Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

स्पेन से अलग होकर नया देश बना कैटेलोनिया, बार्सिलोना होगी राजधानी

Published

on

मैड्रिड। कैटेलोनिया लंबी लड़ाई के बाद स्पेन से अलग होकर आजाद मुल्क बन गया है। कैटेलोनिया की संसद में मतदान के बाद स्वतंत्रता की घोषणा की गई है।

कैटेलोनिया की संसद ने शनिवार को स्पेन से आजादी की घोषणा संबंधी प्रस्ताव पारित कर दिया, हालांकि स्पेन की सरकार ने कहा है कि वहां वैधानिकता बहाल की जाएगी और क्षेत्र के पृथकतावादी प्रयास पर अंकुश लगाया जाएगा। कैटालोनिया के प्रेसिडेंट चाल्र्स प्यूडिग्मोंट ने आजादी का ऐलान कर दिया है और कैटालोनिया की सडक़ों पर जश्न शुरू हो गया। संसद ने ‘कातालूनीय को गणराज्य के तौर पर एक स्वतंत्र राष्ट्र घोषित करने’ संबंधी प्रस्ताव पास किया।

वैसे कैटालोनिया को मान्यता मिलना मुश्किल है, क्योंकि इसे न तो स्पेन की सरकार स्वीकार करेगी और न ही अंतरराष्ट्रीय समुदाय। यूरोपियन यूनियन (ईयू) और अमेरिका ने भी स्पेन द्वारा केंद्रीय शासन लगाने का समर्थन किया है।

75 लाख की आबादी वाले कैटालोनिया की राजधानी बार्सिलोना है। इससे पहले स्पेन की सरकार ने कैटालोनिया के अलगाववादी नेता को आगाह किया था कि कानूनी व्यवस्था में लौटने के लिए उनके पास तीन दिन का समय है। स्पेन की सरकार की ओर से तय शुरुआती समय सीमा को लेकर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कैटेलोनिया के राष्ट्रपति चाल्र्स प्यूडिग्मोंट ने स्पैनिश प्रधानमंत्री मारियानो राजोय के साथ बातचीत का आह्वान किया था।

अन्तर्राष्ट्रीय

चोर का कारनामा, फल को बनाया बम और लूट लिया पूरा बैंक

Published

on

नई दिल्ली। इजराइल में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक शख्स ने एवकैडो फल को बम की तरह पेंटकर बैंक में डाका डाल दिया।

डैकेती के लिए शख्स ने सबसे पहले एवोकैडो को ग्रेनेड की तरह रंग दिया फिर कैशियर को डराकर बैंक के पैसे लूट लिए। हैरानी की बात ये कि लूटेरे ने दूसरी बार इस तरह की चोरी की है।

इससे पहले भी उसने इसी पैटर्न पर बैंक लाखों का चूना लगाया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मई के महीने में शख्स सीधे बैंक के अंदर पहुंच गया और कैशियर को एक पर्ची दिखाई।

इसमें लिखा था, ” जितना भी कैश है वह उसे सौंप दिया जाए।” कैशियर नोट को पढ़कर झिझकने लगा। लुटेरे ने दाहिने हाथ में एवोकैडो को दिखाते हुए कहा, ‘‘पैसे जल्दी से बैग में डाल दो, नहीं तो मैं इस ग्रेनेड को फेंक दूंगा।’’

पेंट किए फल को कैशियर ने ग्रेनेड समझा और रुपए बैग में डाल दिए। हालांकि, बाद में पता चला कि जिसे ग्रेनेड बताया गया था, वह एवोकैडो था।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending