Connect with us

प्रादेशिक

देवरिया : थाने में विस्फोट के बाद सिपाही हुआ गम्भीर रूप से घायल, दोनों हाथ उड़े

Published

on

लखनऊ। देवरिया जनपद के रामपुर कारखाना थाने में सोमवार को अचानक विस्फोट हो गया, जिससे आग ताप रहे सिपाही अजीत सिंह बुरी तरह घायल हो गए। धमाके के बाद उनके दोनों हाथ उड़ गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

फरियाद लेकर आए एक युवक को भी गंभीर चोटें आई हैं। थाने में विस्फोट होने की सूचना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक राकेश शंकर ने पुलिसकर्मियों से घटना की जानकारी ली।

बताया जा रहा है कि ठंड ज्यादा होने के चलते रामपुर कारखाना थाने में अलाव जलाया गया था। अलाव में थाने में रखा कबाड़ जलाया जा रहा था। दोपहर को थाने के सिपाही अजीत सिंह व फरियादी धर्मेद्र सिंह अलाव ताप रहे थे।

अचानक अलाव में विस्फोट हो गया और अजीत सिंह के दोनों हाथ उड़ गए और शरीर के कई हिस्से में चोट आई। धर्मेद्र को भी चोटें आईं। बताया जा रहा है कि दीपावली के समय पकड़े गए पटाखे थाने में रखे गये हैं। हो सकता है कि कोई पटाखा उस अलाव में पहुंच गया हो और फट गया।

उधर, कहा जा रहा है कि घटना के कई घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस महकमे का कोई बड़ा अधिकारी उन्हें देखने वहां नहीं पहुंचा।

प्रादेशिक

यूपी बोर्ड के स्टूडेंट्स का जल्द खत्म होगा इंतजार, इतने दिनों के बाद आ सकता है रिजल्ट

Published

on

लखनऊ। यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स का इंतजार जल्द खत्म होने जा रहा है। दरअसल, बोर्ड ने रिजल्ट जारी करने को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैँ।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की कक्षाओं की बोर्ड परिक्षाओं के परिणामों की घोषणा जून माह के अंत तक की जा सकती है। हालांकि माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से कोई भी आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं करायी गयी है।

बता दें कि यूपी बोर्ड के 90 फीसदी से अधिक कॉपियों का मूल्यांकन पूरा होने के साथ ही बच्चों को मिले अंक विषयवार अंकपत्र पर चढ़ाए जाने लगे हैं। जिस तेजी से मूल्यांकन हुआ है, अब परिणाम जून अंत तक आने की पूरी संभावना बन गई है।

इसी के साथ परीक्षा में सम्मिलित 50 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार भी पूरा हो जाएगा। मूल्यांकन और परिणाम तैयार करने की शासनस्तर पर लगातार समीक्षा भी हो रही है।

23 मई तक कुल 3.10 उत्तरपुस्तिकाओं में से सवा दो करोड़ से अधिक का मूल्यांकन हो चुका था। अब तक 90 प्रतिशत से अधिक कॉपियां जांची जा चुकी है और इस हफ्ते सभी 281 केंद्रों पर मूल्यांकन पूरा हो जाएगा।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending