Connect with us

ऑफ़बीट

खुद से बातें करते हैं तो आप अपने काम में फोकस्ड हैं

Published

on

फोकस्ड, रिसर्च, कामकाज, काम

वाशिंगटन। काम करते वक्त या कोई खेल खेलते वक्त अगर कोई खुद से बात करना है तो आमतौर पर हम इसे सामान्य नहीं मानते। लेकिन हाल ही हुई एक रिसर्च में सामने आया है कि जो लोग कामकाज के वक्त खुद से बातें करते हैं, वह चुप होकर काम करने वाले लोगों की तुलना में अपने काम पर ज्यादा अच्छे तरीके से फोकस कर पाते हैं।

फोकस्ड, रिसर्च, कामकाज, काम

बेंगर यूनिवर्सिटी में हुए एक अध्‍ययन में साइकॉलजिस्ट्स ने 28 लोगों को लिखित निर्देश दिए और उनसे इन निर्देशों को मन में या बोलकर पढ़ने को कहा।

इस दौरान उनकी परफॉर्मेंस और कॉन्सनट्रेशन को परखा गया। शोधार्थियों ने पाया कि जिन लोगों ने निर्देशों को बोलकर पढ़ा, उनके दिमाग ने तथ्यों को उन लोगों की तुलना में अधिक अब्जॉर्ब किया, जिन्होंने इन्हें मन में पढ़ा।

न्यूरॉसाइकॉलजी ऐंड कॉगनेटिव साइकॉलजी की लेक्चरर और शोध से जुड़ी डॉक्टर पलोमा मेरी-बेफा के अनुसार ‘हमारे शोध में सामने आया है कि परफॉर्मेंस के दौरान जब हम खुद से बात करते हैं तो हमारी परफॉर्मेंस कहीं अधिक बेहतर होती है।

खासतौर पर जब हम मन में बोलने की जगह लाउड बोलकर बात करते हैं।’ जब हमारा ध्यान अपने काम पर लगा हो और हम बोलकर खुद से बात कर रहे हों, तो यह इस बात का प्रतीक या सिंबल है कि हमारा पूरा फोकस अपने काम पर है।

अन्तर्राष्ट्रीय

चोर का कारनामा, फल को बनाया बम और लूट लिया पूरा बैंक

Published

on

नई दिल्ली। इजराइल में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक शख्स ने एवकैडो फल को बम की तरह पेंटकर बैंक में डाका डाल दिया।

डैकेती के लिए शख्स ने सबसे पहले एवोकैडो को ग्रेनेड की तरह रंग दिया फिर कैशियर को डराकर बैंक के पैसे लूट लिए। हैरानी की बात ये कि लूटेरे ने दूसरी बार इस तरह की चोरी की है।

इससे पहले भी उसने इसी पैटर्न पर बैंक लाखों का चूना लगाया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मई के महीने में शख्स सीधे बैंक के अंदर पहुंच गया और कैशियर को एक पर्ची दिखाई।

इसमें लिखा था, ” जितना भी कैश है वह उसे सौंप दिया जाए।” कैशियर नोट को पढ़कर झिझकने लगा। लुटेरे ने दाहिने हाथ में एवोकैडो को दिखाते हुए कहा, ‘‘पैसे जल्दी से बैग में डाल दो, नहीं तो मैं इस ग्रेनेड को फेंक दूंगा।’’

पेंट किए फल को कैशियर ने ग्रेनेड समझा और रुपए बैग में डाल दिए। हालांकि, बाद में पता चला कि जिसे ग्रेनेड बताया गया था, वह एवोकैडो था।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending