Connect with us

मुख्य समाचार

फाइनल के टिकट के लिए आज जोर आजमाइश करेंगे कोलकाता-मुंबई

Published

on

बेंगलरू। दो-दो बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का खिताब जीत चुकीं मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीमें 10वें संस्करण में एक और खिताब के लिए फाइनल में पहुचना चाहेंगी। इसी मकसद से दोनों टीमें आज एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में दूसरे क्वालिफायर में आमने-सामने होंगी।

इस मैच को जीतने वाली टीम रविवार को फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट के खिलाफ खिताब के लिए भिड़ेंगी। कोलकाता ने बारिश से बाधित इलिमिनेटर मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर दूसरे क्वालीफायर में कदम रखा। मुंबई को पहले क्वालीफायर मैच में पुणे ने 20 रनों से हराया था। पुणे से हारकर रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम को दूसरे क्वालीफायर में उतरने के लिए बाध्य होना पड़ा।

इस साल मुंबई के पास पारी की शुरुआत के लिए लेंडल सिमंस और पार्थिव पटेल जैसे मजबूत सलामी बल्लेबाज हैं, वहीं कप्तान रोहित, अंबाती रायडू, केरन पोलार्ड जैसे दमदार बल्लेबाज भी हैं। टीम को जरूरत के वक्त पांड्या बंधुओं- हार्दिक और क्रुणाल- ने अच्छे प्रदर्शन के दम पर संभाला है।

मुंबई की गेंदबाजी की बात की जाए, तो उसके पास श्रीलंकाई के लासिथ मलिंगा और न्यूजीलैंड के मिशेल मैक्लेघन हैं, वहीं अंतिम ओवरों में खेल को पलटने के लिए टीम के पास जसप्रीत बुमराह हैं।

वहीं, कोलकाता के पास कप्तान गौतम गंभीर, रॉबिन उथप्पा और क्रिस लिन जैसे बल्लेबाज हैं, जो किसी भी स्थिति में टीम को संभाल सकते हैं।

पिछले मैच में हैदराबाद के खिलाफ कोलकाता के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। चोट से वापसी करने वाले नाथन कल्टर नाइल ने तीन अहम विकेट लेकर हैदराबाद की पारी को 128 रनों पर रोकने में अहम भूमिका निभाई थी।

नाइल के अलावा टीम के पास उमेश यादव, पीयूष चावला, कुलदीप यादव, ट्रेंट बाउल्ट जैसे गेंदबाज हैं।

टीमें :

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), लेंडल सिमंस, मिशेल जॉनसन, मिशेल मैक्लेघन, नीतीश राणा, पार्थिव पटेल (विकेटकीपर), सौरभ तिवारी, श्रेयस गोपाल, टिम साउदी, लसिथ मलिंगा, क्रुणाल पांड्या, केरन पोलार्ड, अंबाती रायडू, असेला गुणारत्ने, हरभजन सिंह, हार्दिक पांड्या, जगदीश सुचित, जसप्रीत बुमराह, कर्ण शर्मा और विनय कुमार।

कोलकाता नाइट राइडर्स : गौतम गंभीर (कप्तान), डारेन ब्रावो, ट्रेंट बाउल्ट, पीयूष चावला, नाथन कल्टर नाइल, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, ऋषि धवन, सायन घोष, शेल्डन जैक्सन, इशांक जग्गी, कुलदीप यादव, क्रिस लिन, सुनील नरेन, मनीष पांडे, यूसुफ पठान, अंकित राजपूत, सूर्यकुमार यादव, रॉबिन उथप्पा (विकेटकीपर) और उमेश यादव।

उत्तराखंड

सीएम त्रिवेंद्र ने सचिवालय में की अहम बैठक, लापरवाह अधिकारियों पर हो सकती है कार्रवाई

Published

on

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में सीएम डेशबोर्ड पर केपीआई के आधार पर सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की समीक्षा की है।

उन्होंने कहा कि सेवा के अधिकार में अधिसूचित सेवाएं ऑनलाईन भी उपलब्ध होनी चाहिए। ई-डिस्ट्रिक्ट में वर्तमान की सेवाओं के साथ ही अन्य सेवाओं को भी शामिल किया जाए। जो जिला इसमें बेहतर प्रदर्शन करेगा, उसे पुरस्कृत किया जाएगा। विभागों को डिजी-लॉकर से जोड़ने के लिए सचिव समिति द्वारा विचार किया जाए। एक ही एप्प के अंतर्गत सभी सुविधाएं उपलब्ध हों।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सेवा के अधिकार में सेवाएं निर्धारित समय में दी जा रही है या नहीं, इसके लिए सतत मॉनिटरिंग की जाए। सीएम हेल्पलाईन पर वर्तमान में प्रातः 8 बजे से रात्रि 10 बजे तक संचालित की जा रही है। रात्रि 10 बजे से सुबह 8 बजे तक जो भी कॉल आती हैं, उनकी रिकार्डिंग की व्यवस्था की जाए और उन्हें संबंधित अधिकारियों को अग्रसारित किया जाए।

सीएम हेल्पलाईन में सभी स्तरों के अधिकारियों की परफोरमेंस वेल्युशन किया जाए। लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवाही की जाए। प्रत्येक ब्लॉक में एक-एक डिजीटल विलेज के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। ड्रोन एप्लीकेशन सेंटर का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। ताकि अधिक से अधिक छात्र इसका लाभ उठा सकें।

बैठक में बताए गए मुख्य बिंदु –

स्टेट डाटा सेंटर के अंतर्गत वर्तमान में 12 विभाग जुड़े

स्वान से 1474 कार्यालय जुड़ चुके हैं

मार्च 2020 तक 164 कार्यालय और जोड़ दिए जाएंगे

इन्वेस्टर्स समिट के बाद आईटी में 2286 करोड़ रूपए की ग्राउंडिंग हो चुकी है

सीएम डेशबोर्ड से 33 विभाग जुड़े हैं

पीएमजी-दिशा  में युवाओं को डिजीटल साक्षरता की ट्रेनिंग दी जा रही है

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending