Connect with us

खेल-कूद

चरम पर पहुंचा ‘सबसे बड़े मुकाबले’ का रोमांच

Published

on

world-cup, india-pak-match

-एडिलेड में रविवार को होगा भारत-पाक मुकाबला

एडिलेड। भारत और पाकिस्तान के बीच कोई भी क्रिकेट मैच प्रशंसकों के लिए आकर्षण का केंद्र होता है लेकिन जब बात विश्व कप की हो रही हो तब यह हाई वोल्टेज मुकाबला और भी बड़ा बन जाता है। इस बार दोनों टीमें आईसीसी विश्व कप-2015 में अपने अभियान का आगाज रविवार को एडिलेड ओवल मैदान पर एक-दूसरे के खिलाफ मैच से करेंगी।

भारत और पाकिस्तान के तो कई प्रशंसकों के लिए विश्व कप टूर्नामेंट से ज्यादा महत्व इस मैच का है। यह मैच जीतना ही उनके लिए विश्व कप के समान है। आयोजकों ने भी इस मैच के लिए प्रशंसकों के बीच छाई दीवानगी का सबूत देते हुए बताया कि 50 हजार दर्शकों की क्षमता वाले एडिलेड ओवल मैदान के सभी टिकट कुछ ही मिनट में बिक गए।

एकदिवसीय प्रारूप में बेहतर रिकॉर्ड होने के बावजूद पाकिस्तान विश्व कप टूर्नामेंट में भारत को कभी नहीं हरा सका है। ऐसे में उसके सामने इस दबाव से मुक्त होने की और पहली जीत हासिल करने की बड़ी चुनौती होगी। भारत ने पिछले विश्व कप में मोहाली में खेले गए सेमीफाइनल में पाकिस्तान को हराया था। पाकिस्तान की टीम इस बार भी बड़े दावेदार के रूप में नजर नहीं आ रही। हाल में कुछ शीर्ष खिलाड़ियों के बाहर होने से भी टीम की मुश्किलें बढ़ी। इसके बावजूद हालांकि दोनों टीमों के बीच होने वाले किसी मुकाबले के परिणाम की भविष्यवाणी करना आसान नहीं है।

हाल में विश्व कप से ठीक पहले मोहम्मद हफीज और फिर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जुनैद खान के बाहर होने से पाकिस्तान को बड़ा झटका लगा। दिग्गज स्पिन गेंदबाज सईद अजमल भी टीम का हिस्सा नहीं हैं। पाकिस्तान की तेज गेंदबाजी हमेशा से उसका मजबूत पक्ष रहा है। इस बार बाएं हाथ के मोहम्मद इरफान और वहाब रियाज तेज गेंदबाजी का नेतृत्व कर रहे हैं। अनुभवी और विस्फोटक बल्लेबाज शाहिद अफरीदी का अच्छा प्रदर्शन भी टीम के लिए जरूरी होगा जो कई बार भारत के खिलाफ सफल साबित हुए हैं।

दूसरी ओर, भारत की बात करें तो टीम इस विश्व कप में कई बुरी यादों के साथ उतरी है। खासकर आस्ट्रेलिया दौरे पर उसे जिस प्रकार एक के बाद एक हार का सामना करना पड़ा, उसने टीम और प्रशंसकों के आत्मविश्वास को डगमगा दिया है। इसके बावजूद हालांकि क्रिकेट पंडित मौजूदा चैम्पियन भारत को हल्के में नहीं ले रहे। भारत इस समय विश्व रैंकिंग में दूसरे पायदान पर है।

भारत के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय गेंदबाजी है। इशांत शर्मा टखने में चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। वहीं, भुवनेश्वर कुमार की फिटनेस भी अभी संदेह के घेरे में है। ऐसे में तेज गेंदबाजी का मुख्य दारोमदार मोहम्मद शमी के कंधों पर ही नजर आ रहा है। इसके अलावा अनुभवहीन मोहित शर्मा और मध्यम गति के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट बिन्नी पर कुछ उम्मीदें टिकी होंगी। स्पिन गेंदबाजी में रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा मैच जीतने वाले खिलाड़ी साबित हो सकते हैं।

बल्लेबाजी में दारोमदार विराट कोहली, शिखर धवन, कप्तान महेंद्र सिंह धौनी, रोहित शर्मा पर होगी। ये सभी बल्लेबाज एकदिवसीय रैंकिंग में शीर्ष-20 में शामिल हैं। वहीं, अजिंक्य रहाणे और सुरेश रैना भी मध्यम क्रम पर टीम को संभाल सकते हैं। इसके अलावा जडेजा, अश्विन और बिन्नी से हरफनमौला प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

दोनों टीम इस प्रकार है :

भारत (संभावित) : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), विराट कोहली (उपकप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, रवींद्र जडेजा, अजिंक्य रहाणे, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल, स्टुअर्ट बिन्नी, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, मोहम्मद शमी।

पाकिस्तान (संभावित) : मिस्बाह- उल-हक (कप्तान), अहमद शहजाद, एहसान आदिल, यूनिस खान, शाहिद अफरीदी, हैरिश सोहैल, मोहम्मद इरफान, नासिर जमशेद, राहत अली, सरफराज अहमद, शोएब मकसूद, वहाब रियाज, उमर अकमल, यासिर शाह।

खेल-कूद

टीम इंडिया को लगा झटका, न्यूजीलैंड से टी-20 नहीं खेलेगा ये दिग्गज खिलाड़ी

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन कंधे की चोट के कारण न्यूजीलैंड दौरे पर होने वाले पांच मैचों की टी-20 सीरीज से बाहर हो गए हैं। क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, धवन न्यूजीलैंड दौरे के लिए सोमवार को ऑकलैंड पहुंची भारतीय टीम का हिस्सा नहीं थे और चयनकर्ताओं ने अभी तक उनकी जगह किसी और खिलाड़ी के नाम की घोषणा नहीं की है।

धवन को आस्ट्रेलिया के खिलाफ रविवार को बेंगलुरु में खेले गए तीसरे वनडे मैच के दौरान कंधे में चोट लग गई थी और वह बाद में बल्लेबाजी करने के लिए भी नहीं आए थे।

धवन को आस्ट्रेलियाई पारी के दौरान पांचवें ओवर की तीसरी गेंद पर मेहमान टीम के कप्तान एरॉन फिंच के शॉट पर फील्डिंग करते समय में कंधे में चोट लग गई। उनके सब्सीट्यूट के तौर पर मैदान पर युजवेंद्र चहल ने फील्डिंग की थी।

धवन को दूसरे वनडे के दौरान भी चोट लग गई थी और वह फील्डिंग करने के लिए मैदान पर नहीं उतरे थे। बाद में वह बल्लेबाजी के लिनए आ सके थे।

भारत को न्यूजीलैंड दौरे पर अपना पहला टी-20 मैच 24 जनवरी को खेलना है। मेहमान टीम को उसके बाद चार और टी-20 मैच तथा पांच फरवरी से तीन मैचों की वनडे सीरीज भी खेलनी है।

धवन अगर इन मैचों के लिए फिट नहीं होते हैं तो फिर उनके स्थान पर संजू सैमसन, मयंक अग्रवाल और पृथ्वी शॉ को मौका मिल सकता है। ये तीनों खिलाड़ी अभी न्यूजीलैंड दौरे पर ही हैं और वे इंडिया-ए के लिए मैच खेल रहे हैं।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending