Connect with us

प्रादेशिक

रायबरेली: NTPC प्लांट में भीषण हादसे में 12 की मौत, 100 से ज्यादा झुलसे

Published

on

रायबरेली। यूपी के रायबरेली में एक बड़ा हादसा हुआ है। यहां ऊंचाहार स्थित एनटीपीसी के प्लांट में बॉयलर फटने से 12 लोगों की मौत हो गई जबकि 100 से ज्यादा गंभीर रूप से झुलस गए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों की तादाद बढऩे की आशंका जताई जा रही है।

हादसे के वक्त वहां तकरीबन 200 मजदूर काम कर रहे थे। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि दबाव की वजह से पाइप में विस्फोट हुआ, जिसके चलते वहां काम कर रहे मजदूर इसकी चपेट में आ गए।

बताया जा रहा है कि एनटीपीसी के प्लांट में बॉयलर फटते ही मौके पर मौजूद कर्मचारी जान बचाकर इधर उधर भागने लगे। सूचना मिलते ही मौके पर भारी मात्रा में पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने दर्जनों एम्बुलेंस के जरिये घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। कुछ श्रमिकों की हालत नाजुक देखते हुए उन्हें लखनऊ रेफर किया गया है।

मौके पर एनडीआरएफ की टीम भी राहत एवं बचाव कार्य के लिए रवाना हो गई है, जो रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटेगी। साथ ही आसपास के जिलों की एम्बुलेंस को भी मौके पर बुला लिया गया है। मृतकों और घायलों के नाम के बारे में पुलिस पता लगाने का प्रयास कर रही है।

बता दें कि एनटीपीसी के ऊंचाहार स्थित इस प्लांट में पांच यूनिट हैं, जिसमें से प्रत्येक की क्षमता 210 मेगावाट है. यहां 1988 में बिजली उत्पादन शुरू हुआ था।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये और मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।

Continue Reading

प्रादेशिक

स्मार्ट सिटी परियोजना के लिए सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उठाया ये बड़ा कदम

Published

on

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को सचिवालय में स्मार्ट सिटी परियोजना के अन्तर्गत हरिद्वार रोड, देहरादून स्थित उत्तराखण्ड के परिवहन निगम के वर्कशॉप परिसर में इंटीग्रेटेड ग्रीन बिल्डंग स्थापित किए जाने के सम्बन्ध में शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक व परिवहन मंत्री यशपाल आर्य के साथ अधिकारियों की बैठक ली है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत लोगों को सरकारी सुविधाएं एक ही स्थान पर मिल सके इसके लिए परिवहन निगम के वर्कशॉप परिसर में इंटीग्रेटेड ग्रीन बिल्डंग स्थापित की जाएगी। यह एक तरह का डिस्ट्रिक सचिवालय होगा।

इस परिसर में कलक्ट्रेट, विकास भवन, परिवहन निगम के मुख्यालय सहित कुल 25 विभागों के कार्यालय स्थापित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने परिवहन निगम की इस भूमि की प्रतिपूर्ति के लिए मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में एक समिति बनाने के निर्देश दिए। समिति एक प्रस्ताव बनाकर मुख्यमंत्री को सौंपेगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending