Connect with us

नेशनल

दिल्ली में और खतरनाक हुआ कोरोना, बुधवार को 131 लोगों की मौत

Published

on

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना जमकर कहर बरपा रहा है। बुधवार को दिल्ली में कोरोना से 131 लोगों की मौत हो गई। ये दिल्ली में एक दिन में कोरोना से मरने वालों का सार्वाधिक आँकड़ा है। इसके साथ ही दिल्ली में संक्रमण के कुल मामले पांच लाख के पार हो गए हैं, जबकि महामारी से मरने वालों की संख्या 7,943 हो गई है।

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार कोरोना के ये नए मामले एक दिन पहले 62,232 नमूनों की जांच से सामने आए। बुलेटिन के अनुसार दिल्ली में संक्रमित होने की दर 12.03 प्रतिशत है। वर्तमान में शहर में कोरोना के 42,458 मरीजों का इलाज चल रहा है। कोरोना संक्रमण के कुल मामले बढ़कर अब 5,03,084 हो गए हैं।

उधर, दिल्ली में कोरोना के हालात पर चर्चा के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज सुबह 11:00 बजे दिल्ली सचिवालय में सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी, मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी और कांग्रेस को आमंत्रित किया गया है।

कोरोना काल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तरफ से बुलाए जाने वाली यह अपनी तरह की पहली बैठक है। इससे पहले जून के महीने में एक सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी लेकिन वह उपराज्यपाल अनिल बैजल ने अपने निवास स्थान पर बुलाई थी। आज की इस बैठक में आम आदमी पार्टी के दिल्ली संयोजक गोपाल राय और पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज शामिल होंगे।

नेशनल

सीएम योगी के मुंबई दौरे से भड़के उद्धव, कहा- किसी को जबरन कारोबार नहीं ले जाने देंगे

Published

on

मुंबई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दो दिवसीय दौरे पर मुंबई में हैं। मंगलवार को उन्होंने बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार और सिंगर कैलाश खेर से मुलाक़ात की। इस बीच सीएम योगी के मुंबई में फिल्मी सितारों से हो रही इन मुलाकातों के बीच राजनीतिक गलियारों में हड़कंप मच गया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि वह राज्य से किसी को जबरन कारोबार नहीं ले जाने देंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि महाराष्ट्र को किसी की उन्नति से जलन नहीं है, बशर्ते यह निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा के तहत हो। उद्धव ठाकरे ने कहा, “हम किसी की प्रगति से नहीं जलते. अगर कोई प्रतिस्पर्धा करके प्रगति करता है तो हमें कोई दिक्कत नहीं है लेकिन आप जबरन कोई चीज ले जाना चाहेंगे तो मैं ऐसा नहीं होने दूंगा।

निवेशकों को आकर्षित करने के लिए अपने राज्य द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली टैगलाइन ‘मैग्नेटिक महाराष्ट्र’ का उल्लेख करते हुए ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र के पास अपनी संस्कृति और संस्थानों की शक्ति है। ठाकरे ने कहा, “आज कोई व्यक्ति आ रहा है। वे आपसे भी मुलाकात करेंगे और आपको निवेश करने के लिए कहेंगे लेकिन उन्हें महाराष्ट्र की आकर्षण क्षमता का पता नहीं है, यह इतना मजबूत है कि लोग यहां से वहां जाना भूल जाते हैं।

Continue Reading

Trending