Connect with us

मुख्य समाचार

विश्व कप : द. अफ्रीका ने आयरलैंड को 201 रनों से हराया

Published

on

कैनबरा,दक्षिण-अफ्रीका,मानुका,आईसीसी-विश्व-कप-2015,आयरलैंड,डेल-स्टेन,डिविलियर्स,प्लेसिस

कैनबरा | मानुका ओवल मैदान पर मंगलवार को दक्षिण अफ्रीका ने आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-बी मुकाबले में 201 रनों की विशाल जीत के साथ आयरलैंड को एक लिहाज से आइना दिखाने का काम किया। ऐसा कहा जा रहा था कि अपने पहले ही मैच में वेस्टइंडीज को हराकर बड़ा उलटफेर करने वाली आयरिश टीम अब्राहम डिविलियर्स की सेना को भी चौंका सकती है, लेकिन विश्व कप में पांचवीं बड़ी जीत के साथ द. अफ्रीका ने इस संभावना को नकार दिया।

द. अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए आयरलैंड के सामने 412 रनों का विशाल लक्ष्य रखा। दक्षिण अफ्रीकी आक्रमण पंक्ति के सामने आयरलैंड के लिए यह स्कोर काफी बड़ा था और इसका दबाव उस पर साफ दिखा। एक समय 48 रनों पर पांच विकेट गंवाने वाले आयरिश टीम ने पारी के मध्य और अंत में थोड़ा संघर्ष किया, इसके बावजूद वह 45 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 210 रन ही बना सकी। केली एबॉट (21-4) और डेल स्टेन (39-2) ने 48 रनों पर आयरलैंड के चार अहम विकेट चटका लिए थे, लेकिन इसके बाद केविन ओब्रायन (48) और एंडी बालबिर्नी (58) ने छठे विकेट के लिए 81 रन जोड़कर एक लिहाज से द. अफ्रीका को जीत के लिए इंतजार कराया। एंडी ने आयरलैंड के लिए द. अफ्रीका के खिलफ सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी खेली। इसी तरह केविन ने दूसरी सबसे बड़ी पारी खेली। एंडी का विकेट 129 रनों के कुल योग पर गिरा। उन्होंने 71 गेंदों पर सात चौके लगाए। इसके बाद केविन ने जॉन मूनी (8) के साथ सातवें विकेट के लिए 21 और जार्ज डॉकरेल (25) के साथ आठवें विकेट के लिए 17 रन जोड़े। केविन 65 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाकर 167 के कुल योग पर पवेलियन लौटे।

ऐसा लगा कि अगले एक या दो ओवर में अब आयरलैंड का पुलिंदा बंध जाएगा लेकिन डॉकरेल ने मैक्स सोरेनसेन (22) के साथ नौवें विकेट के लिए 33 रन जोड़कर एक बार फिर द. अफ्रीका का इंतजार बढ़ा दिया। सोरेनसेन ने 19 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाया तथा डॉकरेल के साथ मिलकर 44 गेंदों तक द. अफ्रीकी गेंदबाजों का सामना किया। डॉकरेल को मोर्ने मोर्कल (34-3) ने बोल्ड किया। यह विकेट 210 के कुल योग पर गिरा। आयरलैंड का यह तीसरा मैच था। इस टूर्नामेंट में इससे पहले तक उसे हार का सामना नहीं करना पड़ा था। ग्रुप-बी की अंकतालिका में वह चार अंकों के साथ तीसरे पायदान पर है। वहीं, खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही दक्षिण अफ्रीका को खेले गए चार मैचों में एक में हार का सामना करना पड़ा है और उसके भी अभी छह अंक है। द. अफ्रीकी टीम पूल-बी में दूसरे स्थान पर है। इससे पहले, मैन ऑफ द मैच चुने गए हाशिम अमला (159) और फाफ दू प्लेसिस (109) ने 12 रन पर क्विंटन दे कॉक (4) का विकेट गिरने के बाद 247 रनों की रिकार्ड साझेदारी निभाई। यह विश्व कप इतिहास में दक्षिण अफ्रीका की दूसरे विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है और इसी की बदौलत द. अफ्रीका टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 411 रन बनाने में सफल रहा।

यह विश्व कप इतिहास का दूसरा सर्वोच्च योग है। यह दूसरा मौका है जब किसी टीम ने विश्व कप के एक ही संस्करण में दो बार 400 या उससे अधिक का स्कोर हासिल किया है। द. अफ्रीका ने इससे पहले 27 फरवरी, 2015 को सिडनी में वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच विकेट पर 408 रन बनाए थे। अमला और इस विश्व कप में अपना पहला शतक लगाने वाले प्लेसिस ने 2007 विश्व कप में अब्राहम डिविलियर्स और जैक्स कैलिस द्वारा इस विकेट के लिए बनाए गए 170 रनों के रिकार्ड को पीछे छोड़ा। इस विकेट के लिए दक्षिण अफ्रीका की ओर से तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी भी अमला और प्लेसिस के ही नाम है। इन दोनों ने 27 फरवरी, 2015 को वेस्टइंडीज के किलाफ 127 रन जोड़े थे। अमला ने 128 गेंदों का सामना कर 16 चौके और चार छक्के लगाए जबकि प्लेसिस ने 109 गेंदों पर 10 चौके और एक छक्का लगाया। प्लेसिस का विकेट 259 रनों के कुल योग पर गिरा। प्लेसिस के आउट होने के बाद अमला भी 299 रनों के कुल योग पर पवेलियन लौट गए। इसके बाद कप्तान डिविलियर्स (24) ने डेविड मिलर के साथ स्कोर को 300 के पार पहुंचाया।

डिविलियर्स 301 के कुल योग पर एंडी मैकब्राइन की गेंद पर रिवर्स स्वीप लगाने के प्रयास में कैच आउट हुए। डिविलियर्स ने नौ गेंदों पर दो छक्के और एक चौका लगाया। अमला की विदाई के बाद मिलर और रीले रूसो ने तेजी से रन जुटाए और पांचवें विकेट के लिए 110 रनों की साझेदारी की। यह साझेदारी मात्र 51 गेंदों पर हुई। रूसो ने 27 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया। रूसो ने 30 गेंदों का सामना कर छह चौके और तीन छक्के लगाए जबकि मिलर 23 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 46 रन बनाकर नाबाद लौटे। द. अफ्रीका ने अंतिम 20 ओवरों मे 230 रन जुटाए। आयरलैंड की ओर से मैकब्राइन ने दो विकेट लिए।

प्रादेशिक

खुशखबरी : सीएम योगी ने जनता को दिया बड़ा तोहफा, 1825 सड़कों का किया लोकार्पण

Published

on

By

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में 56 जिलों में 204 करोड़ रुपए की लागत से 2095 किलोमीटर लंबे 748 मार्गों और पंचायती राज विभाग के माध्यम से 647 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली 2000 किलोमीटर लंबी 1825 सड़कों का लोकार्पण किया।

Uttarakhand : 30 नम्बर को होने वाला कार्तिक पूर्णिमा स्नान आयोजन रद्द

सीएम योगी ने कहा कि गांवों की अर्थव्यवस्था का आधार ग्रामीण सड़कों के निर्माण के बड़े कार्यक्रम को आगे बढ़ाया गया है। पंचायती राज विभाग सड़कों के नव निर्माण की बड़ी प्रक्रिया को आगे बड़ा रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जितना धन ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत के विकास कार्यों के लिए उपलब्ध कराया है, अगर उस राशि का सही उपयोग पंचायती रात की ये संस्थाएं करने लगे तो विकास और रोजगार की व्यापक संभावनाएं उपलब्ध हो जाएंगे।

Continue Reading

Trending