Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

20वीं भारतीय विज्ञान संचार कांग्रेस संपन्न, कोरोना के प्रति लोगों को किया गया जागरूक

Published

on

कोरोना के वैश्विक प्रभाव को देखते हुए 20वीं भारतीय विज्ञान संचार कांग्रेस का संचालन वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से किया गया।

यह कांफ्रेस संयुक्त रूप से Indian Science Writer’s Association(ISWA), New Delhi, Indian Science Communication Society(ISCOS),New Delhi, विज्ञानं Bharti Awadh Prant and Faculty Development Centre, HNB Garhwal Central University, Uttarakhand ने आयोजित की।

इस एक दिवसीय वेब सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले विभिन्न पृष्ठभूमि से आए लोगों ने दो वैज्ञानिक सत्रों में अपनी प्रस्तुतियां दी।  सम्मेलन के दूसरे भाग में ‘ विज्ञान का संचार कितना महत्वपूर्ण है : शीर्ष भारतीय वैज्ञानिकों का एक सर्वेक्षण ‘ पर प्रस्तुति दी गई।

 

इस वर्ष की ISCC का विषय-COVID-19 महामारी के प्रति लोगों को जागरूक करना था। कांफ्रेस में बड़ी संख्या में वैज्ञानिक, अनुसंधान विद्वान, विज्ञान संचारक, शिक्षाविद, छात्र, पत्रकार और नीति निर्माताओं ने भाग लिया।

प्रादेशिक

कोरोना से हुई मौत पर केजरीवाल सरकार परिवार को देगी 50000 मुआवजा

Published

on

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की रफ्तार अब थोड़ी कम होती दिख रही है। राष्ट्रीय राजधानी में लंबे समय से कहर बरपा रहे इस वायरस की स्पीड पर ब्रेक लगता नजर आ रहा है।

ठीक होते हालात के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री पर मंगलवार को सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि इस संकट के वक्त में दिल्ली सरकार चार बड़े कदम उठाने जा रही है।

1-सीएम ने कहा कि जिनके पास राशन कार्ड है, पहले उनसे थोड़े पैसे लिए जाते थे, लेकिन अब उनसे पैसा नहीं लिया जाएगा। हर कार्डधारी को 10 किलो मुफ्त राशन मिलेगा। इसके अलावा जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, अगर वो बताएंगे कि उन्हें राशन की जरूरत है तो उन्हें भी राशन मुफ्त दिया जाएगा।

2- सीएम ने कहा कि कोरोना के खिलाफ जारी इस जंग में कुछ परिवार बेहद मुश्किल हालातों का सामना कर रहे हैं। प्रत्येक परिवार को जिसमें किसी की मौत कोरोना के कारण हुई है, अनुग्रह राशि के रूप में 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

3- जिस परिवार में कमाने वाले व्यक्ति की कोरोना से मौत हुई उस परिवार को ₹50000 मुआवजे के साथ-साथ 2500 रुपये महीना पेंशन दी जाएगी।

4- ऐसे बच्चे जिनके दोनों मां बाप की मौत हो गई है उनके बच्चों को 25 साल उम्र तक हर महीने 2500 रुपये मिलेंगे। इसके अलावा शिक्षा का सारा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी।

Continue Reading

Trending