Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

माल्या को भारत लाने को ईडी और सीबीआई की टीम लंदन में

Published

on

माल्या, लंदन, सीबीआई, ईडी

माल्‍या के प्रत्‍यर्पण को ईडी और सीबीआई ने कसी कमर

नई दिल्ली।  कर्ज चुकाए बिना भारत छोड़कर लंदन भागे शराब कारोबारी विजय माल्या का प्रत्यर्पण कराने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक संयुक्त टीम लंदन पहुंच गई है।

माल्या, लंदन, सीबीआई, ईडी

यह भी पढ़ें–जेटली का ऐलान; बेकार नहीं जाएगा जवानों का बलिदान, नहीं बख्शेंगे दोषियों को

 

पांच सदस्यीय संयुक्त टीम में सीबीआई के तीन अधिकारी और ईडी के दो अफसर शामिल हैं। ईडी और सीबीआई की यह संयुक्त टीम सोमवार को लंदन के लिए रवाना हुई थी।

सूत्रों ने कहा कि टीम भारतीय बैंकों का 8,191 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाए बिना मार्च 2016 में भारत छोड़कर ब्रिटेन भागे माल्या का प्रत्यर्पण कराने का प्रयास करेगी।

सरकार का कहना है कि उसकी एजेंसियां माल्या को न्याय के कटघरे में खड़ा करने के लिए उसे भारत वापस लाने का पूरा प्रयास कर रही हैं।

माल्या को पिछले महीने लंदन में गिरफ्तार करने के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया था। मामले की अगली सुनवाई 17 मई को होगी। भारत सरकार ने इस साल फरवरी में ब्रिटिश प्रशासन से माल्या के प्रत्यर्पण का आधिकारिक तौर पर आग्रह किया था।

यह भी पढ़ें–माल्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी, कर्ज लौटाने से हाथ खड़े किए

अन्तर्राष्ट्रीय

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने CAA-NRC को लेकर दिया ये बयान

Published

on

नई दिल्ली। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर बड़ा बयान दिया है।

शेख हसीना ने गल्फ न्यूज को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा कि यह भारत का आंतरिक मामला बताया है। इंटरव्यू में शेख हसीना ने सीएए पर कहा कि हम यह नहीं समझते कि (भारत सरकार) ने ऐसा क्यों किया। यह जरूरी नहीं था।

हसीना का यह बयान बांग्लादेश के विदेश मंत्री ए.के. अब्दुल मोमन बयान के बाद आया है। मोमन ने कहा था कि सीएए और एनआरसी भारत के आंतरिक मुद्दे हैं, लेकिन चिंता व्यक्त की कि देश में किसी भी अनिश्चितता से उसके पड़ोसियों को प्रभावित होने की संभावना होती है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending