Connect with us

मुख्य समाचार

अन्नाद्रमुक नेताओं की अपील, शशिकला संभालें महासचिव का पद

Published

on

Sasikalaa AIADMKचेन्नई। तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने कहा कि महासचिव पद को लेकर पार्टी के अंदर कोई भी मनमुटाव या लड़ाई नहीं है। पार्टी पदाधिकारियों के एक समूह ने दिवंगत नेता जयललिता की विश्वासपात्र वी.के. शशिकला से पार्टी महासचिव का प्रभार ग्रहण करने का आग्रह किया। पार्टी प्रवक्ता सी.आर. सरस्वती ने कहा, हम लोगों ने शशिकला से पार्टी का प्रभार लेने का आग्रह किया है। पार्टी के प्रधान परिषद के अध्यक्ष ई.मधुसूदनन, वालारमाथि, के.ए. सेनगोतैयन, सैदाई दुरईसामी और मैंने शशिकला से आग्रह किया।

उन लोगों ने शशिकला से दिवंगत मुख्यमंत्री व पार्टी की महासचिव जयललिता के पोइस गार्डन आवास पर मुलाकात की। जयललिता को दिल का दौरा पडऩे के बाद सोमवार को मृत घोषित कर दिया गया था।
जयललिता के निधन के बाद पहली बार पार्टी पदाधिकारियों ने शशिकला के पास जाकर प्रभार ग्रहण करने का आग्रह किया।

पार्टी पदाधिकारियों के मुताबिक, शशिकला ने इस आग्रह पर कोई टिप्पणी नहीं की। वे उनके मौन को स्वीकृति मान रहे हैं। जयललिता जब जीवित थीं तो वह मुख्यमंत्री और पार्टी महासचिव दोनों पदों पर थीं। लेकिन माना जा रहा है कि उनके न रहने पर सत्ता के दो केंद्र होंगे। पार्टी जिसके नियंत्रण में होगी, वह ज्यादा शक्तिशाली होगा।

प्रादेशिक

सीएम योगी अचानक पहुंचे लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल, व्यवस्थाओं का लिया जायज़ा

Published

on

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ में बड़े अस्पतालों की व्यवस्थाएं परख रहे हैं।मुख्यमंत्री गुरुवार को दिन में अचानक डॉ़ श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल पहुंचे।

वहां पर उन्होंने अस्पताल के डॉक्टरों के साथ इमरजेंसी तथा अन्य सभी वार्ड का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने सभी डॉक्टर्स तथा अधिकारियों को सतर्कता बरतने के साथ ही इलाज के बेहतर साधनों के प्रयोग करने का निर्देश भी दिया।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य सुविधाओं का निरीक्षण किया और डॉक्टरों के साथ बातचीत की। मुख्यमंत्री ने डॉक्टर आशुतोष दुबे से अस्पताल की व्यवस्थाओं पर बात की।

सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक आशुतोष दुबे ने बताया, “मुख्यमंत्री ने आज सिविल अस्पताल में व्यवस्थाओं का जायजा लिया, यहां पर वह आइसोलेशन वार्ड और इमरजेंसी का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने मरीजों की बेहतर देखभाल करने के लिए निर्देश दिये हैं। हमने उन्होंने बताया कि अभी तक आइसोलेशन वार्ड में हमारे यहां कुल 93 मरीज आ चुके है। जिसमें 3 मरीज पॉजटिव पाए गये हैं और 8 मरीजों की रिपोर्ट आनी बाकी है।”

इससे पहले बुधवार को भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में डॉ.राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान का आकस्मिक निरीक्षण किया था। वहां पर लोगों से बातचीत करके उन्हें मिल रही सुविधाओं तथा अस्पताल की सेवाओं की जानकारी प्राप्त की। इसके बाद चिकित्सकों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना और चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह को अस्पतालों व मेडिकल कलेजों का आकस्मिक निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने, जनता से सीधा फीडबैक प्राप्त करने और व्यवस्थाओं की हकीकत को मौके पर परखने के लिए निरीक्षण किए जाएं।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending