Connect with us

नेशनल

चौंका देगा डेरा का लखनऊ कनेक्शन, 14 अनुयायियों के शव लाए गए राजधानी

Published

on

लखनऊ/चंडीगढ़। साध्वियों के साथ रेप के मामले में जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। डेरे के तार लखनऊ से जुड़ते दिख रहे हैं। मीडिया रिपोट्र्स में खुलासा हुआ है कि राम रहीम के 14 अनुयायियों के शव अवैध तरीके से लखनऊ के एक निजी मेडिकल कॉलेज को भेजे गए। आरोप है कि इन शवों के साथ न तो कोई मृत्यु प्रमाणपत्र था और न ही इस काम के लिए कोई अनुमति ली गई।

खबरों के अनुसार मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम ने लखनऊ स्थित इस निजी मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। टीम ने पाया कि छात्रों की औपचारिक पढ़ाई के लिए एक भी शव उपलब्ध नहीं है। इस पर एमसीआई टीम ने आपत्ति जताई। जिसके बाद डेरा से जनवरी से अगस्त के बीच ये 14 शव मंगाए गए।

पुलिस ने शुरू की जांच
मामला सामने आने के बाद पुलिस ने मेडिकल कॉलेज प्रबंधक से शवों से जुड़े कागजात कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी। कॉलेज मैनेजमेंट का कहना है कि जिनके भी शव लाए गए, उनकी प्राकृतिक तरीके से मौत हुई थी। इनके लिए किसी तरह की अनुमति लेने की जरूरत नहीं होती। हमारे पास सभी शवों के डोनेशन से जुड़े कागजात हैं।

हरियाणा में भी जांच
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने भी शुक्रवार को राज्य के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक को उन रपटों की जांच करने का आदेश दिया, जिनमें कहा गया है कि सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रशासन ने अतीत में 14 शवों को लखनऊ स्थित मेडिकल कॉलेज भेजा था।

विज ने कहा, मीडिया में खबरें प्रकाशित हुई हैं कि डेरा से 14 शव लखनऊ के एक मेडिकल कॉलेज भेज दिए गए थे। यदि ऐसा हुआ है, तो इसकी औपचारिकता पूरी होनी चाहिए थी। शवों को भेजने के कारण का हरहाल में पता किया जाना चाहिए। मामले की जांच के लिए और मामले की सच्चाई का पता लगाने के लिए आदेश जारी किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि विज भी डेरा पर मेहरबानी कर चुके हैं। उन्होंने खेल संबंधी गतिविधियों के लिए डेरा को पिछले वर्ष 50 लाख रुपये अनुदान दिया था। विज ने स्पष्ट किया, यह अनुदान गुरमीत राम रहीम सिंह को नहीं दिया गया था। यह डेरा के खिलाडय़िों को प्रोत्साहित करने के लिए दिया गया था।

अन्तर्राष्ट्रीय

मोटेरा स्टेडियम में डोनाल्ड ट्रंप बोले- भारत आना गर्व की बात, पीएम मोदी हैं चैंपियन

Published

on

अहमदाबाद। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने दो दिवसीय दौरे पर सोमवार को गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे। भारत पहुंचकर सबसे पहले ट्रंप अपनी पत्नी मिलेनिया ट्रंप के साथ साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद ट्रंप प्रधानमंत्री मोदी के साथ मोटेरा स्टेडियम 1 लाख लोगों को संबोधित करने पहुंचे।

मोटेरा स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने स्वागत भाषण देकर डोनाल्ड ट्रंप का स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने  भारत-अमेरिका दोस्ती के नारे लगवाए और नमस्ते ट्रंप की बात कही। पीएम मोदी ने यहां कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति का पूरा परिवार अहमदाबाद आया और सीधा साबरमती आश्रम गया।

पीएम मोदी ने कहा कि ये धरती गुजरात की है लेकिन आज पूरे भारत का नज़ारा दिख रहा है। अपने स्वागत भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि आज अमेरिका-भारत के रिश्ते ऊंचाईयों को छू रहे हैं। इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मोटारा स्टेडियम में मौजूद लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन की शुरूआत ट्रंप ने नमस्ते कहकर की। ट्रंप ने अपने भाषण में कहा कि भारत आना एक गर्व की बात है, नरेंद्र मोदी एक चैंपियन हैं जो भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ा रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि मैं और फर्स्ट लेडी 8000 मील का दौरा कर यहां पहुंचे हैं। अमेरिका हिंदुस्तान का दोस्त है, अमेरिका हिंदुस्तान का सम्मान करता है।

डोनाल्ड ट्रंप ने अपने संबोधन में कहा कि 5 महीने पहले अमेरिका ने पीएम मोदी का स्वागत किया था, आज हिंदुस्तान हमारा स्वागत कर रहा है जो हमारे लिए खुशी की बात है। आज हम दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारा स्वागत किया, आज से भारत हमारे लिए सबसे अहम दोस्त होगा।

पीएम मोदी ने अपने जिंदगी में काफी मेहनत की और चायवाले की तरह शुरुआत की, उन्होंने अपने पिता की चाय की दुकान पर काम किया। पीएम मोदी को आज हर कोई प्यार करता है, लेकिन वो काफी टफ हैं। आज पीएम मोदी हिंदुस्तान के सबसे प्रमुख नेता है, पिछले साल 60 करोड़ से अधिक लोगों ने पीएम मोदी को वोट किया और सबसे बड़ी चुनावी जीत दर्ज करवाई।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी सिर्फ गुजरात के नहीं बल्कि देश के लिए गर्व हैं, जो असंभव को संभव बना सकते हैं। प्रधानमंत्री की अगुवाई में आज भारत तरक्की कर रहा है और ये विकास की यात्रा दुनिया के लिए मिसाल है। आज भारत अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में बड़ी शक्ति बन गया है। भारत ने एक दशक के भीतर ही कई करोड़ लोगों को गरीबी की रेखा से बाहर निकाला।

डोनाल्ड ट्रंप ने इस दौरान उज्जवला योजना, इंटरनेट सुविधा, प्रधानमंत्री आवास योजना जैसी मोदी सरकार की कई योजनाओं का जिक्र किया। अमेरिकी राष्ट्रपति बोले कि आज भारत बड़ी शक्ति बनकर उभर रहा है, जो इस सेंचुरी की सबसे बड़ी बात है। आपने ऐसा एक शांतिपूर्ण देश होने के साथ हासिल किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस दौरान स्वामी विवेकानंद, महात्मा गांधी का भी जिक्र किया। अमेरिकी राष्ट्रपति बोले कि भारत हर साल 2000 से अधिक फिल्में बनाता है, जो बॉलीवुड है। पूरी दुनिया में इसका स्वागत किया जाता है, लोग भांगड़ा-म्यूज़िक का जिक्र करते हैं, लोगों को DDLJ भी काफी पसंद है। डोनाल्ड ट्रंप बोले कि भारत ने दुनिया को सचिन, विराट कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी दिए।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending