Connect with us

मुख्य समाचार

चुनाव आयोग का ईवीएम हैकेथॉन शुरू, NCP और CPM ने स्वीकारा चैलेंज

Published

on

नई दिल्ली। चुनाव आयोग (ईसी) द्वारा प्रस्तावित ईवीएम चुनौती कार्यक्रम (ईवीएम हैकेथॉन) शनिवार को अपने पूर्व निर्धारित समय पर सुबह 10 बजे शुरू हो गया। इस चुनौती के लिए तीन राज्यों से 14 वोटिंग मशीनों को लाया गया है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार राकांपा (एनसीपी) और माकपा (सीपीएम) ने अपने तीन-तीन प्रतिनिधियों को नामांकित किया है।

बताया जा रहा है कि ये लोग एथिकल हैकर्स हैं और इलेक्ट्रॉनिक की फील्ड से हैं। आयोग ने उन राज्यों से मशीनें मंगाई हैं, जहां हाल में चुनाव सम्पन्न हुए। पंजाब के पटियाला, बठिंडा, उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद व उत्तराखंड के देहरादून में इस्तेमाल हुई ईवीएम मंगवायी गई हैं।

बता दें कि सीपीएम ने पहले ही मान लिया है कि ईवीएम टैंपर प्रूफ है, लेकिन वह एक मौके का इस्तेमाल करना चाहती हैं और देखना चाहती है कि क्या कुछ ऐसा हो सकता है। राकांपा और माकपा ने अपने तीन-तीन प्रतिनिधियों को इस चुनौती के लिए नॉमिनेट किया है। यह चुनौती दो अलग-अलग हॉल में एक साथ चल रही है।

उधर नैनीताल हाईकोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग के ईवीएम चैलेंज के खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया। हाईकोर्ट का कहना है कि आयोग को पूरा अधिकार है कि वह अपना संदेह दूर करे। हाईकोर्ट के इस फैसले को आयोग की जीत के तौर पर देखा जा रहा है।

इससे पहले देश में कई राजनीतिक दलों ने चुनावों में अपनी हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ा था। आयोग ने इस पर ऐतराज जताया और साफ कहा कि ईवीएम हैकिंग प्रूफ है। इसके बावजूद राजनीतिक दल अपने आरोपों पर कायम रहे। ईवीएम पर उठ रहे प्रश्नों का जवाब देने और चुनाव आयोग पर लोगों का विश्वास बनाए रखने के लिए ईवीएम हैकेथॉन का आयोजन किया गया है।

प्रादेशिक

जामिया हिंसा मामलाः दिल्ली पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट, शरजील का नाम भी शामिल

Published

on

नई दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ पिछले साल 15 दिसंबर को प्रदर्शन के दौरान जामिया क्षेत्र में हुई हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट दायर कर दी है।

जानकारी के अनुसार चार्जशीट में करीब सौ लोगों के बयान शामिल हैं, दिल्ली पुलिस की चार्जशीट के मुताबिक हिंसा वाली जगह खाली कारतूस भी मिले थे। इस चार्जशीट में शरजील इमाम का भी नाम शामिल है।

दिल्ली के जामिया नगर क्षेत्र और एनएफसी मार्केट के पास हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने बीते 13 फरवरी को गोपनीय तरीके से साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। इस चार्जशीट में क्या बड़े खुलासे हुए हैं, एक नज़र डालिए…

–    पुलिस की जांच में पता लगा है कि हिंसा वाले इलाके से 3.2 MM के खाली कारतूस मिले हैं।

–    सीसीटीवी, सीडीआर और सबूत के तौर पर करीब 100 गवाहों के बयान पुलिस ने चार्जशीट में दाखिल किए हैं। एक आरोप पत्र में शरजील इमाम का नाम भी शामिल किया गया है।

–    हिंसा का आरोपी कौन है इसका पता लगाने के लिए दिल्ली पुलिस ने पहचान और तस्वीरें भी साझा की हैं।

–    इस हिंसा को लेकर अभी तक कुल 17 गिरफ्तारियां हुई हैं। इनमें 9 NFC और 8 जामिया इलाके से हुई हैं। हालांकि, चार्जशीट में किसी छात्र का नाम नहीं है।

–    दिल्ली पुलिस ने धारा 307, 147, 148,149, 186, 353, 332, 427 और अन्य धारा के तहत चार्जशीट दाखिल की है।

–    चार्जशीट के मुताबिक, 15 दिसंबर को हुई हिंसा में 95 लोग घायल हुए थे। इनमें 47 पुलिसकर्मी हैं।

–    उपद्रवियों ने हिंसा के दौरान 6 बसें, 3 निजी वाहनों को क्षतिग्रस्त किया।

–    अपनी चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने PFI का भी उल्लेख किया और रोल की जांच की बात कही है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending