Connect with us

प्रादेशिक

हैवानियत : मैनपुरी में 6 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या

Published

on

महिलाओं,मैनपुरी,रेप, यूपी ,बच्ची

लखनऊ। यूपी सरकार के प्रदेश की महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों पर लगाम लगाने के सारे दावे फुस्स साबित होते हुए दिखाई दे रहे है। अभी हाल ही में बलिया इलाके में स्कूली छात्रा रागिनी की दिनदहाड़े हुई हत्या का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा था कि मैनपुरी से एक दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है।

यहां एक छह साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई। हैरानी की बात यह है कि बच्ची का शव पुलिस लाइन स्थित आरआई के आवास से कुछ दूर मिला।

मैनपुरी, रेप, बच्ची, हत्या, पुलिस, गिरफ्तार, उत्तर प्रदेश

मिली जानकारी के मुताबिक़, कोतवाली थाना क्षेत्र के नगला कीरत की रहने वाली छह साल की मासूम बच्ची डॉक्टर अम्बेडकर पब्लिक स्कूल में कक्षा एक की छात्रा थी। गुरुवार को स्कूल से लौटते समय वह अचानक गायब हो गई।

घरवालों ने उसकी बहुत खोजबीन की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद बच्ची के परिजनों ने इस बात की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने भी रात भर बच्ची को तलाश किया लेकिन उन्हें भी कोई सफलता नहीं मिली।

इस बीच एक युवक ने बच्ची का शव पुलिस लाइन में बने आवास के 20 मीटर दूर झाड़ियों में पड़े देखा। बच्ची की पानी पीने की बोतल, बस्ता और चप्पल पास ही पड़े थे। युवक ने तुरंत इस बात की जानकारी पुलिस को दी।

हत्यारे ने बच्ची की बड़ी ही दरिंदगी से हत्या की थी। बच्ची के चेहरे पर खून लगा हुआ था। उसके नाजुक अंगों पर भी चोट के निशान थे। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े : OMG! रेस्‍टोरेंट आए 3 परिवार के लोगों को पिला दिया सीवर का पानी

 

 

प्रादेशिक

उत्तर प्रदेश : बंदरों ने फेंका सुतली बम, तीन लोग घायल

Published

on

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के एक इलाके में देसी बमों के हमले में एक बच्चे समेत तीन लोग घायल हो गए। लेकिन यह हमला किसी इंसान ने नहीं बल्कि बंदरों ने किया था।

सूत्रों के मुताबिक गुरुवार को मनु का पुरवा इलाके में बंदरों ने लोगों पर एक पॉलीथीन फेंकी जिसमें देसी (सुतली) बम रखे हुए थे। घटना के बाद सभी घायलों को अस्पताल ले जाया गया।

पुलिस के मुताबिक, यह सुतली बम किसी चीज से टकराने के बाद फटते हैं। घायलों को तुरंत पास के अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

पुलिस ने बताया कि गुलाब गुप्ता (60) और उनके पांच साल के पोते सम्राट उस वक्त घर के पास स्कूल बस का इंतजार कर रहे थे, जब यह हादसा हुआ।

आपको बता दें कि ये सुतली बम को दीवार बम भी कहा जाता है। ये दीवार से जमीन पर जोर से पटकने से फट जाते हैं। पुलिस की शुरुआती जांच में यही बात आई है कि हो सकता है कि बंदरों के हाथ में यही बम लगा हो।

नगर निगम और वन अधिकारियों को जल्द से जल्द बंदरों को पकड़ने के लिए कहा गया है। वहीं , फरेंसिक एक्सपर्ट ने घटनास्थल पर जाकर लैब टेस्ट के लिए सैंपल इकट्ठे किये हैं।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending