Connect with us

प्रादेशिक

छात्रा बोली- मेरे पीरियड्स चल रहे हैं, फिर भी टीचरों ने कपड़े उतरवाकर किया ये काम

Published

on

 

मुंबई। महाराष्ट्र के पुणे जिले के एक प्राइवेट स्कूल में नकल रोकने के नाम पर छात्राओं के साथ दुर्व्यवहार का मामला सामने आया है। यहां टीचरों ने नक़ल रोकने के लिए छात्राओं के पूरे कपड़े उतारकर उनकी तलाशी ली। इस दौरान एक छात्रा के पीरियड्स चल रहे थे। उसने टीचर से बोला भी कि मेरे पीरियड्स चल रहे हैं इसलिए पैंट उतरवाकर मेरी तलाशी न ली जाए लेकिन इसके बाद उसकी तलाशी ली गई।

यह घटना पुणे के लोणीकालभोर गांव में स्थित एमआइटी कॉलेज के विश्वशांति गुरुकुल स्कूल की है। इस प्राइवेट स्कूल में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा का सेंटर है। शनिवार को 12वीं की परीक्षा देने आईं पृथ्वीराज कपूर जूनियर कॉलेज की करीब 14 छात्राओं ने इस कॉलेज के दो महिला कर्मचारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्राओं का कहना है कि ये जानने के लिए कहीं छात्राएं कॉपी करने के लिए नकल के पुर्जे ड्रेस में छिपाकर तो नहीं ले जा रही हैं स्कूल की दो महिला कर्मचारियों ने उनकी कपड़े उतरवाकर तलाशी ली। इस काम में स्कूल की टीचरों ने भी उनका साथ दिया।

छात्राओं ने बताया कि पेपर शुरू होने से पहले हमें महिला गार्ड और एक टीचर हमें जांच के लिए दूसरे रूम में लेकर गए, साथ ही पूरे कपड़े उतारने को कहा गया. महिला गार्ड ने एक छात्रा को पैंट निकालने को कहा। तब छात्रा ने कहा कि मेरे पीरियड्स चल रहे हैं, मैं पैंट नहीं उतार सकती. ऐसा बताने के बावजूद महिला गार्ड ने मुझे पैंट उतारने के लिए मजबूर किया और मेरे साथ आपत्तिजनक हरकत की।

यह सिलसिला लगातार तीन से चार पेपर के दौरान चला. छात्राओं की सहनशक्ति जब खत्म हो गई तो उन्होंने अपने परिवार से इस बात की शिकायत की। अभिभावकों ने कॉलेज जाकर नाराजगी जताई और उसके बाद पुलिस स्टेशन में जाकर मामला दर्ज कराया। छात्राओं के आरोप के बाद पुलिस ने दो महिला शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

प्रादेशिक

VIDEO : Vikas Dubey Encounter को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर

Published

on

By

गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर के मामले में सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है। याचिका में यूपी पुलिस की भूमिका की जांच की मांग की गई है। हालांकि याचिका कल गुरुवार देर रात कोर्ट में दायर की गई जिसमें विकास दुबे का एनकाउंटर किए जाने की आशंका जताई की गई थी।

याचिकाकर्ता के वकील घनश्याम उपाध्याय का कहना है कि वो आज ही सुनवाई की मांग करेंगे। सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में विकास को एनकाउंटर से बचाने की मांग की गई थी। इसके अलावा विकास के घर, मॉल को ढहाने के मामले में FIR दर्ज करने और पूरे मामले की जांच CBI को सौंपने की भी मांग की गई है।

याचिका में कहा गया है कि मीडिया रिपोर्ट से लग रहा है कि विकास दुबे ने महाकाल मंदिर में गार्ड को खुद ही जानकारी दी थी। उसने मध्य प्रदेश पुलिस को खुद ही गिरफ्तारी दी ताकि मुठभेड़ से बच सके।

#vikasdubey #vikasdubeyencounter #vikasdubeydeath #vikasdubeynomore

Continue Reading

Trending