Connect with us

बिजनेस

बाजार में तेजी, सेंसेक्स 28000 के ऊपर बंद

Published

on

मुंबई| देश के शेयर बाजारों में बुधवार को तेजी रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 98.84 अंकों की तेजी के साथ 28,008.90 पर और निफ्टी 20.65 अंकों की तेजी के साथ 8,383.30 पर बंद हुआ। सेंसेक्स पहली बार 28,000 की मनोवैज्ञानिक सीमा के ऊपर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 48.58 अंकों की तेजी के साथ 27,958.64 पर खुला और 98.84 अंकों या 0.35 फीसदी तेजी के साथ 28,008.90 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 28,126.48 के ऊपरी और 27,958.64 के निचले स्तर को छुआ।

सेंसेक्स के 30 में से 16 शेयरों में तेजी रही। एक्सिस बैंक (3.02 फीसदी), बजाज ऑटो (2.10 फीसदी), टाटा मोटर्स (1.71 फीसदी), आईटीसी (1.55 फीसदी) और हीरो मोटोकॉर्प (1.50 फीसदी) में सबसे अधिक तेजी रही। सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे सिप्ला (3.06 फीसदी), टाटा पावर (2.47 फीसदी), टाटा स्टील (2.38 फीसदी), एनटीपीसी (2.26 फीसदी) और एलटी (1.22 फीसदी)।
bse up2
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 16.25 अंकों की तेजी के साथ 8,378.90 पर खुला और 20.65 अंकों 0.25 फीसदी तेजी के साथ 8,383.30 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 8,415.05 के ऊपरी और 8,370.50 के निचले स्तर को छुआ। सेंसेक्स और निफ्टी ने बुधवार को रिकार्ड ऊपरी स्तर छुआ और रिकार्ड ऊपरी स्तर पर बंद भी हुआ। इससे पहले सेंसेक्स ने सोमवार, 10 नवंबर को रिकार्ड ऊपरी स्तर 28,027.96 को छुआ था और बुधवार, 5 नवंबर को रिकार्ड उच्च स्तर 27,915.88 पर बंद हुआ था।

निफ्टी ने इससे पहले सोमवार को रिकार्ड ऊपरी स्तर 8,383.05 को छुआ था और मंगलवार 11 नवंबर को रिकार्ड उच्च स्तर 8,362.65 पर बंद हुआ था। बुधवार को बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी तेजी रही। मिडकैप 47.62 अंकों की तेजी के साथ 10,133.27 पर और स्मॉलकैप 22.40 अंकों की तेजी के साथ 11,184.35 पर बंद हुआ।

बीएसई के 12 में से चार सेक्टरों वाहन (1.18 फीसदी), बैंकिंग (1.12 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तु (0.96 फीसदी) और उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (0.55 फीसदी) में तेजी रही। बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे बिजली (1.37 फीसदी), धातु (0.90 फीसदी), पूंजीगत वस्तु (0.53 फीसदी), तेल एवं गैस (0.53 फीसदी) और स्वास्थ्य सेवा (0.47 फीसदी)। बीएसई में कारोबार का रुझान सकारात्मक रहा। कुल 1524 शेयरों में तेजी और 1520 में गिरावट रही, जबकि 103 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

You can enter in https://cellspyapps.org multiple link items, and they are displayed in a list as the other sections
Continue Reading

नेशनल

सुप्रीम कोर्ट ने होमबायर्स में फ्लैटों का रजिस्ट्रेशन शुरू करने के दिए निर्देश

Published

on

आम्रपाली के घर खरीदने वालों को खुश करने के लिए, सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरणों को निर्देश दिया कि वे होमबायर्स में फ्लैटों का रजिस्ट्रेशन शुरू करें।

सुप्रीम कोर्ट ने यह भी चेतावनी दी कि यदि खरीदारों को फ्लैटों का कब्जा सौंपने में उनके हिस्से में किसी तरह की देरी हुई तो दोनों प्राधिकरणों के अधिकारियों को जेल भेजा जाएगा। आम्रपाली ग्रुप की लंबित परियोजनाओं से संबंधित मामले में अपना फैसला सुनाते हुए, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने बैंकों, नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरणों को अचल संपत्ति कंपनी में चल रही गड़बड़ी के लिए दोषपूर्ण ठहराया था।

आम्रपाली के रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (रेरा) रजिस्ट्रेशन को रद्द करते हुए, सुप्रीम कोर्ट ने राज्य द्वारा संचालित एनबीसीसी को आम्रपाली ग्रुप की लंबित परियोजनाओं को पूरा करने के लिए कहा है। इस बीच एनबीसीसी ने लंबित मकानों के निर्माण को पूरा करने के लिए 7.5 करोड़ रुपये मांगे हैं। रॉयल गोल्फ को अदालत द्वारा 50 करोड़ रुपये जमा करने का आदेश दिया गया है जबकि बैंकों की याचिका पर कोई सुनवाई नहीं होगी।

होमबॉयरों ने पहले आम्रपाली ग्रुप की परियोजनाओं में बुक किए गए लगभग 42,000 फ्लैटों पर कब्जे की मांग करते हुए कई याचिकाएँ दायर की थीं। पिछले महीने, एससी ने प्रवर्तन निदेशालय को आम्रपाली ग्रुप के निदेशकों और प्रमोटरों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग जांच शुरू करने का भी निर्देश दिया था। आपको बता दें कि अदालत ने पहले सीएमडी और निदेशकों – शिव प्रिया और अजय कुमार की व्यक्तिगत संपत्तियों की कुर्की का आदेश दिया था।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending