्व स्वतंत्रता दिवस को लेकर पूरे देश में तैयारियां जोरों पर है। आजादी की 74वीं वर्षगांठ पर हर साल की तरह इस साल भी उत्साह है लेकिन जिस आज़ादी में हम खुली सांस ले रहे हैं वो हमें ऐसे ही नहीं मिली। हजारों लोगों ने अपनी शहादत देकर भारत को आज़ाद करवाया। लेकिन आज हम आपको स्वतंत्रता दिवस के बारे में ऐसी रोचक बातें बताने जा रहे हैं जो शायद आपको पहले से नहीं पता होंगी।

1. आजादी एक दिन में नही बल्कि बरसों संघर्ष करने के बाद मिली। आजादी के लिए पहला बलिदान 1857 में दिया गया।

2. 14 अगस्त की मध्यरात्रि को नेहरू ने एक भाषण दिया था ‘ट्रिस्ट विद डेस्टनी। इसे पूरी दुनिया ने सुना लेकिन महात्मा गांधी ने नही.. क्योंकिं वह उस दिन 9 बजे सोने चले गए थे।

3. भारत 15 August को आज़ाद जरूर हो गया, लेकिन उसका अपना कोई राष्ट्र गान नहीं था। हालांकि रवींद्रनाथ टैगोर जन-गण-मन 1911 में ही लिख चुके थे, लेकिन यह हमारा राष्ट्रगान 1950 में ही बन पाया।

4. 15 अगस्त 1947 को, पूरा देश आजादी के जश्न में डूबा था लेकिन गांधी जी इसमे शामिल नही हो पाए, क्योकिं वह इस समय कलकत्ता में हिंदु-मुस्लिम दंगे को रोकने में लगे थे।

5.  भारत और पाकिस्तान के बीच की सीमा रेखा 15 August तक नही थी। यह 17 August को रेडक्लिफ लाइन के रूप में खींची गई।

6.  अमेरिका को आजाद हुए 241 साल हो चुके हैं लेकिन भारत को सिर्फ 72 साल।

7.  हर स्वतंत्रता दिवस पर माननीय प्रधानमंत्री लाल किले से झंडा फहराते हैं लेकिन 1947 में ऐसा नही हुआ। नेहरू जी ने 16 अगस्त को लाल किले से झंडा फहराया।

8.  आजादी के बाद पुर्तगाल ने अपने संविधान में संशोधन करके गोवा को अपना हिस्सा घोषित कर दिया था। फिर 19 दिसंबर 1961 को भारतीय फौज ने गोवा पर कब्जा करके उसे भारत का हिस्सा बनाया।

9.  15 अगस्त 1947 को, 1 रुपया 1 डाॅलर के बराबर था और सोने का भाव 88 रुपए 62 पैसे प्रति 10 ग्राम था।

Continue Reading

Trending