Connect with us

प्रादेशिक

इस भाजपा नेता की गुंडागर्दी ने ली एंबुलेंस सवार मरीज की जान

Published

on

भाजपा, भाजपा नेता, गुंडागर्दी, एंबुलेंस, मरीज, छेड़छाड़

हरियाणा में भाजपा नेता ने दिखाई दबंगई

हरियाणा। देश के सभी उच्च पदों पर अपना कब्जा जमाने वाली भाजपा पार्टी की मुश्किलें हरियाणा में कम होने का नाम ही नहीं ले रही है।

अभी कुछ दिनों पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर लगे छेड़छाड़ के आरोप का शोर अभी थमा नहीं था कि अब भाजपा नेता के एक और गुंडागर्दी के किस्से ने सभी को चौंका दिया है।

दरअसल, हरियाणा में भाजपा नेता दर्शन नागपाल के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई गई है। उनपर आरोप है कि उनकी गाड़ी से एक एंबुलेंस की टक्कर होने पर उन्होंने एंबुलेंस को रोक लिया।

इससे एंबूलेंस में मौजूद मरीज को वक्त पर इलाज नहीं मिल पाया और वह मर गया। इस पर पुलिस इंस्पेक्टर ने बताया है कि परिवार ने शिकायत दर्ज करवाते हुए बताया है कि नागपाल ने आधे घंटे तक एंबुलेंस को रोककर रखा था। पुलिस ने जांच के लिए दोनों पक्षों को बुलाया है।

न सिर्फ मृतक के परिवारीजन भाजपा नेता नागपाल को नवीन की मौत का जिम्मेदार मान रहे है, बल्कि एम्बुलेंस चालक सोनू का भी यही कहना है कि भाजपा नेता नागपाल की दबंगई ही नवीन की मौत का कारण बनी है।

परिवार ने नागपाल पर कानूनी कार्रवाई के लिए शहर थाना में शिकायत भी दर्ज करवाई है। पुलिस ने कहा है कि पूरे मामले की जांच कर नियमानुसार उचित कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : आम महिला ने एयरटेल से जीता मुकदमा, हर्जाने की रकम सुनकर हंसेगे आप

 

उत्तराखंड

सीएम त्रिवेंद्र ने सचिवालय में की अहम बैठक, लापरवाह अधिकारियों पर हो सकती है कार्रवाई

Published

on

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में सीएम डेशबोर्ड पर केपीआई के आधार पर सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की समीक्षा की है।

उन्होंने कहा कि सेवा के अधिकार में अधिसूचित सेवाएं ऑनलाईन भी उपलब्ध होनी चाहिए। ई-डिस्ट्रिक्ट में वर्तमान की सेवाओं के साथ ही अन्य सेवाओं को भी शामिल किया जाए। जो जिला इसमें बेहतर प्रदर्शन करेगा, उसे पुरस्कृत किया जाएगा। विभागों को डिजी-लॉकर से जोड़ने के लिए सचिव समिति द्वारा विचार किया जाए। एक ही एप्प के अंतर्गत सभी सुविधाएं उपलब्ध हों।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सेवा के अधिकार में सेवाएं निर्धारित समय में दी जा रही है या नहीं, इसके लिए सतत मॉनिटरिंग की जाए। सीएम हेल्पलाईन पर वर्तमान में प्रातः 8 बजे से रात्रि 10 बजे तक संचालित की जा रही है। रात्रि 10 बजे से सुबह 8 बजे तक जो भी कॉल आती हैं, उनकी रिकार्डिंग की व्यवस्था की जाए और उन्हें संबंधित अधिकारियों को अग्रसारित किया जाए।

सीएम हेल्पलाईन में सभी स्तरों के अधिकारियों की परफोरमेंस वेल्युशन किया जाए। लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवाही की जाए। प्रत्येक ब्लॉक में एक-एक डिजीटल विलेज के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। ड्रोन एप्लीकेशन सेंटर का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। ताकि अधिक से अधिक छात्र इसका लाभ उठा सकें।

बैठक में बताए गए मुख्य बिंदु –

स्टेट डाटा सेंटर के अंतर्गत वर्तमान में 12 विभाग जुड़े

स्वान से 1474 कार्यालय जुड़ चुके हैं

मार्च 2020 तक 164 कार्यालय और जोड़ दिए जाएंगे

इन्वेस्टर्स समिट के बाद आईटी में 2286 करोड़ रूपए की ग्राउंडिंग हो चुकी है

सीएम डेशबोर्ड से 33 विभाग जुड़े हैं

पीएमजी-दिशा  में युवाओं को डिजीटल साक्षरता की ट्रेनिंग दी जा रही है

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending