Connect with us

मुख्य समाचार

चुनाव आयोग का ईवीएम हैकेथॉन शुरू, NCP और CPM ने स्वीकारा चैलेंज

Published

on

नई दिल्ली। चुनाव आयोग (ईसी) द्वारा प्रस्तावित ईवीएम चुनौती कार्यक्रम (ईवीएम हैकेथॉन) शनिवार को अपने पूर्व निर्धारित समय पर सुबह 10 बजे शुरू हो गया। इस चुनौती के लिए तीन राज्यों से 14 वोटिंग मशीनों को लाया गया है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार राकांपा (एनसीपी) और माकपा (सीपीएम) ने अपने तीन-तीन प्रतिनिधियों को नामांकित किया है।

बताया जा रहा है कि ये लोग एथिकल हैकर्स हैं और इलेक्ट्रॉनिक की फील्ड से हैं। आयोग ने उन राज्यों से मशीनें मंगाई हैं, जहां हाल में चुनाव सम्पन्न हुए। पंजाब के पटियाला, बठिंडा, उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद व उत्तराखंड के देहरादून में इस्तेमाल हुई ईवीएम मंगवायी गई हैं।

बता दें कि सीपीएम ने पहले ही मान लिया है कि ईवीएम टैंपर प्रूफ है, लेकिन वह एक मौके का इस्तेमाल करना चाहती हैं और देखना चाहती है कि क्या कुछ ऐसा हो सकता है। राकांपा और माकपा ने अपने तीन-तीन प्रतिनिधियों को इस चुनौती के लिए नॉमिनेट किया है। यह चुनौती दो अलग-अलग हॉल में एक साथ चल रही है।

उधर नैनीताल हाईकोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग के ईवीएम चैलेंज के खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया। हाईकोर्ट का कहना है कि आयोग को पूरा अधिकार है कि वह अपना संदेह दूर करे। हाईकोर्ट के इस फैसले को आयोग की जीत के तौर पर देखा जा रहा है।

इससे पहले देश में कई राजनीतिक दलों ने चुनावों में अपनी हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ा था। आयोग ने इस पर ऐतराज जताया और साफ कहा कि ईवीएम हैकिंग प्रूफ है। इसके बावजूद राजनीतिक दल अपने आरोपों पर कायम रहे। ईवीएम पर उठ रहे प्रश्नों का जवाब देने और चुनाव आयोग पर लोगों का विश्वास बनाए रखने के लिए ईवीएम हैकेथॉन का आयोजन किया गया है।

खेल-कूद

अब बिरयानी के लिए तरसेंगे पाकिस्तान के खिलाड़ी, जानिए वजह

Published

on

नई दिल्ली। पाकिस्तान के नए कोच मिस्बाह-उल-हक ने कोच बनते ही खिलाड़ियों के बिरयानी और मिठाई खाने पर बैन लगा दिया है। मिस्बाह ने ऐसा खिलाड़ियों के फिटनेस ठीक करने के लिए किया है।

आपको बता दें कि वर्ल्ड कप भारत से हार का सामना करने के बाद पाकिस्तान के समर्थकों ने खिलाड़ियों के फिटनेस को लेकर सवाल उठाए थे।

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज भारत से हारने के बाद पाकिस्तान की जनता के निशाने पर आ गए थे। उनकी फिटनेस को लेकर जनता ने उन्हें खूब ट्रोल किया था।

रिपोर्ट के अनुसार, मिस्बाह ने राष्ट्रीय कैम्प और घरेलू टूर्नामेंट में खिलाड़ियों की डाइट में बदलाव करने की मांग की है ताकि टीम में नया फिटेनस कल्र्चर लाया जाए। उन्होंने खिलाड़ियों को बिरयानी और मिठाइयां खाने से मना किया है।

पाकिस्तान के पत्रकार साज सद्दीक ने ट्वीट किया, “खबरों के अनुसार, मिस्बाह-उल-हक ने घरेलू टूनार्मेट और राष्ट्रीय कैम्प में खिलाड़ियों के लिए आहार और पोषण की योजना को बदल दिया है। अब खिलाड़ियों के लिए बिरयानी या मिठाइयां नहीं होगीं।”

मिस्बाह और वकार यूनिस के मार्गदर्शन में अपनी पहली सीरीज में पाकिस्तान का सामना श्रीलंका से होगा। पाकिस्तान अपने घर में श्रीलंका के खिलाफ 27 सितंबर से नौ अक्टूबर के बीच तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending