Connect with us

आध्यात्म

नवरात्र 2020 : पूजा की इन विधियों को अपनाकर माँ को करें प्रसन्न, सभी मनोकामनाएं होंगी पूरी

Published

on

नवरात्र के पावन दिनों की शुरुआत हो चुकी है, जहां एकतरफ नवरात्र को लेकर भक्तों में अभी से उत्सव है तो वहीं दूसरी तरफ लोगों ने नवरात्र को लेकर पूजा-पाठ की विधियां जानना शुरू कर दिया है।

नवरात्र के दौरान मां के भक्त नौ दिनों तक माँ के नवों रूपों की पूजा-अर्चना करते हैं। माना जाता है कि मां अपने भक्तों द्वारा मांगी गई मनोकामनाएं पूरी करती हैं। नवरात्र के समय मां दुर्गा नौ दिनों के लिए धरती पर रहने के लिए आ जाती हैं। उन्हें प्रसन्न करने के लिए भक्त विशेष तरीके से पूजा करते हैं और मनोकामना मांगते हैं।

कोरोना विनर्स के लिए उत्तराखंड में आयोजित की गई वॉकाथन और बैडमिंटन प्रतियोगिता

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, मां दुर्गा की पूजा करने के लिए दिशा का विशेष रूप से ध्यान रखा जाना चाहिए।चूंकि हर देवी-देवताओं के कुछ खास दिशाएं होती हैं, इसलिए उसी दिशा में ही पूजा-अर्चना की जानी चाहिए, जो दिशा उनके लिए निर्धारित हो। पूजा के दौरान दिशामें छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए।

इसके साथ ही भक्तों को मां दुर्गा की पूजा दक्षिण दिशा में करनी चाहिए। ऐसा मानना है कि यदि मां की पूजा करते समय हमारा मुंह दक्षिण या पूर्व दिशा की ओर हो, तो यह फलदायी होता है।इसके अलावा मानसिक शांति भी मिलती है। नवरात्र में अपना मुख दक्षिण दिशा में करके मां दुर्गा की पूजा करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

#navratri #navratri2020 #durgamaa #durgapuja

 

आध्यात्म

नवरात्र स्पेशल : सिर्फ इस महामंत्र के जाप से हो जाएंगी देवी की सिद्धि

Published

on

By

नवरात्रि हिन्दुओं का प्रसिद्ध त्योहार है। नवरात्रि के नौ दिनों के इस पर्व के दौरान देवी दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। हिंदू धर्म में शारदीय नवरात्रि का ज्यादा महत्व होता है। माना जाता है इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरंभ होता है और ऐसे समय में पूजा से घर में सुख-समृद्धि आती है।

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह लखनऊ से गिरफ्तार

नवरात्र के पहले दिन कलश स्थापना की जाती है। इसके बाद लगातार नौ दिनों तक मां की पूजा व उपवास किया जाता है। दसवें दिन कन्या पूजन के बाद व्रत को खोला जाता है। नवरात्र के नौ दिन मां दुर्गा के नौ रूप को पूजा जाता है। मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि मां के नौ अलग-अलग रुप हैं।

आज हम आपको एक ऐसा महामंत्र बताएंगे, जिससे इस नवरात्र आपके हर बिगाड़े हुए काम बन जाएंगे। नवरात्र में माता की पूर्ण भक्ति भाव से पूजा-अर्चना करने से हर संकट-बाधा दूर हो जाएगी। नवार्ण मंत्र का रोजाना पूजा के दौरान जाप करने से विशेष फल प्राप्त होता है। आइए आपको बताते हैं कि नवार्ण मंत्र क्या है।

नवार्ण मंत्र- ॐ एं ह्रीं क्लीं चामुंडायै विच्चे:

#Navratri #durga #goddessdurga #hindugods

Continue Reading

Trending