Connect with us

प्रादेशिक

10वीं क्लास की छात्रा की अचानक हो गई डिलीवरी, सामने आया हैरान कर देने वाला सच

Published

on

 

नई दिल्ली। आपने अक्सर अखबारों में न्यूज़ चैनलों में सुना होगा कि नवजात को जन्म देकर उन्हें कूड़े के ढेर में फेक दिया गया है। कुछ ऐसा ही एक मामला कांकेर से सामने आया है। यहां एक नवजात बच्चे को जन्म देने के बाद उसे कूड़े के ढेर में फेंक दिया गया।

उधर से गुजर रहे लोगों ने जब बच्चे के रोने के आवाज सुनी तो पास गए। वहां का नजारा देखकर उनके होश उड़ गए। सामने एक नवजात पड़ा हुए था। उसके शरीर पर चींटियां लगी हुई थीं। लोगों ने तुरंत ही नवजात को वहां से उठाया और उसके माता-पिता की खोज शुरू की।

बच्चे के पास ही गांव वालो को कुछ खून के निशान दिखाई दिए। खून के निशान का सभी लोग पीछा करते हुए एक घर तक पहुंचे। गांव वालो के उस समय होश उड़ गए जब उन्होंने देखा उस घर में 15 साल की एक नाबालिग लड़की की डिलीवरी हुई थी।

लड़की की डिलीवरी होने के बाद बच्चे को बाहर फेंक दिया था। जब गांव वालो ने बच्चे के लिए सवाल जवाब उस परिवार से पूछे तो उन्होंने बच्चे को पहचानने से साफ इंकार कर दिया। गांव वालो और परिवार के बीच काफी देर बहस चलने के बाद नाबालिग लड़की ने सच बता ही दिया।

नाबालिक लड़की ने बताया कि यह बच्चा उसी का है। गाँव के ही रहने वाले एक लड़के से उसके संबंध बन गए थे जिसके चलते वह प्रेग्नेंट हो गई। उधर, नवजात बच्चे को जन्म देने के बाद कूड़े के ढेर में फेंकने से ठण्ड होने की वजह से वह काफी कमजोर हो गया था। बच्चे का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

प्रादेशिक

ज़ोनल खेलकूद प्रतियोगिता का समापन, लखनऊ के स्टूडेंट्स रहे अव्वल

Published

on

लखनऊ। राजकीय पॉलीटेक्निक लखनऊ में चल रहे क्षेत्रीय खेलकूद एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता का समापन पूरे जोश व हर्षोल्लास के साथ हुआ। तीसरे व अंतिम दिन छात्र-छात्राओं ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया।

गुरूवार को बालक वर्ग की 100 मीटर दौड़ (दिव्यांग) में अनिल गंगवार ने बाजी मारी, वहीं अतुल कनौजिया और दीपक यादव दूसरे और तीसरे नंबर पर रहे। बालिका वर्ग 100 मीटर दौड़ में शिप्रा मिश्रा पहले नंबर पर रहीं वहीं आंचल विश्वकर्मा और अश्वनी उपाध्याय दूसरे व तीसरे नंबर पर रहीं।

1500 दौड़ (बालक वर्ग) में अमरेंद्र यादव ने अपने शानदार प्रदर्शन की बदौलत पहला स्थान प्राप्त किया, वहीं दिनेश कुमार दूसरे व पिन्टू कुमार तीसरे स्थान पर रहे। सिंगिंग एकल में प्रतीक कुमार उपाध्याय ने अपनी आवाज से सबका दिल जीता, वहीं सोलो डांस में आकाश मौर्या ने अपना जलवा दिखाया और खिताब हासिल किया।

ग्रुप सिंगिंग का खिताब प्रतीक उपाध्याय, अभय मौर्या, अभय राज गौड़ के नाम रहा, वहीं ग्रुप डांस में सारिका पांडेय, रूचि चौधरी, तान्या सिंह, प्रिया यादव ने बाजी मारी। वाद-विवाद प्रतियोगिता में पक्ष के विजेता शंकर द्याल पांडेय, सौरभ शुक्ला और निधि सिंह रहे, जबकि विपक्ष के विजेता अपराजिता रस्तोगी, रितेश कुमार ओझा और वर्षा सक्सेना रहे।

सभी सफल प्रतिभागियों को मुख्य अतिथि मनोज कुमार, निदेशक, प्राविधिक शिक्षा उ.प्र. द्वारा मेडल पहनाकर व ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया। इस समारोह में विभिन्न पॉलीटेक्निक से आए प्रधानाचार्यों को आयोजक संस्था प्रधानाचार्य डॉ. आर.के. सिंह द्वारा आभार व्यक्त करते हुए भेंट देकर सम्मानित किया गया।

 

 

 

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending