Connect with us

मुख्य समाचार

राहुल मिले मोदी से, किसानों का दुख हरने की अपील

Published

on

राहुल

राहुल

नई दिल्ली | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर किसानों के ऋण माफ करने की मांग की और साथ ही उनके बिजली बिलों को भी आधा करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री को सौंपे गए एक एक ज्ञापन में राहुल गांधी और अन्य कांग्रेस नेताओं ने सरकार से फसलों के लिए अधिक न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रदान करने की मांग की।

राहुल के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने किसानों की आत्महत्या का मुद्दा उठाते हुए मोदी से कहा कि किसानों को दिए गए कर्ज भी उसी तरह माफ कर दिए जाएं, जिस तरह कारपोरेट घरानों के कर्ज माफ किए गए हैं। राहुल ने प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा, “देशभर में किसान आत्महत्या कर रहे हैं। पंजाब में हर दिन एक किसान आत्महत्या कर रहा है। हमने प्रधानमंत्री से मिलकर उन्हें देशभर के किसानों की दुर्दशा से अवगत कराया।”

कांग्रेस ने बैठक में घर-घर जाकर एकत्र किए गए पंजाब से 30 लाख और उत्तर प्रदेश से दो करोड़ मांगपत्र भी सौंपे। राहुल ने कहा, “केंद्र सरकार ने कारपोरेट जगत के 1.40 लाख करोड़ रुपये के ऋण माफ किए हैं। हमने उनसे किसानों के ऋण भी माफ करने की अपील की।”

पाटी्र उपाध्यक्ष के नेतृत्व में प्रधानमंत्री से मिलने वाले कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल में लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, पार्टी के पंजाब प्रदेश अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह और अन्य नेता शामिल थे। राहुल ने यह भी कहा कि गेहूं के आयात को शुल्क मुक्त करने का सरकार का फैसला किसानों के लिए ‘बड़ा झटका’ है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष के अनुसार, “प्रधानमंत्री ने भी किसानों की दुर्दशा की बात स्वीकार की, लेकिन उन्होंने किसानों के ऋण माफ करने के बारे में एक शब्द नहीं कहा।” ज्ञापन में कहा गया, “हम तीव्र कृषि संकट और पिछले दो साल से अधिक समय से नुकसान झेल रहे भारतीय किसानों की दुर्दशा की ओर आपका ध्यान आकर्षित करने को विवश हुए हैं।”

ज्ञापन में कहा गया, “भारतीय कृषि गंभीर रूप से दो लगातार पड़े सूखे, बेमौसम बारिश और बाढ़ की वजह से प्रभावित रही है, जिससे देश के 33 करोड़ से अधिक लोगों प्रभावित किया है।”  ज्ञापन में कहा गया है कि लाखों हेक्टेयर खड़ी फसल बर्बाद हुई और कृषि पर निर्भर लाखों किसानों ने अपनी आजीविका को खो दिया था।

यह संकट किसानों के उच्च ऋणग्रस्तता के कारण और बढ़ गया है। विज्ञप्ति के अनुसार, फसल की बर्बादी और अपने कर्ज को चुकाने के लिए अक्षमता और उस पर बढ़ता ब्याज किसानों की बड़ी संख्या के आत्महत्या करने का कारण रहा है।  राहुल ने कहा, “हमारी पहली मांग किसानों का ऋण माफ करने की थी, जैसा पूर्व में संप्रग सरकार कर चुकी है।”

मोदी से मिलने वाले अन्य कांग्रेस नेताओं में आनंद शर्मा, ज्योतिरादित्य सिंधिया, सत्यव्रत चतुर्वेदी, दीपेंद्र हुड्डा, राज बब्बर, प्रमोद तिवारी, रजनी पाटिल, रवनीत सिंह बिट्टू और पी.एल. पुनिया भी शामिल थे।

मोदी से मुलाकात से पहले राहुल प्रधानमंत्री पर ‘भ्रष्टाचार में व्यक्तिगत तौर पर शामिल होने’ का आरोप लगा चुके हैं। भ्रष्टाचार का मामला उस समय का है, जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे।

मनोरंजन

मर्दानी 2 ने बॉक्स ऑफिस पर मचाया धमाल, तीसरे दिन की जबरदस्त कमाई

Published

on

मुंबई। रानी मुखर्जी की फिल्म मर्दानी 2 ने बॉक्स ऑफिस पर शानदार कमाई कर रही है। पहले दिन औसत से भी कम का कलेक्शन करने वाली इस फिल्म ने दूसरे दिन पॉजिटिव वर्ड ऑफ माउथ की वजह से अच्छा बिजनेस किया। अब फिल्म ने तीसरे दिन भी जबरदस्त कमाई की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म ने तीसरे दिन लदूसरे दिन 7.80  करोड़ का कलेक्शन किया। इसी के साथ फिल्म की कुल कमाई 18.15 करोड़ रूपए हो गई है।

फिल्म के 55 करोड़ के बजट को देखते हुए ये दो दिन में अच्छी कमाई ही कही जाएगी। अब उम्मीद यही की जा रही है कि तीसरे दिन यानी रविवार को फिल्म का कलेक्शन और ज्यादा बढ़ेगा।

बता दें कि मर्दानी 2 एक सीरियल किलर की कहानी है जो लड़कियों को अपना निशाना बनाता है। फिल्म में रानी मुखर्जी उस किलर को पकड़ने के मिशन पर निकलती हैं।

फिल्म में रानी की एक्टिंग की काफी तारीफ की जा रही है। रानी के अलावा फिल्म में विशाल जेठवा के किरदार को काफी पसंद किया जा रहा है। उनके इंटेंस किरदार की तारीफ हर तरफ हो रही है।

अब जिस माहौल में गोपी पुथरन निर्देशित मर्दानी 2 रिलीज हुई है, उसको देखते हुए फिल्म के कलेक्शन में और उछाल आने की संभावना है। बताते चले रानी की फिल्म को प्रियंका चोपड़ा के पति निक जोनस की हॉलीवुड फिल्म जुमानजी- द नेक्स्ट लेवल से कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending