Connect with us

नेशनल

हार्ले डेविडसन दौड़ाकर रावण पहुंचा इंडिया गेट, पुलिस ने काटा चालान

Published

on

नई दिल्ली। दशहरा पर हार्ले डेविडसन बाइक दौड़ाकर टशन दिखाना रावण को महंगा पड़ गया। रावण दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ गया और उसका चालान बना दिया गया। चालान की वजह भी बहुत गंभीर थी क्योंकि रावण ने हेलमेट नहीं पहना था।

दरअसल यह रावण फेमस एक्टर मुकेश ऋषि थे और वह राष्ट्रीय राजधानी में लालकिले पर आयोजित मशहूर रामलीला में रावण का किरदार निभा रहे थे। गुरुवार को उन्हें कुछ टीवी चैनलों में इटरव्यू देना था, जिसके लिए होटल से रावण के कॉस्ट्यूम में निकले। उन्होंने इंडिया गेट के आसपास रावण की वेशभूषा में हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल चलाई। किसी ने उनका वीडियो बनाकर शुक्रवार को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया।

इस वीडियो में एक्टर मुकेश ऋषि बिना हेलमेट पहने बाइक चलाते दिख रहे हैं। इसकी वजह भी यह थी कि उन्होंने रावण की कास्ट्यूम के लिए मुकुट पहन रखा था। जिसके बाद दिल्ली यातायात पुलिस तुरन्त एक्शन लेते हुए उन्हें नोटिस जारी कर दिया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बाद में अभिनेता मुकेश ऋषि दिल्ली यातायात पुलिस मुख्यालय पहुंचे और जुर्माना भरा।

बता दें कि मुकेश लंबे टाइम से बॉलीवुड के अलावा तेलुगु, ओडिया, मलयालम, पंजाबी, तमिल और भोजपुरी सिनेमा में एक्टिव हैं। उन्हें 1988 में टॉलीवुड में पहला ब्रेक मिला था।

नेशनल

भारतीय वैज्ञानिकों ने रचा इतिहास, चंद्रयान-2 को चांद की कक्षा में सफलतापूर्वक पहुंचाया

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के वैज्ञानिकों ने मंगलवार को चंद्रयान-2 को चांद की पहली कक्षा में सफलतापूर्वक प्रवेश करा कर इतिहास रच दिया है।

चांद के ऑर्बिट में चंद्रयान-2 को प्रवेश कराना वैज्ञानिकों के लिए बहुत ही चुनौतीपूर्ण माना जा रहा था। वैज्ञानिकों के सामने सबसे बड़ी चुनौती चंद्रयान-2 की गति कम करने की थी जिसे इसरो वैज्ञानिकों ने सफलतापूर्वक 10.98 किमी प्रति सेकेंड से 1.98 किमी प्रति सेकेंड कर दिया।

वैज्ञानिकों ने सुबह 8.30 से 9.30 बजे के बीच चंद्रयान-2 को चांद की कक्षा LBN#1 में प्रवेश कराया। अब चंद्रयान-2, 118 किमी की एपोजी (चांद से कम दूरी) और 18078 किमी की पेरीजी (चांद से ज्यादा दूरी) वाली अंडाकार कक्षा में अगले 24 घंटे तक चक्कर लगाएगा।

आपको बता दें कि चंद्रयान-2 की गति 90 फीसदी इसलिए कम की गई है ताकि यान चांद गुरूत्वाकर्षण की वजह से उसके सतह से टकरा न जाए। पहले ऑर्बिट में प्रवेश के बाद 7 सितंबर को चंद्रयान-2 चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा। चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से रॉकेट बाहुबली के जरिए प्र‍क्षेपित किया गया था।

इससे पहले 14 अगस्त को चंद्रयान-2 को ट्रांस लूनर ऑर्बिट में डाला गया था. उम्मीद जताई जा रही है कि 7 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चंद्रयान-2 की चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडिंग को लाइव देखेंगे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending