Connect with us

नेशनल

राम रहीम को आज सुनाई जाएगी सजा, उपद्रवियों को शूट करने का आदेश

Published

on

चंडीगढ़। रेप मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सोमवार को रोहतक के पास सुनारिया जेल में विशेष अदालत द्वारा सजा सुनाई जाएगी। सजा का ऐलान दोपहर 2.30 बजे होगा। जेल के आसपास किसी भी संदिग्ध को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं.

रोहतक के पास सुनारिया की जेल में बनाई गई विशेष अदालत सजा का ऐलान करेगी। इसी जेल में डेरा प्रमुख को रखा गया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत के न्यायाधीश जगदीप सिंह ने शुक्रवार को डेरा प्रमुख को दुष्कर्म का दोषी ठहराया था।

डेरा प्रमुख को न्यूनतम सात साल से आजीवन कारावास तक की सजा हो सकती है। अर्धसैनिकबलों और हरियाणा पुलिस सहित सुरक्षाबलों ने जिला जेल परिसर को चारों ओर से घेर लिया है। सेना को भी अलर्ट पर रखा गया है।

हरियाणा के एडीजीपी (लॉ एंड ऑर्डर) मो. अकील ने बताया कि रोहतक में अर्धसैनिक बलों की 23 कंपनियां तैनात की गई हैं। इसके साथ ही रोहतक, सिरसा, अंबाला, पंचकूला सहित कई जिलों में धारा 144 लागू रहेगी।

जेल परिसर के 10 किलोमीटर तक के दायरे में किसी को भी आने-जाने की इजाजत नहीं है। हरियाणा पुलिस के महानिदेशक (डीसीपी) बी.एस.संधू ने कहा, “हम किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। सेना को भी मुस्तैद किया गया है।”

हरियाणा और पंजाब में सोमवार को सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। हरियाणा के सिरसा में कफ्र्यू लगा है, जो आज भी रहेगा।

नेशनल

ICMR तक पहुंचा कोरोना वायरस, वरिष्ठ वैज्ञानिक हुए संक्रमित

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय आयु्र्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) तक कोरोना वायरस पहुंच चुका है। जानकारी के अनुसार वरिष्ठ वैज्ञानिक कोरोना की चपेट में आ गए हैं। इसकी जानकारी मिलते ही पूरी बिल्डिंग को सैनिटाइज किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमित ये वैज्ञानिक मुंबई के रहने वाले हैं और कुछ दिन पहले ही दिल्ली पहुंचे हैं। रविवार सुबह को उनको कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। ये मुंबई में ICMR के नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर रिसर्च इन रिप्रोडक्टिव हेल्थ में वैज्ञानिक हैं।

कोरोना केस मिलने के बाद आइसीएमआर बिल्डिंग को दो दिनों तक सैनिटाइज और फ्यूमिगेट किया जाएगा। पिछले हफ्ते ही साइंटिस्ट एक बैठक में शामिल हुए थे, जिसमें ICMR के डायरेक्टर जनरल डॉक्टर बलराम भार्गव समेत अन्य लोग भी मौजूद थे।

प्रशासन की तरफ से सभी ICMR कर्मचारियों को घर से काम करने का संदेश दिया गया है, क्योंकि हेडक्वार्टर में फिलहाल सैनिटाइजेशन और फ्यूमीगेशन चल रहा है। इसके अलावा संदेश में यह भी कहा गया है कि अगर जरूरत हुई तो सिर्फ COVID-19 कोर टीम को आने की अनुमति होगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending