Connect with us

ऑफ़बीट

वर्कर्स को तनाव मुक्त रखना है तो कंपनियां अपनाएं ये उपाय

Published

on

नई दिल्ली। अगर कंपनियां अपने कर्मचारियों को खुश रखना चाहती हैं, तो उन्हें अत्यधिक कामकाज के माहौल में अपने कर्मियों को तनाव मुक्त रहने में मदद करनी चाहिए। अपने कर्मियों को समय-समय पर सिर व पैर की मालिश की सुविधा और कॉफी-ब्रेक देकर खुश रख सकते हैं।

उपभोक्ता समीक्षा वेबसाइट ‘माउथशट’ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी व संस्थापक फैसल फारूकी, ‘क्यूडेक टेक्नोलॉजीज’ की कमालिका भट्टाचार्य और सौंदर्य सेवाएं प्रदान करने वाले ऑनलाइन पोर्टल ‘बिगस्टाइलिस्ट’ की संस्थापक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी रिचा सिंह ने इस संबंध में कुछ अनुभव साझा किए हैं।

* पैर की रिफ्लेक्सोलॉजी (तनाव कम करने के लिए दी जाने वाली मालिश की एक प्रक्रिया) या सिर की मालिश तुरंत एक तनावपूर्ण कमकाजी दिन को खुशनुमा कर सकती है। भारत में कई कंपनियां अब अपने कर्मचारियों को खुश रखने के लिए ‘कॉरपोरेट पेंपर डेस’ या ‘एप्रीशियेशन डेस’ जैसी गतिविधियां आयोजित कर रही हैं। इस तरह की पहल कार्यस्थल पर मनोबल बढ़ाने और उत्पादकता में वृद्धि करने में मदद करती है।

* ऑफिस पॉटलक : यह एक उत्कृष्ट टीम-निर्माण गतिविधि है, जिसमें कर्मियों को खाना पकाने और अपनी प्रस्तुति के आधार पर ब्राउनी अंक मिलते हैं।

* चिल्ड-आउट वर्कप्लेस : कार्यालय के अंदर कुछ खेलों का आयोजन कर्मियों के लिए बेहद मददगार हो सकता है। समय-समय पर ऐसी गतिधियां कर्मियों को तनाव मुक्त रखने के लिए बेहद मददगार हैं।

* कॉफी या चाय अंतराल : तनाव मुक्त होने के लिए सर्वश्रेष्ठ तरीकों में शामिल है कि कोई आपसे आपके गुजर रहे दिन के बारे में बात करे। कामकाज, घर की समस्याओं या फिर केवल गपशप कर भी अपनी परेशानियों और तनाव को कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

‘कॉफी ब्रेक बडीज’ तनाव मुक्त करने के लिए सबसे अच्छे साथी साबित हो सकते हैं, जो आपकी जरूरत के मुताबिक आपसे बात करने के लिए कैफेटेरिया में आते हैं। ये लोग ध्यान रखते हैं कि कोई व्यक्ति कभी अकेला, बोर या भूखा न हो।

* संगीत : यह मस्तिष्तक, आत्मा और शरीर को तनाव मुक्त रखने और सुकून पहुंचाने के सबसे अच्छे तरीकों में से एक है। ऐसे कामकाजी स्थलों में जहां कर्मियों को संगीत सुनाया जाता है या फिर वहां हल्का और मंद संगीत बजता रहता है, वहां कर्मी अत्यधिक बेहतर और आराम की स्थिति में रहते हैं। म्यूजिक थेरेपी को भी तनाव दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

Continue Reading

ऑफ़बीट

ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर जमकर वायरल हो रहे हैं ये फनी मीम्स, आप भी देखें

Published

on

नई दिल्ली। मोटर वीकल एक्ट में संशोधन के बाद 1 सितंबर से कुछ राज्यों को छोड़कर ये नया कानून पूरे देश में लागू हो गया। नए कानून के मुताबिक सड़क पर गाड़ी से चलते समय नियमों को तोड़ने पर आपको 10 गुना ज्यादा तक जुर्माना भरना पड़ सकता है।

नियम लागू होने के बाद कई लोगों के हजारों के चालान कट चुके हैं। नए नियम के मुताबिक हेलमेट न होने पर आपको 1000 रुपए का जुर्माना देना होगा। वहीं शराब पीकर गाड़ी चलाने पर आप पर 10 हजार का जुर्माना लगेगा।

वहीं गाड़ी चलाने वाला अगर नाबालिग है तो इसके लिए 25 हजार रुपए का जुर्माना तय किया गया है। सोशल मीडिया पर चालान को लेकर इन दिनों कई फनी मीम्स खूब वायरल हो रहे हैं। आईए देखते हैं इन फनी मीम्स को…

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending